क्रिकेट : आईपीएल के लिए शाकिब की एनओसी पर पुनर्विचार कर रहा है बांग्लादेश
क्रिकेट : आईपीएल के लिए शाकिब की एनओसी पर पुनर्विचार कर रहा है बांग्लादेशSocial Media

क्रिकेट : आईपीएल के लिए शाकिब की एनओसी पर पुनर्विचार कर रहा है बांग्लादेश

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने को कहा है कि वह नौ अप्रैल से शुरू होने वाले आईपीएल के आगामी सत्र के लिए बांग्लादेश के अनुभवी ऑलराउंडर शाकिब अल हसन के अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) पर पुनर्विचार कर रहा है।

राज एक्सप्रेस। बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) ने को कहा है कि वह नौ अप्रैल से शुरू होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आगामी सत्र के लिए बांग्लादेश के अनुभवी ऑलराउंडर शाकिब अल हसन के अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) पर पुनर्विचार कर रहा है। बीसीबी के अध्यक्ष नजमुल हसन ने शाकिब की ओर से लगाए गए आरोप कि श्रीलंका में आगामी टेस्ट श्रृंखला के बजाय आईपीएल को प्राथमिकता देने का बयान देकर राष्ट्रीय बोर्ड ने उनकी गलत व्याख्या की थी, के बाद रविवार को अपने आवास पर एक अनौपचारिक बैठक बुलाई, जिसमें शाकिब की एनओसी पर पुनर्विचार करने की बात कही गई।

बीसीबी के क्रिकेट ऑपरेशन के अध्यक्ष अकरम खान ने बताया कि जब वे टेस्ट श्रृंखला खेलने के लिए श्रीलंका की यात्रा कर रहे थे तो यह स्पष्ट था कि शाकिब टेस्ट मैचों में भाग लेने के इच्छुक नहीं हैं, इसके बजाय वह आईपीएल में खेलना चाहते हैं। अकरम ने कहा, मैंने सुना है कि शाकिब ने कहा है कि मैंने उनका पत्र नहीं पढ़ा। शायद मैंने उनके पत्र को गलत समझा। उन्होंने जो कहा है, शायद उससे लगता है कि वह टेस्ट खेलना चाहते हैं। अगले कुछ दिनों में हम उनकी एनओसी के बारे में चर्चा करेंगे। अगर उनकी रुचि है तो वह श्रीलंका में टेस्ट खेलेंगे।

उल्लेखनीय है कि यह घोषणा शाकिब के उस बयान के 24 घंटों के भीतर हुई है, जिसमें उन्होंने कहा था कि अकरम ने उनका पत्र नहीं पढ़ा है और इसको लेकर भ्रामक जानकारी दी जा रही है। जानकारी के मुताबिक शाकिब ने अपने पत्र में कहा था कि उन्होंने आगामी टी-20 विश्व कप की तैयारियों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए श्रीलंका दौरे को छोड़ा है, जो भारत में अक्टूबर-नवंबर में होना है। बीसीबी बोर्ड के निदेशक आगामी सप्ताह में होने वाली बैठक में शाकिब की एनओसी पर अंतिम फैसला ले सकता है।

शाकिब ने पत्र में कहा, मैंने अपने पत्र में कहीं भी यह उल्लेख नहीं किया कि मैं टेस्ट नहीं खेलना चाहता। मैंने अपने पत्र में यह उल्लेख किया है कि मैं टी-20 विश्व कप के लिए खुद को बेहतर तरीके से तैयार करने के लिए आईपीएल में खेलना चाहता हूं, लेकिन बावजूद इसके अकरम भाई ने बार-बार कहा कि मैं टेस्ट नहीं खेलना चाहता हूं। हो सकता है कि उन्होंने बीते दिनों एक साक्षात्कार में भी यही कहा हो। मुझे लगता है कि उन्होंने मेरे पत्र को ठीक से नहीं पढ़ा। मैं मानता हूं कि उन्होंने जो भी फैसला लिया है वे आपस में चर्चा करने के बाद लिया है। मैं बीसीबी के अध्यक्ष नजमुल हसन का अपने फैसले पर अटल रहने और मुझे आईपीएल खेलने की अनुमति देने के लिए आभारी हूं।

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co