केजरीवाल का मास्टर स्ट्रोक
केजरीवाल का मास्टर स्ट्रोक|संपादित तस्वीर
राज ख़ास

केजरीवाल का फिर मास्टर स्ट्रोक

केजरीवाल सरकार ने ऐलान किया है कि, 200 यूनिट तक बिजली खर्च करने पर किसी तरह का बिल नहीं देना होगा। इस कदम को केजरीवाल का बड़ा मास्टर स्ट्रोक कहा जा रहा है।

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस

राज एक्‍सप्रेस, नई दिल्‍ली। महिलाओं के लिए दिल्ली मेट्रो, डीटीसी और क्लस्टर बसों में मुफ्त यात्रा के बाद अब केजरीवाल सरकार ने ऐलान किया है कि, 200 यूनिट तक बिजली खर्च करने पर किसी तरह का बिल नहीं देना होगा। इस कदम को केजरीवाल का बड़ा मास्टर स्ट्रोक कहा जा रहा है।

लोकसभा चुनाव में दिल्ली की सभी सात संसदीय सीटों पर आम आदमी पार्टी को करारी हार का सामना करना पड़ा। ऐसे में आप के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए अपना राजनीतिक एजेंडा बदल दिया है। अब दिल्ली में अपने सियासी किले को बचाने के लिए केजरीवाल ने कवायद तेज कर दी है। दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले अरविंद केजरीवाल ने मास्टर स्ट्रोक खेला है। पिछले चुनाव में बिजली हाफ का नारा देकर सत्ता में आने वाले केजरीवाल ने इस बार पूरा माफ का नारा दिया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि, 200 यूनिट तक बिजली खर्च करने पर किसी तरह का कोई बिल नहीं देना होगा। इसके अलावा सरकार ने देश में सबसे सस्ती बिजली देने का ऐलान किया है। केजरीवाल ने कहा कि, 200 यूनिट की खपत तक बिजली बिल माफ है। 200 से 400 बिजली यूनिट तक खर्च करने पर सरकार 50 फीसदी सब्सिडी देगी। उन्होंने कहा कि, हमारी साफ नीयत की वजह से बिजली के बिलों में भारी गिरावट आई है।

Raj Express
www.rajexpress.co