सीरीज के लिए शानदार शुरुआत : विराट
सीरीज के लिए शानदार शुरुआत : विराटSocial Media

सीरीज के लिए शानदार शुरुआत : विराट

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने दक्षिण अफ्रीका से पहला टेस्ट आज 113 रन से जीतने के बाद इसे एक शानदार शुरुआत बताया।

सेंचुरियन। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने दक्षिण अफ्रीका से पहला टेस्ट आज 113 रन से जीतने के बाद इसे एक शानदार शुरुआत बताया। विराट ने मैच के बाद कहा, ''हमें एक शानदार शुरुआत मिली। बारिश से एक दिन प्रभावित होने के बाद भी हमारी टीम ने बढ़िया खेल दिखाया। एक सीरीज के लिए यह शानदार शुरुआत है। सेंचुरियन जैसी पिच पर पहले बल्लेबाजी करना काफ़ी कठिन है और इसे बढ़िया तरीके से निभाना एक सकारात्मक बात थी। हमारे ओपनर्स काफ़ी बढ़िया थे। पहले दिन 270 रन बनाना हमारे लिए सबसे बढ़िया चीज थी।''

कप्तान ने कहा, ''राहुल और मयंक ने हमारी जीत की राह को आसान बनाने का काम किया। शमी शायद अभी विश्व के सबसे बेहतरीन गेंदबाजों में से एक हैं। अगर मुझसे पूछा जाए कि अभी विश्व के तीन सबसे बढ़िया तेज गेंदबाज कौन है तो निश्चित तौर पर मैं उन तीन गेंदबाजों में शमी का भी नाम लूंगा।

भारत पहले टेस्ट में ज्यादा बेहतर खेला : एल्गर

दक्षिण अफ्रीका के कप्तान डीन एल्गर ने अपने सबसे मजबूत किले सेंचुरियन में पहला टेस्ट भारत के हाथों 113 रन से हारने के बाद कहा कि निश्चित तौर पर यह बढ़िया अनुभवों में से एक नहीं है। एल्गर ने मैच के बाद कहा, ''हमने कई क्षेत्रों नें ग़लती की। भारतीय टीम ने इस टेस्ट को काफ़ी अच्छी तरीके से खेला। भारत के सलामी बल्लेबाजों ने काफ़ी बढ़िया बल्लेबाजी की। तीसरे दिन हमारे तेज गेंदबाजों ने शानदार तरीके से गेंदबाजी की। उनकी लाइन और लेंथ काफ़ी अच्छी थी। हालांकि हमारे बल्लेबाजों से हमें जैसे प्रदर्शन की जरूरत थी, वह वैसा नहीं कर पाए। हमें काफ़ी चीजों के बारे में सोचने की जरूरत है।''

मैंने अपने खेल पर कड़ी मेहनत की है : राहुल

भारत की पहले टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 113 रन की जीत में अपनी शतकीय पारी से प्लेयर ऑफ द मैच बने ओपनर लोकेश राहुल ने कहा कि उन्होंने अपने खेल पर कड़ी मेहनत की है। राहुल ने अपना पुरस्कार ग्रहण करने के बाद कहा, ''यह सिर्फ धैर्य और दृढ़ संकल्प था, मैं वास्तव में अपनी टीम को अच्छी शुरुआत दिलाना चाहता था। हमने जिस तरीके से पारी की शुरुआत की वह काफ़ी अहम था। मैंने अपनी तकनीक पर थोड़ा काम किया है। जब मैं कुछ वर्षों के लिए टीम से बाहर था मैंने अपने खेल पर वास्तव में कड़ी मेहनत की है।'' उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि इन सभी चीजों में अनुशासन का सबसे बड़ा योगदान है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co