कोचिंग स्टाफ, खिलाड़ियों ने हमेशा समर्थन किया : सविता पूनिया
कोचिंग स्टाफ, खिलाड़ियों ने हमेशा समर्थन किया : सविता पूनियाSocial Media

कोचिंग स्टाफ, खिलाड़ियों ने हमेशा समर्थन किया : सविता पूनिया

भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान और गोलकीपर सविता पूनिया ने 'एफआईएच हॉकी स्टार्स अवॉर्ड्स 2021-22' में साल की सर्वश्रेष्ठ महिला गोलकीपर के लिये नामांकित होने पर कोचिंग स्टाफ का आभार व्यक्त किया।

बेंगलुरू। भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान और गोलकीपर सविता पूनिया ने 'एफआईएच हॉकी स्टार्स अवॉर्ड्स 2021-22' में साल की सर्वश्रेष्ठ महिला गोलकीपर के लिये नामांकित होने पर आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उनके साथियों और कोचिंग स्टाफ का समर्थन मददगार साबित हुआ है। पिछले संस्करण में इसी श्रेणी में पुरस्कार जीतने वाली सविता को लगता है कि वह सही दिशा में आगे बढ़ रही हैं।

सविता ने कहा, "मुझे लगातार दो साल नामांकित होकर काफी अच्छा महसूस हो रहा है। दोबारा नामांकित होने से मुझे लगता है कि मैं ट्रेनिंग में सही दिशा में आगे बढ़ रही हूं। कोचिंग स्टाफ और खिलाड़ियों ने काफी समर्थन किया है। हमने हमेशा हर प्रतियोगिता में साथ काम किया है। हम में से किसी के लिए कोई उपलब्धि व्यक्तिगत उपलब्धि नहीं है, बल्कि टीम के प्रयासों का परिणाम है।"

उन्होंने कहा, "एक गोलकीपर के रूप में, मेरा काम यह सुनिश्चित करना है कि टीम मेरे प्रदर्शन से खुशी महसूस करे और हम सभी परिणाम प्राप्त करने में एक-दूसरे की मदद करने का प्रयास करते हैं। यदि हम में से एक को नामांकित किया जाता है, तो टीम के प्रत्येक सदस्य को प्रशंसा मिलती है और मुझे इसी बात से खुशी मिलती है।"

सविता ने एफआईएच महिला प्रो लीग 2021/22 के डेब्यू सीज़न में भारतीय टीम का नेतृत्व किया, जहां टीम तीसरे स्थान पर रही। उन्होंने बर्मिंघम 2022 राष्ट्रमंडल खेलों में भी टीम की कप्तानी की, जहां भारत ने न्यूजीलैंड को 1-1 (2-1 शूटआउट) से हराकर प्रतिष्ठित कांस्य पदक जीता। सविता ने गोलकीपर और कप्तान की दोहरी जिम्मेदारियों पर कहा, "गोलकीपर की स्थिति एक अलग जिम्मेदारी है। एक अनुभवी गोलकीपर के रूप में, मैं हमेशा इस मानसिकता के साथ प्रशिक्षण लेती हूं कि मुझे टीम की मदद करनी है। एक कप्तान के रूप में, आपकी जिम्मेदारी बढ़ जाती है, क्योंकि आपको अपने खेल का ध्यान रखने के साथ-साथ अपनी टीम के प्रदर्शन को भी संभालना होता है।"

उन्होंने कहा, "यह संभव है कि किसी दिन आपकी टीम अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रही हो, इसलिए आपको उन्हें कप्तान के रूप में प्रेरित करना होगा। लेकिन मुख्य कोच जेनेके शोपमैन के साथ काम करते हुए हम जिम्मेदारियों को आपस में बांटने में सक्षम हैं। मुझे लगता है कि इससे मुझे दबाव महसूस किए बिना, स्वतंत्र रूप से खेलने में मदद मिली है।" भारतीय महिलायें दिसंबर में खेले जाने वाले एफआईएच हॉकी महिला नेशन्स कप की तैयारी के लिये 29 अगस्त को प्रशिक्षण शिविर में लौटीं। टीम अगले साल होने वाले आगामी एशियाई खेलों के लिए भी उत्सुक हैं।

सविता ने कहा, "अगले साल हमारे लिये सबसे महत्वपूर्ण आयोजन एशियाई खेल हैं। हम दिसंबर में होने वाले एफआईएच नेशन्स कप में भी हिस्सा लेंगे लेकिन हमारा ध्यान एशियाई खेलों पर ही केंद्रित है।" सविता के अलावा भारतीय पुरुष टीम के स्टार ड्रैगफ्लिकर हरमनप्रीत सिंह (साल के सर्वश्रेष्ठ पुरुष खिलाड़ी), पीआर श्रीजेश (साल से सर्वश्रेष्ठ गोलकीपर), संजय (साल का उभरता हुआ सितारा, पुरुष), मुमताज़ ख़ान (साल का उभरता हुआ सितारा, महिला), ग्राहम रीड (साल के सर्वश्रेष्ठ पुरुष टीम कोच, पुरुष) और जैनेक शॉपमैन (साल की सर्वश्रेष्ठ महिला टीम कोच, महिला) को भी एफआईएच हॉकी स्टार्स अवॉर्ड्स 2021-22 के लिये नामांकित किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co