अपनी ही सलाह पर अमल करने का प्रयास कर रहे हैं ब्रॉड
अपनी ही सलाह पर अमल करने का प्रयास कर रहे हैं ब्रॉडSocial Media

अपनी ही सलाह पर अमल करने का प्रयास कर रहे हैं ब्रॉड

स्टुअर्ट ब्रॉड ने कहा, मैं बहुत आगे की सोचने का प्रयास नहीं कर रहा हूं। मेरा ध्यान सिर्फ हर हफ़्ते का आनंद उठाने और अगले हफ़्ते के लिए खुद को वापस तैयार करने पर है।

लंदन। एशेज के बाद नाटकीय रूप से टीम से बाहर किए जाने के बाद तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड ने जो एक चीज सीखी है वह है अगले मैच से अधिक किसी भी बात के बारे में ना सोचना। न्यूजीलैंड के खिलाफ ट्रेंट ब्रिज में शुक्रवार से शुरु होने वाले टेस्ट मैच से पहले ब्रॉड की खुद को यह सलाह है कि वह इस मुकाबले को अपने घरेलू मैदान पर अपने आखिरी टेस्ट मुकाबले के तौर पर ना देखें।

हालांकि नॉटिंघम में अगले साल इंग्लैंड टीम का कोई टेस्ट मैच निर्धारित नहीं है, लेकिन न्यूजीलैंड के खिलाफ 2-0 की अजेय बढ़त लेने की ताक में लगी इंग्लैंड टीम के सदस्य ब्रॉड और जेम्स एंडरसन साथ में लय में आने का लुत्फ़ उठा रहे हैं, जिन्हें वेस्टइंडीज दौरे पर टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था।

ब्रॉड ने कहा, होबार्ट के बाद और सर्दियों के दौरान मेरी सोच में काफी परिवर्तन आया है। मैं बहुत आगे की सोचने का प्रयास नहीं कर रहा हूं। मेरा ध्यान सिर्फ हर हफ़्ते का आनंद उठाने और अगले हफ़्ते के लिए खुद को वापस तैयार करने पर है। जिमी (एंडरसन) इस वर्ष 40 के हो रहे हैं। चार साल पहले, 2018 में क्या वह यह सोच रहे थे कि ओल्ड ट्रैफर्ड में वह अपना आखिरी टेस्ट मैच खेल रहे हैं। संभवत: नहीं। इस तरह की सोच सिर्फ आपसे उस हफ़्ते के आनंद को छीन लेती है। इस सीजन की शुरुआत मैंने यह सोच कर नहीं की कि मुझे आगे इंग्लैंड की शर्ट पहनने का अवसर मिल पाएगा या नहीं। मैं सिर्फ और सिर्फ हर दिन का लुत्फ़ उठा रहा हूं।

न्यूजीलैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में इंग्लैंड की पांच विकेटों से जीत दस टेस्ट मैचों के बाद आई थी और यह नए कप्तान बेन स्टोक्स और टेस्ट के नए मुख्य कोच ब्रेंडन मैकुलम के साथ नए दौर में प्रवेश करने की शुरुआत थी। इससे पहले इंग्लैंड पिछले साल अगस्त महीने में हेडिंग्ले में भारतीय टीम के खिलाफ जीत दर्ज की थी।

पहले टेस्ट में मिली जीत के बाद इंग्लैंड खेमे के माहौल के बारे में ब्रॉड ने कहा, एक टीम के तौर पर यह हमारे लिए मजेदार हफ़्तों में से एक था। आरामदायक माहौल, जिस तरह से हम एक टीम के रूप में बात कर रहे थे। जिस तरह से हमने टारगेट को भेदा वह हमारी मानसिकता को दर्शाता है। चीजें हमारे पक्ष में गईं, नो बॉल इसे एक अलग खेल बना देता है। ब्रॉड उस नो बॉल की बात कर रहे थे जो कॉलिन डि ग्रैंडहोम ने सिर्फ एक रन के निजी स्कोर पर खेल रहे स्टॉक्स को फेंकी थी, और वह उस गेंद पर बोल्ड हो गए थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co