अश्विन बोले करियर के उतार-चढ़ाव में धोनी-सचिन ने निभाई बड़ी भूमिका
अश्विन बोले करियर के उतार-चढ़ाव में धोनी-सचिन ने निभाई बड़ी भूमिका|Neha Shrivastava - RE
खेल

अश्विन बोले करियर के उतार-चढ़ाव में धोनी-सचिन ने निभाई बड़ी भूमिका

रविचंद्रन अश्विन ने कहा है कि उनके करियर में उतार-चढ़ाव के दौरान पूर्व कप्तान धोनी और लीजेंड क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने उनका मनोबल बढ़ाया था।

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस। भारत के अनुभवी ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने कहा है कि उनके करियर में उतार-चढ़ाव के दौरान पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और लीजेंड क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने उनका मनोबल बढ़ाया था। अश्विन भारत के ही नहीं बल्कि दुनिया के बेहतरीन स्पिनरों में से एक हैं। वह अपनी मानसिक और रणनीतिक क्षमता के लिए जाने जाते हैं। लेकिन कई बार करियर में उन्हें उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ा और उस वक्त धोनी तथा सचिन जैसे सीनियर खिलाड़ियों ने उनकी काफी मदद की और उन्हें प्रेरित किया।

ऑफ स्पिनर ने बताया कि 2011 विश्वकप के दौरान सचिन ने उनका मनोबल बढ़ाया था क्योंकि पहली पसंद ऑफ स्पिनर होने के कारण हरभजन सिंह को ज्यादा मौके मिलते थे। उस वक्त किस तरह सचिन ने उन्हें प्रेरित किया और उनका मनोबल बढ़ाया। अश्विन ने स्टार स्पोटर्स की नयी सीरीज माइंड मास्टर्स एमफोर में डब्ल्यूवी रमन से कहा, ''सचिन उस दौरान मेरे पास आए और उन्होंने कहा कि तुम नेट्स पर अच्छी गेंदबाजी करते हो, ऐसी ही गेंदबाजी मैच के दौरान भी करना।"

उन्होंने बताया कि 2013 चैंपियंस ट्राफी के दौरान जब वह अपने अभियान की शुरुआत उम्मीद के अनुरुप नहीं कर पाए थे, तो उस वक्त धोनी ने उनका मनोबल बढ़ाया था औऱ इसके बाद उन्होंने टीम की जीत में अहम योगदान दिया था। अश्विन ने कहा, ''धोनी चैंपियंस ट्राफी के पहले मैच में मेरे पास आए और उन्होंने कहा कि तुम बेहतरीन गेंदबाजी कर रहे हो। उस वक्त मैंने विकेट भी नहीं लिए थे।"

कार्यक्रम में वेस्टइंडीज के लीजेंड क्रिकेटर ब्रायन लारा ने मानसिक कौशल टैनिंग पर कहा, ''प्रतिभा एक चीज है लेकिन इसके लिए मानसिक तौर पर मजबूत होना जरुरी है जो खेल का एक हिस्सा है। मैंने इस बात पर काफी ध्यान केंद्रित किया है। मेरे अनुसार एक बेहतरीन खिलाड़ी बनने के लिए आपको अपने मानसिक मजबूती पर ध्यान देने की जरुरत है।"

डिस्क्लेमर: यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। सिर्फ शीर्षक में बदलाव किया गया है। अतः इस आर्टिकल अथवा समाचार में प्रकाशित हुए तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co