Ganguly's Master Stroke
Ganguly's Master Stroke|Kavita Singh Rathore -RE
खेल

गांगुली का मास्टर स्ट्रोक, BCCI-ECB-CA का सुपर सीरीज़ प्लान!

“कोलकाता के अखबारों में इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया गया है। जिसमें लिखा है कि 2021 से प्रस्तावित इस प्लान में इन तीन देशों के अलावा चौथे देश को भी शामिल किया जा सकता है।”

Neelesh Singh Thakur

हाइलाइट्स :

  • नहीं मिला ICC का रुझान

  • भारत-इंग्लैंड-ऑस्ट्रेलिया खेलेंगे सुपर सीरीज़?

  • ICC और ECB ऑफिशियल्स संग चर्चा की खबरें

  • यूके में ECB संग हाल के दौरे में बना गेम प्लान!

  • फिर ICC के ऑफर को क्यों ठुकराया था तिकड़ी ने?

राज एक्सप्रेस। बीसीसीआई प्रेसिडेंट सौरव गांगुली ने कोलकाता के एक इवेंट में इंडिया, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच ग्लोबल क्रिकेट कैलेंडर बनाकर सालाना लिमिटेड ओवर्स टूर्नामेंट इन देशों के बीच कराने की चर्चा को बल दिया है। कहा तो ये भी जा रहा है, चौथे देश को भी शामिल कर साल 2021 में प्रस्तावित प्लान को और रोचक बनाया जाए। फिर यक्ष प्रश्न ये है कि इन थ्री कंट्रीज़ को इसके पहले ऐसे टूर्नामेंट से जुड़ा ICC का प्लान पसंद क्यों नहीं आया था?

प्लान्स पर चर्चा :

ESPNcricinfo असिस्टेंट एडिटर डेनियल ब्रेट्टिंग के हवाले से रविवार को रिलीज़ आर्टिकल के बाद गर्म हुई चर्चा पर आखिर खुद गांगुली के इस बहस को छेड़ने से आग में घी का काम किया है। नए बीसीसीआई एडमिनिस्ट्रेशन के भविष्य में क्रिकेट खेल के शेड्यूल शेप पर क्या प्लान्स होंगे। इस बारे में गांगुली ने बताया कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ईसीबी (इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड) और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) के साथ चार देशों के टूर्नामेंट्स के आयोजनों को लेकर चर्चा के दौर में हैं। ये टूर्नामेंट रोटेशन नीति से हर साल होंगे।

फिर ICC का क्या ?

तीनों देशों के एकाएक आइडिये से इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल के सपनों पर पानी फिर सकता है। अंतरराष्ट्रीय संस्था ने सदस्य देशों के साथ इस साल की शुरुआत में आईसीसी के 2023 से शुरू होने वाले ग्लोबल इवेंट्स चक्र से हर साल मेंबर कंट्रीज़ के लिए रेवेन्यू जुटाने एक दिवसीय मैचों के टूर्नामेंट पर चर्चा की थी।

फैंटसी क्रिकेट ऐप के एक इवेंट में इस मामले में जानकारी मिलने के हवाले से कोलकाता के अखबारों में इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया गया है। खबर में लिखा है कि 2021 से प्रस्तावित इस प्लान में इन तीन देशों के अलावा चौथे देश को भी शामिल किया जा सकता है।

इंडिया फर्स्ट :

इस खास टूर्नामेंट का पहला आयोजन भारत में होने की जानकारी दी गई है। सोशल मीडिया संग खेल जगत से सरोकार रखने वाले पोर्टल्स ने भी इस बात को उछाला है कि ये स्पेशल सीरीज़ का प्लान यूके से खास तिकड़ी के लौटने के बाद सरगर्म होना ही था। दरअसल भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड अध्यक्ष सौरव गांगुली, बीसीसीआई सेक्रेटरी जय शाह और कोषाध्यक्ष अरुण धूमल के संग यूके से हाल ही में लौटे हैं।

संभावना जताई जा रही है कि तीनों देशों के इस फैसले से टूर्नामेंट के आयोजन के लिए अलग-अलग समय मिल सकेगा। जैसे भारत में आयोजन के लिए अक्टूबर-नवंबर, सितंबर इंग्लैंड के लिए और अक्टूबर-नवंबर और फरवरी-मार्च ऑस्ट्रेलिया के लिए।

इस मुलाकात के मायने :

हाल ही में सीए चेयर अर्ल एडिंग्स और मुख्य कार्यकारी केविन रॉबर्ट्स के साथ ICC के मुख्य कार्यकारी मनु साहनी की मेलबोर्न में एक बैठक में गांगुली की लंदन यात्रा के अलावा, वैश्विक खेल के भविष्य के आकार के बारे में गहन चर्चा हुई। ऐसे में संभावना बलवती हो रही है कि ऑस्ट्रेलिया के भारत में एकदिवसीय दौरे के दौरान जनवरी में गांगुली और बीसीसीआई के साथ एडिंग्स और रॉबर्ट्स भी बैठे नज़र आ सकते हैं।

माना जा रहा है कि ऑस्ट्रेलिया में अगले साल होने वाले पुरुषों के टी 20 विश्व कप से पहले वार्म-अप मैचों के लिए भी कंगारू, विंडीज और इंडिया तैयार हैं। क्रिकइन्फो की रिपोर्ट के मुताबिक जब बीसीसीआई की योजनाओं के बारे में सीए के प्रवक्ता से संपर्क किया गया तो उन्होंने टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। न्यूज़ीलैंड भी प्रभावी चौथा दावेदार है।

ESPNcricinfo का दावा :

हालांकि ईएसपीएनक्रिकइंफो का कहना है कि, एडिंग्स ने पहले अपनी अनिच्छा जाहिर कर कहा है कि ऐसा नहीं होना चाहिए कि दुनिया की प्रमुख वित्तीय शक्तियां फिर से खुद को बाकी सदस्य देशों से अलग कर लें। जो कि अपनी वित्तीय मदद के लिए आईसीसी के इवेंट्स से बड़े पैमाने पर राजस्व के लिए निर्भर हैं।

इन कंट्रीज़ पर असर :

बिग थ्री कंट्रीज़ के इस तरह आयोजन शुरू करने से बांग्लादेश, पाकिस्तान, ज़िम्बॉब्वे जैसे देशों में क्रिकेट के तो लाले ही पड़ जाएंगे। पाकिस्तान में किसी तरह जाकर खेलने वाले श्रीलंकाई खिलाड़ियों के पाकिस्तान में रहने-खाने तक की खबरें सुर्खियां बन चुकी हैं। खैर क्रिकेट के भले के लिए यदि ऐसा करने का प्लान है तो फिर राय बुरी नहीं। आपका क्या कहना है?

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co