भारत-इंग्लैंड सीरीज में दर्शकों को शामिल करने की संभावना तलाश रहा बीसीसीआई
भारत-इंग्लैंड सीरीज में दर्शकों को शामिल करने की संभावना तलाश रहा बीसीसीआईSocial Media

भारत-इंग्लैंड सीरीज में दर्शकों को शामिल करने की संभावना तलाश रहा बीसीसीआई

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) भारत और इंग्लैंड के बीच चेन्नई में खेले जाने वाले दूसरे टेस्ट मैच के दौरान दर्शकों को शामिल करने की संभावना तलाश रहा है।

राज एक्सप्रेस। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) भारत और इंग्लैंड के बीच चेन्नई में खेले जाने वाले दूसरे टेस्ट मैच के दौरान दर्शकों को शामिल करने की संभावना तलाश रहा है। दोनों टीमों के बीच दूसरा टेस्ट मुकाबला 13 फरवरी से शुरु होना है। भारत और इंग्लैंड के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज पांच फरवरी से शुरु होगी और इसका दूसरा मुकाबला चेन्नई में 13 फरवरी से खेला जाएगा। इस मुकाबले में दर्शकों को शामिल करने पर बीसीसीआई चर्चा कर रहा है और इसकी संभावनाएं तलाश रहा है।

तमिलनाडु क्रिकेट संघ के सचिव एस रामासामी ने क्रिकबज से कहा, ''हमें आधिकारिक तौर पर लिखित में कोई जानकारी नहीं मिली है लेकिन रविवार को बीसीसीआई की तरफ से फोन आया था जिसमें दर्शकों को शामिल करने की संभावना पर बात हुई है। हम सोमवार को बैठक करेंगे कि इसके लिए कुछ किया जा सकता है कि नहीं। पहले और दूसरे टेस्ट के बीच समय काफी कम बचा है। हमारे पास फिलहाल विक्रेता नहीं है और हमने टिकट भी नहीं छापे हैं। हमें देखना होगा कि यह संभव है कि नहीं क्योंकि समय काफी कम बचा है।"

शुरुआत में पहले दो टेस्ट मैचों में दर्शकों को नहीं शामिल करने का फैसला किया गया था और तमिलनाडु क्रिकेट संघ की ओर से इस बारे में बयान भी जारी कर दिया गया था। लेकिन अब ऐसा लग रहा है कि इस फैसले में कुछ परिवर्तन किया जा सकता है। इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के रवैये में भी बदलाव आया है जो चेन्नई में होने वाले मुकाबले में दर्शकों को शामिल नहीं करना चाहते थे। इंग्लैंड टीम के प्रवक्ता ने क्रिकबज को बताया कि टीम सहयोग करने के लिए तैयार है। प्रवक्ता ने कहा, ''दर्शकों को शामिल करने में हमें कोई परेशानी नहीं है। हम बीसीसीआई की रणनीति और प्रोटोकॉल का समर्थन करना चाहते हैं। हम इस संबंध में चर्चा कर रहे हैं और उनके जवाब का इंतजार कर रहे हैं।"

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co