Cheteshwar Pujara, IPL
Cheteshwar Pujara, IPL|Social Media
खेल

टेस्ट में बेस्ट चेतेश्वर पुजारा ने IPL में मौका ना मिलने पर बयां किया दर्द

भारतीय क्रिकेट टीम के टेस्ट विशेषज्ञ बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने आईपीएल में मौका ना मिलने को लेकर बयान दिया है।

Ankit Dubey

राज एक्सप्रेस। भारतीय क्रिकेट टीम के टेस्ट विशेषज्ञ बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने आईपीएल में मौका ना मिलने को लेकर बयान दिया है। आईपीएल में भारतीय क्रिकेट टीम के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज खेलते नजर आते हैं, भारत के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा भी हैं, लेकिन उनके ऊपर लगा टेस्ट विशेषज्ञ का ठप्पा उनको आईपीएल में खेलने नहीं देता। शायद सभी लोग यह मान बैठे हैं कि चेतेश्वर पुजारा केवल टेस्ट क्रिकेट के लिए बने हैं, लेकिन वह ऐसा नहीं मानते, उनके मुताबिक वह भी T20 और सीमित ओवर क्रिकेट में बेहतरीन खिलाड़ी साबित हो सकते हैं, बस मौका मिलने की देर है।

आईपीएल में शुरुआत तो की, लेकिन अब मौका नहीं मिलता...

आईपीएल के पिछले संस्करणों की बात की जाए तो चेतेश्वर पुजारा को कुछ समय तक आजमाया गया, लेकिन उन्हें मौजूदा स्थिति में आईपीएल में नहीं चुना जाता, उन्हें हर ऑक्शन के दौरान नजरअंदाज होना पड़ता है। चेतेश्वर पुजारा को शायद सभी फ्रेंचाइजी मालिक टेस्ट बल्लेबाज समझ ही चुके हैं, लेकिन पुजारा इस धारणा को बदलना चाहते हैं। पुजारा इस बात से नाराज भी हैं, उन्होंने इसे लेकर पीटीआई से बातचीत के दौरान कहा कि,

एक क्रिकेट खिलाड़ी होने के नाते मैं इस तरह से नहीं सोचता फिर भी मैं ऐसा इंसान हूं जो कभी इस तरह का अहम भाव नहीं रखेगा, क्योंकि मैंने देखा है कि आईपीएल नीलामी पेचीदा होती है।

हाशिम आमला जैसे खिलाड़ियों को भी कई बार मौका नहीं मिलता: पुजारा

हाशिम अमला जैसे बड़े खिलाड़ियों को भी नीलामी में खरीदार नहीं मिलता, कई बार अच्छे T20 खिलाड़ी भी नहीं चुने जाते इसलिए मैं इसे लेकर अहम भाव नहीं रखता कि उन्होंने मुझे नहीं चुना, हां मौका मिलने पर मैं आईपीएल खेलना चाहूंगा, लोगों की धारणा है कि मुझ पर टेस्ट खिलाड़ी का ठप्पा लगा है, मैं इसमें कुछ नहीं कर सकता।

सभी प्रारूपों में खेलकर मुझे खुशी होगी

प्रदर्शन ऐसी चीज है जिस पर मैं नियंत्रण कर सकता हूं और मैं ऐसा करूंगा, मैं अभी केवल मौका पाने का इंतजार कर रहा हूं, सभी प्रारूपों में खेलकर मुझे खुशी होगी। जब तक मैं खेलता रहूंगा, तब तक खेल का स्टूडेंट बन कर रहूंगा और सीखने की कोई सीमा नहीं होती, लेकिन जब मुझे मौका मिलेगा, तभी मैं धारणा बदल पाऊंगा।

मुझे मौका मिलना चाहिए

मैं शुरु से कहता आ रहा हूं कि मुझे मौका मिलना चाहिए और मैं एक बार मौका मिलने पर ही यह साबित कर सकता हूं कि मैं सफेद गेंद की क्रिकेट में भी अच्छा प्रदर्शन कर सकता हूं। मैंने लिस्ट-ए क्रिकेट, घरेलू टी-20 क्रिकेट में भी अच्छा प्रदर्शन किया है, मैंने इंग्लैंड में लिस्ट-ए मैचों में भी अच्छा प्रदर्शन किया था।

आपको बता दें चेतेश्वर पुजारा इंग्लैंड में काउंटी क्रिकेट भी खेलते हैं, वह इस समय महामारी के चलते काउंटी क्रिकेट भी नहीं खेल पाएंगे, लेकिन वह इस बात से निराश नहीं है, उन्होंने कहा कि,

हां यह निराशाजनक है, लेकिन हताश करने वाला नहीं, मैं ब्रिटेन इसलिए नहीं जा पाया क्योंकि यह मुश्किल समय है और ऐसे में अपने परिवार के साथ सुरक्षित रहना ज्यादा बड़ी बात है, यह समय अभ्यास को लेकर बहुत ज्यादा चिंता करने का नहीं है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co