आईपीएल की नई टीमों के जरिए हिंदी भाषी बाजार पर निशाना साध सकता है बीसीसीआई
आईपीएल की नई टीमों के जरिए हिंदी भाषी बाजार पर निशाना साध सकता है बीसीसीआईSocial Media

आईपीएल की नई टीमों के जरिए हिंदी भाषी बाजार पर निशाना साध सकता है बीसीसीआई

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) आईपीएल 2022 सीजन में नई दो टीमों के माध्यम से हिंदी भाषी बाजार पर निशाना साध सकता है।

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) आईपीएल 2022 सीजन में नई दो टीमों के माध्यम से हिंदी भाषी बाजार पर निशाना साध सकता है। बीसीसीआई के एक पदाधिकारी ने इससे पहले पुष्टि की थी कि नई टीमों को शामिल करने के कदम का उद्देश्य लीग के देश भर के संतुलन को ठीक करना है।

समझा जाता है कि बीसीसीआई ने जोनल असंतुलन और व्यापार के अवसरों को ध्यान में रखते हुए छह शहरों गुवाहाटी, रांची, कटक, अहमदाबाद, लखनऊ और धर्मशाला को बिक्री के लिए रखा है। फिलहाल नीलामी की तारीख तय नहीं की गई है, लेकिन इस प्रक्रिया में एक और महीना लगने की उम्मीद है। नई टीमों के लिए दो हजार करोड़ रुपए का आधार मूल्य तय किया गया है।

बीसीसीआई के पास उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार हिंदी भाषी क्षेत्रों में खेलों की खपत इतनी अधिक है कि यह किसी अन्य क्षेत्र की तुलना के करीब भी नहीं आता है। उपलब्ध डेटा के मुताबिक 2020 में स्टार स्पोर्ट्स के आईपीएल कवरेज के चार बिलियन मिनट के 65 प्रतिशत दर्शकों की संख्या हिंदी क्षेत्र से थी।

उल्लेखनीय है कि हाल ही में सोनी पिक्चर्स नेटवर्क बुके का हिंदी भाषी चैनल सोनी टेन 3 देश में नंबर एक स्पोर्ट्स चैनल के रूप में उभरा है। इंग्लैंड और भारत के बीच मौजूदा श्रृंखला के लिए दर्शकों की संख्या का 50.7 प्रतिशत हिस्सा हिंदी स्पोर्ट्स चैनल (सोनी टेन 3) के लिए है, जबकि सोनी सिक्स (अंग्रेजी) के लिए 10.6 प्रतिशत और सोनी टेन 4 (तमिल और तेलुगु) के लिए 0.4 प्रतिशत है। इसी तरह ओलंपिक के दौरान सोनी टेन 3 को 36.4 प्रतिशत दर्शकों ने देखा, जबकि सोनी टेन 1 (अंग्रेजी) को 13.4, सोनी टेन 2 (अंग्रेजी) को 10.6 और सोनी टेन 4 (तमिल और तेलुगु) को 0.5 व्यूवरशिप मिली।

वर्तमान में आईपीएल में उत्तर क्षेत्र से दो टीमें दिल्ली कैपिटल्स और पंजाब किंग्स तथा पूर्व और पश्चिम से क्रमश: कोलकाता नाइट राइडर्स और मुंबई इंडियंस है। क्रिकेट मैपिंग के अनुसार राजस्थान रॉयल्स का गृहनगर जयपुर सेंट्रल जोन के अंतर्गत आता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co