गौतम गंभीर की आईसीसी को बड़ी सलाह, इन मुद्दों पर भी की चर्चा
गौतम गंभीर की आईसीसी को बड़ी सलाह, इन मुद्दों पर भी की चर्चा| Social Media
खेल

गौतम गंभीर की आईसीसी को बड़ी सलाह, इन मुद्दों पर भी की चर्चा

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व बल्लेबाज गौतम गंभीर ने आईसीसी को क्रिकेट में गेंद पर लार के इस्तेमाल को लेकर सलाह दी है। इन मुद्दों पर भी की चर्चा...

Ankit Dubey

राज एक्सप्रेस। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने आईसीसी को क्रिकेट में गेंद पर लार के इस्तेमाल को लेकर सलाह दी है। आईसीसी (ICC) द्वारा गेंद पर लार लगाने को लेकर रोक लगाई गई है, जिस पर गौतम गंभीर ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए आईसीसी को इसका विकल्प ढूंढने को लेकर सलाह दी है। उनका मानना है कि अगर लार का इस्तेमाल बंद किया जाता है तो क्रिकेट मैच एकतरफा हो जाएंगे, जहां मैदान पर सिर्फ बल्लेबाजों का ही बोलबाला बचेगा।

लार के इस्तेमाल पर गंभीर ने दी यह सलाह

गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा कि गेंदबाजों के लिए यह मुश्किल होगा आईसीसी को इस के विकल्प के बारे में सोचना चाहिए। गेंद को चमकाए बिना मुझे नहीं लगता कि गेंद और बल्ले में बराबरी का सामना होगा। अगर लार का उपयोग प्रतिबंध करते हैं तो इन्हें इसके लिए कोई ना कोई विकल्प खोजना चाहिए। जिससे गेंद को चमकाने में मदद मिले, यह काफी जरूरी है, नहीं तो क्रिकेट का लुफ्त खत्म हो जाएगा।

मैदान पर खिलाड़ी वापस लौटेंगे तो डर होगा

गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने वैश्विक महामारी से निपटने के बाद क्रिकेट की वापसी को लेकर बात करते हुए कहा कि जब मैदान पर खिलाड़ी वापस लौटेंगे तो कहीं ना कहीं उनके मन में डर होगा। उन्होंने यह भी माना कि यह सब खिलाड़ी पर निर्भर करता है और यह भी हो सकता है कि खिलाड़ी जब मैदान पर जाएं तो माहौल में ढल कर मैच में पूरी तरह ध्यान लगा लें, जिससे वह सब भूल जाएं।

टी20 विश्व कप को लेकर भी दी राय

मौजूदा हालातों में टी-20 विश्व कप काफी मुश्किल नजर आता है। इसे लेकर गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा कि यह बीसीसीआई और आईसीसी और बाकी क्रिकेट बोर्डों पर निर्भर करेगा कि वह क्या सोच रहे हैं। उन्हें सभी हितधारकों को एक साथ लाना होगा। जिससे सभी देशों के बोर्ड शामिल हो और उन्हें एक साथ आकर फैसला लेना होगा। अगर क्रिकेट खेलने वाले सभी देश एक साथ हो तो T20 विश्व कप मुमकिन हो सकता है। अगर ऐसा नहीं हुआ तो गंभीर के मुताबिक T20 विश्वकप नहीं होगा।

T20 बल्लेबाजी कोच को लेकर गंभीर का यह है कहना

गौतम गंभीर का मानना है कि T20 क्रिकेट में बल्लेबाजी कोच बनाने के लिए ज्यादा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलना जरूरी नहीं है। उन्होंने कहा कि टी-20 प्रारूप में एक कोच का काम सकारात्मक मानसिकता प्रदान करना होता है, ताकि आप सकारात्मक मानसिकता से खेल सके, वह आपको यह नहीं सिखाता की लैप शॉट कैसे खेलना है या रिवर्स लेप कैसे खेलना है।दुनिया का कोई कोच यह नहीं कर सकता। गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने यह भी माना कि सफल कोच बनने के लिए ज्यादा क्रिकेट खेलना जरूरी नहीं, लेकिन चयनकर्ता बनने के लिए यह काफी जरूरी है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co