ऋषभ पंत - एक फाइटर
ऋषभ पंत - एक फाइटरSyed Dabeer Hussain - RE

अनगिनत बार गिर जाने बाद भी वापस खड़े होकर लड़ने का नाम है "ऋषभ पंत"

भारतीय क्रिकेट का एक उभरता सितारा जिसने अपने छोटे से क्रिकेट करियर में सारे उतार चढ़ाव देखे, उसे प्रधामंत्री मोदी समेत पूरे देश से आज दुआएं मिल रही है।

राज एक्सप्रेस। ऋषभ पंत, उतराखंड से आने वाला एक ऐसा खिलाड़ी है, जिसने अपने टेस्ट क्रिकेट करियर की शुरुआत छक्का मार कर की। एक ऐसा उभरता हुआ भारत का सितारा जिसने अपने महज़ 5 साल के करियर में बहुत उतार चढ़ाव देखें। जिसने अभी तक के करियर में भारतीय टीम की कप्तानी भी कर ली है। लेकिन आज जो हादसा उनके साथ हुआ, उसे सुन शायद हम सब ही हैरान रह गए है।

घर जाते समय हुआ एक्सीडेंट

ऋषभ पंत का आज सुबह घर जाते समय एक्सीडेंट हो गया। वह अपनी मर्सिडीज कार से अपनी मां को सरप्राईज देने घर जा रहे थे, लेकिन उनकी कार का सुबह साढ़े 5 बजे के आस पास एक्सीडेंट हुआ जिसमे उनको सर,पीठ और पैर पर चोटे आई है। पैर पर गंभीर चोट के कारण वह कुछ समय क्रिकेट से दूर रहेंगे, लेकिन वह अभी खतरे से बाहर है। पूरे देश के क्रिकेट प्रेमी और क्रिकेट के जानकार आज उनके जल्द ठीक होने की कामना कर रहे है और वह जल्दी ठीक भी हो जायेंगे क्योंकि जो भी क्रिकेट के जानकार है उन्हे पता है कि अपने क्रिकेट करियर में ऋषभ पंत ने बहुत दिक्कतें देखी है और वह हमेशा उससे बाहर आए हैं।

बीसीसीआई ने ट्वीट कर दी ऋषभ पंत की हेल्थ अपडेट

बीसीसीआई ने ऋषभ पंत के स्वास्थ्य को लेकर बयान जारी कर कहा कि ऋषभ पंत को सर पर दो कट्स, दाहिने पैर के लिगामेंट टियर और दाहिने हाथ की कलाई में चोट लगी है। पहली बार हुए स्कैन में यह पता चला है की उनकी कोई हड्डी नहीं टूटी है, लेकिन उन्हे देहरादून के मैक्स अस्पताल में पीठ और दाहिने आंख के ऊपर चोट की प्लास्टिक सर्जरी करनी होगी। इसी अस्पताल में उनका MRI स्कैन भी किया जाएगा, जिसमे अंदरूनी चोट की जांच होगी। बीसीसीआई ने ट्वीट कर दी ऋषभ पंत पर जानकारी

2015 में 18 की उम्र में किया था क्रिकेट में पदार्पण :

पंत ने महज 18 साल की उम्र में 2015 में दिल्ली की टीम से खेलते हुए रणजी में अपना डेब्यू किया। 2016–17 के रणजी सीजन में ऋषभ ने अब तक की रणजी में सबसे तेज़ सेंचुरी का रिकॉर्ड बनाया, जिसकी वजह से ऋषभ को सीधा इंग्लैंड टूर में जा रही अंतराष्ट्रीय भारतीय टीम में जगह मिली और वहा सीरीज के आखरी मैच में शतक मार कई रिकॉर्ड तोड़ डाले साथ ही रणजी ट्रॉफी में तिहरा शतक मारने वाले वो अब तक के सबसे कम उम्र के खिलाड़ी हैं।

1 करोड़ 90 लाख में दिल्ली डेयरडेविल्स ने खरीदा :

