जोकोविच के बाद अन्य टेनिस खिलाड़ियों के वीजा की भी जांच कर रहा ऑस्ट्रेलिया
जोकोविच के बाद अन्य टेनिस खिलाड़ियों के वीजा की भी जांच कर रहा ऑस्ट्रेलियाSocial Media

जोकोविच के बाद अन्य टेनिस खिलाड़ियों के वीजा की भी जांच कर रहा ऑस्ट्रेलिया

ऑस्ट्रेलिया सरकार ने शुक्रवार को कहा कि वह ऑस्ट्रेलियन ओपन टूर्नामेंट के लिए बाहर से आए अन्य टेनिस खिलाड़ियों के वीजा और वैक्सीन स्टेटस की भी जांच कर रही है।

मेलबर्न। दुनिया के नंबर एक टेनिस खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच को ऑस्ट्रेलिया में कोरोना प्रोटोकॉल के तहत रोके जाने से उठे बवाल के बीच ऑस्ट्रेलिया सरकार ने शुक्रवार को कहा कि वह ऑस्ट्रेलियन ओपन टूर्नामेंट के लिए बाहर से आए अन्य टेनिस खिलाड़ियों के वीजा और वैक्सीन स्टेटस की भी जांच कर रही है। ऑस्ट्रेलिया की गृह मंत्री करेन एंड्रयूज ने कहा, हमें खुफिया सूचनाओं से संकेत मिला है कि कुछ और ऐसे विदेशी खिलाड़ी हैं जो ऑस्ट्रेलिया में प्रवेश के लिए अनिवार्य आवश्यकताओं को पूरा नहीं कर पाए हैं और हम इसकी जांच कर रहे हैं।

उन्होंने हालांकि ऐसे खिलाड़ियों की संख्या या उनकी पहचान के बारे में कोई जानकारी नहीं दी। एंड्रयूज ने स्पष्ट किया कि स्टार टेनिस खिलाड़ी जोकोविच को ऑस्ट्रेलिया में बंदी नहीं बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वह किसी भी समय वापस जाने के लिए स्वतंत्र हैं, यह उन निर्भर है कि वह कब लौटना चाहते हैं। ऑस्ट्रेलियाई सीमा बल (एबीएफ) उन्हें इसकी सुविधा प्रदान करेगा। गृह मंत्री ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया में प्रवेश के नियम टेनिस खिलाड़ियों सहित सभी व्यक्तियों पर लागू होते हैं।

उन्होंने कहा कि, ऑस्ट्रेलिया में प्रवेश के नियम के मुताबिक विदेशों से आने वाले लोगों को या तो कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज लगे होने चाहिए या उनके पास इस बात का स्वीकार्य प्रमाण होना चाहिए कि, उन्हें चिकित्सा कारणों से वैक्सीन नहीं लगाई जा सकती है। ये नियम प्रसिद्ध टेनिस खिलाड़ियों सहित किसी के लिए भी नहीं झुकेंगे। उल्लेखनीय है कि जोकोविच को फिलहाल मेलबोर्न में अप्रवासियों के लिए बने डिटेंशन होटल में रखा गया है। उन्होंने उनके वीजा रद्द करने के ऑस्ट्रेलियाई सरकार के फैसले को कोर्ट में चुनौती दी है, जिसकी सुनवाई ऑस्ट्रेलियन ओपन टूर्नामेंट शुरू होने से एक हफ्ते पहले सोमवार को होगी। ऐसे में टूर्नामेंट के शेड्यूल को लेकर अब और अनिश्चितता बन गई है।

उल्लेखनीय है कि, इस मामले में जोकोविच के समर्थक भी उनके समर्थन में उतर आए हैं। गुरुवार की तरह शुक्रवार को भी उनके समर्थक उनके समर्थन में मेलबोर्न में उनके होटल के बाहर एकत्रित हुए और झंडे तथा बैनर लेकर प्रदर्शन किया। इस बीच सर्बिया के विदेश सचिव नेमान्जा स्टारोविक ने ऑस्ट्रेलिया से कहा है कि दुनिया के नंबर एक टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच को किसी बेहतर होटल में ठहराया जाए। जोकोविच वीजा रद्द होने के बाद से ऑस्ट्रेलिया के सरकारी प्रवासी डिटेंशन होटल में रह रहे हैं। इससे पहले विक्टोरिया की सरकार ने कहा था कि ऑस्ट्रेलिया के टेनिस बोर्ड ने उन्हें प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन की सरकार के पत्र के बारे में नहीं बताया था, जिसमें यह कहा गया था कि जोकोविच को वैक्सीन न लगवाने पर प्रवेश की छूट नहीं दी जाएगी।

स्टारोविक ने कहा, हम उम्मीद करते हैं कि राजदूत को खुद इस बारे में कुछ करना चाहिए, दुनिया के नंबर एक टेनिस खिलाड़ी को बेहतर वातावरण मिलना चाहिए। वह कोई अपराधी या अवैध प्रवासी नहीं हैं। सर्बिया के लोगों को लगता है कि जोकोविच ऑस्ट्रेलिया की राजनीति का शिकार हुए हैं। " वहीं सर्बिया के राष्ट्रपति एलेक्जेंडर वुसिक ने जोकोविच का समर्थन करते हुए कहा था, '' हमनें अपने नोवाक को बताया है कि पूरा सर्बिया उनके साथ है और हमारी संस्थाएं पूरी कोशिश कर रही हैं कि दुनिया के सर्वश्रेष्ठ टेनिस खिलाड़ी के साथ हो रहा भेदभाव जल्द से जल्द खत्म हो।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.