दो नई आईपीएल टीमों के लिए 17 अक्टूबर को हो सकती है नीलामी
दो नई आईपीएल टीमों के लिए 17 अक्टूबर को हो सकती है नीलामीSocial Media

दो नई आईपीएल टीमों के लिए 17 अक्टूबर को हो सकती है नीलामी

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की ओर से आईपीएल 2022 सीजन के लिए दो नई टीमों की नीलामी आगामी 17 अक्टूबर को की जा सकती है।

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की ओर से आईपीएल 2022 सीजन के लिए दो नई टीमों की नीलामी आगामी 17 अक्टूबर को की जा सकती है। नीलामी की संभावित तारीख दुबई में आईपीएल फाइनल के ठीक दो दिन बाद होने के मद्देनजर टीमों की बोली दुबई या मस्कट में हो सकती है। समझा जाता है कि बीसीसीआई ने बोली लगाने वाली संभावित पार्टियों को नीलामी की अंतिम तिथि और स्थान के बारे में जल्द सूचित किए जाने की जानकारी दी है।

यह भी सामने आया है कि बीसीसीआई ने बोली लगाने वाली पार्टियों को तीन प्रमुख तारीखों 21 सितंबर, पांच अक्टूबर और 17 अक्टूबर को लेकर सूचित किया है। 21 सितंबर तक स्पष्टीकरण मांगा जा सकता है, जबकि आईटीटी (निविदा का निमंत्रण) दस्तावेज पांच अक्टूबर तक खरीद के लिए उपलब्ध होगा और 17 अक्टूबर को नीलामी होने की संभावना है। यह पुष्टि की गई है कि कोई ई-नीलामी नहीं होगी और बंद बोली प्रक्रिया की सदियों पुरानी प्रथा का पालन किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि वर्तमान में प्रत्येक आईपीएल टीम के लिए लीग मैचों की संख्या 14 होती है, जो नई दो टीमों के बाद 18 हो सकती है। अभी प्रत्येक टीम कम से कम सात मैच घरेलू मैदानों पर और सात घर से बाहर खेलती है। वर्तमान में लीग में आठ टीमें हैं और प्रत्येक टीम को समान रूप से सात घरेलू और सात मैच बाहर खेलने को मिलते हैं, लेकिन दो नई टीमों के आने के बाद प्रत्येक टीम नौ मैच घरेलू मैदान और नौ घर से बाहर खेल सकती है, हालांकि बड़ी खिड़की के अभाव के कारण यह संभावना है कि बीसीसीआई समझौते में 14 मैचों के साथ ही रहेगा। 18 लीग मैचों का विकल्प खुला रखा जा सकता है। उपलब्ध खिड़की के आधार पर लीग मैचों की कुल संख्या 74 या 94 हो सकती है।

बीसीसीआई ने वित्तीय जरूरतों को लेकर स्पष्ट करते हुए कहा है कि बोली लगाने वाली प्रत्येक पार्टी की कुल संपत्ति 2500 करोड़ रुपए होनी चाहिए और कंपनी का कारोबार तीन हजार करोड़ रुपए का होना चाहिए। एक संघ के मामले में, बीसीसीआई केवल तीन भागीदारों को अनुमति देगा और उनमें से एक को 2500 करोड़ रुपए की कुल संपत्ति और तीन हजार करोड़ रुपए के कारोबार के उपरोक्त मानदंडों को पूरा करना होगा। नीलामी का आधार मूल्य दो हजार करोड़ रुपए है।

समझा जाता है कि बोली लगाने के दो चरण होंगे, कानूनी और वित्तीय। एक बार कानूनी विभाग द्वारा बोलीदाता के योग्यता मानदंडों से संतुष्ट हो जाने के बाद वित्तीय बोली खोली जाएगी। कोई भी दो से छह शहरों के लिए बोली लगा सकता है। अहमदाबाद, लखनऊ, इंदौर, कटक, गुवाहाटी और धर्मशाला बोली के लिए उपलब्ध शहर हैं। दो उच्चतम बोली लगाने वालों को टीमें दी जाएंगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co