2016 में दिल्ली डेयरडेविल्स ने ऋषभ पंत को 1 करोड़ 90 लाख में खरीदा था। आईपीएल के अपने दूसरे ही साल में उन्होंने रनों की झड़ी लगा दी, जिससे उन्हें आईपीएल का उभरता हुआ सितारा (इमर्जिंग प्लेयर ऑफ द ईयर) का अवार्ड दिया गया। लेकिन दूसरे आईपीएल सीजन के दौरान उनके पिता की दिल का दौरा पड़ने के कारण मौत हो गई लेकिन उन्होंने अपने पिता का क्रियाकर्म करने के बाद ही आईपीएल के एक मैच में 57 रन की पारी खेली। इसी आईपीएल के बदौलत ही ऋषभ पंत का सिक्का चमका था और उन्हें लोग जानने लगे थे। उनको इसके बाद ही निधास ट्रॉफी में जगह मिली थी।

विश्व कप में शामिल करने की सोशल मीडिया पर उठी मांग :

क्रिकेट प्रेमियों ने ऋषभ पंत की बैटिंग देख उन्हें 2019 में होने वाले एकदिवसीय विश्व कप में टीम में जगह देने की मांग सोशल मीडिया में रखी, लेकिन उनको जगह नहीं दी गई लेकिन ओपनर शिखर धवन के चोट के चलते विश्व कप से बाहर होने के कारण ऋषभ को टीम में जगह दी गई, लेकिन वह ज्यादा कुछ कर नहीं पाए। इसके बाद से सारे लोगों ने उनकी तीनों फॉर्मेट की टीम में जगह होने पर सवाल उठाए। बड़े प्लेयर्स और कोच ने उनका बचाव किया। लेकिन 2021 की बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी ने सब बदल कर रख दिया।

ऑस्ट्रेलिया टूर में बने तारणहार :

2021 भारत का ऑस्ट्रेलिया टूर जिसमे 4 मैच होने थे। भारत और ऑस्ट्रेलिया 3 मैचों के बाद 1–1 की बराबरी पर खड़ा हुआ था और भारत को चौथे और आखरी टेस्ट के आखरी दिन 328 रनों का लक्ष्य मिला था। भारत के सारे अहम विकेट गिर चुके थे लेकिन भारत को टेस्ट क्रिकेट की तीसरी सबसे सफल रन चेस करवाने में ऋषभ पंत ने तेजतरार 89 रन मारे और भारत ने मैच जीत कर सीरीज को अपना कर गया। भारत को हार के मुंह से ऋषभ पंत ने निकाला, जिससे वह भारत के हीरो बन गए थे। टेस्ट क्रिकेट में पंत आज भी हीरो वाला काम कर रहे है लेकिन सफेद गेंद के फॉर्मेट में ऋषभ के असफल रहे हैं ।

इंग्लैंड में भारत को जीत दिला कर आलोचकों को किया चुप :

एकदिवसीय और 20 ओवर फॉर्मेट से उन्हें बाहर करने की बातें अक्सर सोशल मीडिया में चलती रहती है लेकिन इन सब आवाजों के बाद भी उन्होंने हाल ही में हुए इंग्लैड टूर में एकदिवसीय मैच में शतक मार अपने एकदिवसीय कैरियर को वापस से जीवित कर लिया और भारत को 7 साल बाद इंग्लैंड में जीत दिलाई।

सोशल मीडिया में हुए है सबसे ज्यादा ट्रोल :

ऋषभ पंत शायद एक ऐसे युवा खिलाड़ी है, जिन्होंने सबसे ज्यादा सोशल मीडिया में ट्रोल झेला है जिनका मजाक बनाया गया है, जिनकी भारतीय टीम में जगह पर बार बार सवाल उठाए गए है, लेकिन उन्होंने हमेशा अपने बल्ले से जवाब दे कर अपने आलोचकों का मुंह बंद किया और वापिस से खड़े होकर छोटे करियर में गिने चुने ही सही लेकिन भारत के लिए अहम कीर्तिमान स्थापित किए। पूरा देश आज उनकी बेहतर स्वास्थ्य और जल्द ठीक होकर क्रिकेट मैदान मे वापसी की कामना करते है।

पीएम मोदी ने भी किया ऋषभ पंत के लिए ट्वीट :

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co