पूरी टीम संक्रमित होने के ख्याल को लेकर काफी भयभीत थी : शार्दुल
पूरी टीम संक्रमित होने के ख्याल को लेकर काफी भयभीत थी : शार्दुलSocial Media

पूरी टीम संक्रमित होने के ख्याल को लेकर काफी भयभीत थी : शार्दुल

भारतीय तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर ने कहा है कि सहायक फिजियो योगेश परमार के कोविड पॉजिटिव पाए जाने के बाद पूरी टीम संक्रमित होने के ख्याल को लेकर काफ़ी भयभीत थी।

नई दिल्ली। भारतीय तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर ने कहा है कि सहायक फिजियो योगेश परमार के कोविड पॉजिटिव पाए जाने के बाद पूरी टीम संक्रमित होने के ख्याल को लेकर काफ़ी भयभीत थी। ठाकुर ने कहा कि फिजियो लगभग सभी खिलाड़ियों के साथ संपर्क में थे और जब वह पॉजिटिव पाए गए तो पूरी टीम में भय का माहौल था।

ठाकुर ने एक अंग्रेजी समाचार पत्र से कहा, हम इस बात से चिंतित थे कि क्या होगा, कौन संक्रमित होगा, क्योंकि परमार ने सभी का इलाज किया था। हमें नहीं पता था कि चीजें आगे कैसे बढ़ेंगी क्योंकि इस संक्रमण को ट्रैक करना असंभव के करीब है। अगले चार-पांच दिन हमारे लिए असुरक्षित थे क्योंकि डर था कि यह मेरे साथ भी हो सकता है या यह किसी को भी हो सकता है। हर कोई अपने और अपने परिवार के बारे में चिंतित था।

भारत टीम के बायो बबल में कोविड 19 के प्रकोप के मद्देनज़र मैनचेस्टर में पांचवां और अंतिम टेस्ट अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया था। 10 सितंबर को निर्धारित टॉस के समय से कुछ घंटे पहले खबर आई थी कि परमार का कोविड 19 टेस्ट सकारात्मक आया है। चौथे टेस्ट के बाद परमार को ज्यादा काम करना पड़ रहा था क्योंकि द ओवल में भारत के मुख्य कोच रवि शास्त्री के करीबी संपर्क के रूप में पहचाने जाने के बाद टीम के प्रमुख फिजियो नितिन पटेल आइसोलेशन में थे। वहीं गेंदबाजी कोच भरत अरुण, क्षेत्ररक्षण कोच आर श्रीधर भी उस समय पर कोविड पॉजिटिव पाए गए थे।

पांचवें टेस्ट के स्थगित होने से पहले ठाकुर गेंद और बल्ले के साथ शानदार प्रदर्शन कर रहे थे और भारतीय टीम श्रृंखला में 2-1 से आगे थी। ओवल में ठाकुर की दो अर्धशतकीय पारियों के चलते भारत उस मैच को 157 रनों से जीतने में कामयाब रहा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.