Raj Express
www.rajexpress.co
अरूण जेटली स्टेडियम गौतम गंभीर स्टैंड (Gautam Gambhir Stand)
अरूण जेटली स्टेडियम गौतम गंभीर स्टैंड (Gautam Gambhir Stand) |Social Media
खेल

जेटली स्टेडियम में बना गौतम गंभीर स्टैंड,पर देरी होने पर की आलोचना

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर के नाम पर दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में स्टैंड बनाया गया है।

Ankit Dubey

राज एक्सप्रेस। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर के नाम पर दिल्ली के अरूण जेटली स्टेडियम में स्टैंड बनाया गया है। इसका उद्घाटन कल शाम मंगलवार को हुआ। इस बढ़िया मौके पर गंभीर ने बीजेपी के दिग्गज नेता रहे, अरूण जेटली को याद किया साथ ही उन्होंने एपेक्स काउंसिल, फैंस, दोस्तों और परिजनों को शुक्रिया अदा किया।

गंभीर ने अपने ट्विटर अकाउंट से यह जानकारी साझा की, उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा अरूण जेटली मेरे पिता समान थे, अरूण जेटली स्टेडियम में मेरे नाम पर स्टैंड होना मेरे लिए एक बड़े गर्व की बात है, मैं एपेक्स काउंसिल अपने फैंस, दोस्तों और परिजनों का शुक्रिया अदा करता हूं जिन्होंने हर कदम पर मेरा साथ निभाया है।

गंभीर के क्रिकेट कैरियर की बात करें तो गंभीर ने अपने क्रिकेट कैरियर में 58 टेस्ट, 147 वनडे और 37 T20 मुकाबले खेले हैं, वह 2007 के T20 विश्व कप और वनडे विश्व कप 2011 में शामिल थे।

गौतम गंभीर ने मौजूदा डीडीसीए में कमियां बताई

गौतम गंभीर के नाम पर अरूण जेटली स्टेडियम में स्टैंड बनने के बाद भी गौतम गंभीर कहीं ना कहीं वहां की व्यवस्थाएं और वहां की कमियों को लेकर बात करते नजर आए, उन्होंने वहां की मौजूदा व्यवस्था को लेकर कड़ी आलोचना की, गंभीर ने डीडीसीए (DDCA ) अध्यक्ष रजत शर्मा पर भी सवाल उठाए।

दिल्ली क्रिकेट में प्रशासनिक अव्यवस्था फिर से देखी जा सकती है। रजत शर्मा को पिछले साल जुलाई में अध्यक्ष नियुक्त किया गया था, उन्होंने इस महीने ही इस्तीफा दिया है, लेकिन लोकपाल ने उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं किया था और उनसे पद पर बने रहने की मांग की थी।

गौतम गंभीर ने उत्तरी स्टैंड का नाम उनके नाम पर रखे जाने मैं देरी होने के लिए भी अध्यक्ष रजत शर्मा पर सवाल उठाए, जब गौतम गंभीर से सवाल किया गया कि आप के नाम पर स्टैंड बनने पर देरी को लेकर आप किसे जिम्मेदार मानते हैं, तो उन्होंने जवाब दिया कि मुझे लगता है इसके लिए अध्यक्ष को जवाब देना चाहिए, क्योंकि इससे पहले मुझे कहा गया था इसका अनावरण भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच मार्च में होने वाले मैच के दौरान होगा। इसके बाद मुझे जानकारी मिली कि, आईपीएल के पहले मैच के दौरान अनावरण किया जाएगा, फिर स्थानीय टूर्नामेंट के दौरान अनावरण की बात सामने आई, पिछले 6-7 महीने से मुझे यही सब बातें सुनने को मिल रही थीं।

इस समारोह में डीडीसीए के अध्यक्ष रजत शर्मा अनुपस्थित थे।

गौतम गंभीर ने चयन समिति पर साधा निशाना

गौतम गंभीर DDCA के निदेशक भी रह चुके हैं, उन्होंने डीडीसीए में चल रही अंदरूनी लड़ाई और दिल्ली क्रिकेट की अच्छाई पर ध्यान नहीं देने के लिए अधिकारियों की आलोचना की, उन्होंने सीनियर चयन समिति पर भी निशाना साधा, जिसमें अतुल वासन, विनीत जैन और अनिल भारद्वाज शामिल हैं, गंभीर ने बताया कि जैन कभी दिल्ली की ओर से क्रिकेट नहीं खेले हैं और उन्हें चयनकर्ता नहीं बनाया जाना था।

गंभीर ने यह बात साफ कर दी कि, जो दिल्ली के लिए क्रिकेट नहीं खेले हैं, उन्हें चयनकर्ता बना देना गलत है। उन्होंने जूनियर स्तर के चयनकर्ताओं पर भी सवाल किया और कहा कि, वे भी कभी दिल्ली के लिए क्रिकेट नहीं खेले हैं।

गौतम गंभीर ने आखिर में कहा कि जब मैं DDCA का निदेशक था, तब भी मैंने इस मामले पर सवाल उठाए थे, लेकिन इसमें कोई बदलाव नहीं किया गया, जिससे मुझे दु:ख हुआ, दिल्ली में खेलने वाले कई पूर्व खिलाड़ी हैं, जो खेल में अपना योगदान दें तो भविष्य बेहतर होगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।