मैच जीतने का मौका था, लेकिन टीम बिखर गई : जो रूट
मैच जीतने का मौका था, लेकिन टीम बिखर गई : जो रूटSocial Media

मैच जीतने का मौका था, लेकिन टीम बिखर गई : जो रूट

जो रूट ने भारत के खिलाफ चौथा टेस्ट मैच हारने के बाद कहा कि उन्होंने सोचा था कि चीजें हमारे पक्ष में होंगी। हमारे पास टेस्ट मैच जीतने का मौका भी था, लेकिन टीम बिखर गई जो काफी निराशाजनक है।

लंदन। इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने भारत के खिलाफ सोमवार को चौथा टेस्ट मैच हारने के बाद कहा कि उन्होंने सोचा था कि आज चीजें हमारे पक्ष में होंगी। हमारे पास टेस्ट मैच जीतने का मौका भी था, लेकिन टीम बिखर गई जो काफी निराशाजनक है।

रूट ने कहा, '' हमारी ओपनिंग पार्टनरशिप शानदार रही, लेकिन श्रेय भारत को जाता है, जिसके गेंदबाजों ने गेंद को रिवर्स स्विंग कराया। मुझे लगता है कि जसप्रीत बुमराह का स्पेल ही खेल का असली टर्निंग प्वाइंट है। अपनी ओर से हमें अन्य क्षेत्रों को देखना होगा जहां हमने मौके गंवाए। शायद हमें पहली पारी की बढ़त का अधिक फायदा उठाना चाहिए था और जो मौके आए उन्हें भुनाना चाहिए था। हम हमेशा बेहतर होने की कोशिश करते हैं। बुमराह एक शानदार गेंदबाज हैं और कई बार हमें यथार्थवादी होना चाहिए और स्वीकार करना चाहिए कि गेंदबाज ने सच में अच्छी गेंदबाजी की और वैसे भी यह विश्व स्तरीय गेंदबाजी थी।"

इंग्लैंड के कप्तान ने कहा, '' अगर हम भविष्य में इसी तरह की स्थिति में रहते हैं तो हमें रिवर्स स्विंग के खिलाफ विशेष तौर पर हमारे खेल में बेहतर प्रबंधन करना होगा। जब भी हम कोई मैच हारते हैं तो हम हमेशा टॉस की बात कर सकते हैं। पहली पारी में हमारी बढ़त 100 रन से अधिक होनी चाहिए थी।"

रूट ने कहा, '' हमें बड़े शतकों और बड़ी साझेदारियों की जरूरत थी। बहरहाल अब हमें ओल्ड ट्रैफर्ड में अच्छा क्रिकेट खेलने की जरूरत है। हम आत्मसंतुष्ट नहीं हो सकते। हमें उस बड़े स्कोर की जरूरत हैं जो मैच को सेट करते हैं जैसा कि हमने एक हफ्ते पहले हेडिंग्ले टेस्ट में करके दिखाया था। आप खिलाड़ियों को चुन सकते हैं, लेकिन हमें एक बल्लेबाजी समूह के रूप में सामूहिक रूप से काम करने की जरूरत है। पारी की शुरुआत करने के बाद, आपको व्यक्तिगत तौर पर 20 से 30 रनों तक पहुंचना होगा। कल एक मुश्किल दिन था, कुछ मुश्किल मौके आए, जिन्हें हम भुना नहीं पाए। कई बार यह बहुत मुश्किल होता है हमें यह जानने की जरूरत है कि किन लोगों को जाना है और मौकों को भुनाना है। बात प्रयास में कमी और काम में कमी की नहीं है, बल्कि हमें सिर्फ अपने स्लिप कैचों के स्तर को बढ़ाने की जरूरत है। खिलाड़ियों के चोटिल होने की समस्या है, लेकिन यह चिंता का विषय नहीं है।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co