क्रिकेट : डब्ल्यूटीसी फाइनल में चार हजार दर्शकों को दी जाएगी मंजूरी
क्रिकेट : डब्ल्यूटीसी फाइनल में चार हजार दर्शकों को दी जाएगी मंजूरीSocial Media

क्रिकेट : डब्ल्यूटीसी फाइनल में चार हजार दर्शकों को दी जाएगी मंजूरी

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) फाइनल में चार हजार दर्शकों की मौजूदगी रहेगी।

राज एक्सप्रेस। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) फाइनल में चार हजार दर्शकों की मौजूदगी रहेगी। सितंबर 2019 के बाद से यह पहली बार होगा जब अंतरराष्ट्रीय मुकाबले के दौरान इतनी संख्या में दर्शकों को मैदान में प्रवेश की मंजूरी दी जाएगी।

हैम्पशायर काउंटी क्लब के प्रमुख रॉड ब्रैंसग्रोव ने साउथैम्प्टन से बताया कि डब्ल्यूटीसी फाइनल में अच्छा क्राउड होगा। उनके मुताबिक इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) डब्ल्यूटीसी फाइनल के लिए चार हजार दर्शकों को अनुमति देने की तैयारी में हैं। उन्होंने कहा, '' हम आज से चार दिवसीय काउंटी मैच का आयोजन कर रहे हैं। सितंबर 2019 के बाद पहली बार दर्शकों को इंग्लैंड में मैदान में बैठ कर क्रिकेट मैच देखने की अनुमति दी गई है। इस दौर के अन्य काउंटी मुकाबले कल से शुरू होंगे और उन मैचों में भी दर्शकों की भीड़ देखने को मिलेगी।"

इस बीच आईसीसी ने कहा है कि डब्ल्यूटीसी फाइनल के लिए विस्तृत जानकारी कुछ दिनों में साझा की जाएगी। साउथैम्प्टन के एजेस बाउल मैदान में हैम्पशायर और लीसेस्टरशायर के बीच बीते दिनों इंग्लिश काउंटी चैंपियनशिप मैच में लगभग 1500 दर्शकों को प्रवेश की अनुमति दी गई थी। इसी मैदान पर 18 जून को भारत और न्यूजीलैंड के बीच डब्ल्यूटीसी फाइनल खेला जाना है।

ब्रैंसग्रोव ने एक बयान में कहा, '' मैं समझता हूं कि मंजूरी दिए जाने वाले दर्शकों की 50 प्रतिशत टिकटें आईसीसी द्वारा अपने प्रायोजकों और अन्य हितधारकों के लिए ली जाएंगी और हम बाकी दो हजार टिकटों को बेचेंगे। हम पहले ही दर्शकों से दोगुने से अधिक आवेदन प्राप्त कर चुके हैं। क्रिकेट में हर किसी की रुचि है और इसकी अच्छी मांग है। यात्रा प्रतिबंधों और क्वारंटीन प्रोटोकॉल को देखते हुए मुझे यह नहीं पता है कि आईसीसी और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के कितने सदस्य मुकाबला देखने आएंगे।"

उधर हैम्पशायर काउंटी को एजेस बाउल में सभी कॉरपोरेट बॉक्स भी सौंपने के लिए कहा गया है, लेकिन ब्रैंसग्रोव को उम्मीद है कि उन पर उनका भी कुछ हिस्सा होगा। उन्होंने कहा कि साउथैम्प्टन भारतीय खिलाड़ियों और उनके पारिवार सदस्यों के इस बंदरगाह शहर में आने का इंतजार कर रहा है, जहां से अप्रैल 1912 में टाइटैनिक अपनी यात्रा के लिए निकला था। हम उनकी मेजबानी के लिए तैयार हैं।

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co