निलंबित सीईओ के आरोपों के बाद ICC ने बुलाई आपात बोर्ड बैठक
निलंबित सीईओ के आरोपों के बाद ICC ने बुलाई आपात बोर्ड बैठकSocial Media

निलंबित सीईओ के आरोपों के बाद ICC ने बुलाई आपात बोर्ड बैठक

आईसीसी ने गुरुवार को अपनी आपातकालीन बोर्ड की बैठक बुलाई है। आईसीसी ने अपने निलंबित सीईओ मनु साहनी की ओर से उस पर लगाए गए एकतरफा, गैर-पारदर्शी और अनुचित निर्णय लेने के आरोप के बाद यह बैठक बुलाई है।

दुबई। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने गुरुवार को अपनी आपातकालीन बोर्ड की बैठक बुलाई है। आईसीसी ने अपने निलंबित मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) मनु साहनी की ओर से उस पर लगाए गए एकतरफा, गैर-पारदर्शी और अनुचित निर्णय लेने के आरोप के बाद यह बैठक बुलाई है। साहनी को इस साल मार्च में प्राइसवाटरहाउसकूपर (पीडब्ल्यूसी) प्राइवेट लिमिटेड द्वारा की गई समीक्षा के बाद छुट्टी पर रखा गया था, जिसमें उन पर कदाचार का आरोप लगाया गया था।

दरअसल साहनी ने उन्हें निलंबित किए जाने के बाद आईसीसी के निदेशकों को ई-मेल के जरिए भेजे एक पत्र में कहा था कि विश्व निकाय ने आईसीसी बोर्ड की अखंडता को कम करके और उनके प्रति छोटा और प्रतिशोधी द्रष्टिकोण अपनाकर एक बेहद खराब मिसाल कायम की है। समझा जाता है कि इस मेल के बाद आईसीसी ने बोर्ड की बैठक निर्धारित की है। आईसीसी फिलहाल आधिकारिक तौर पर एक स्थिति बनाए हुए है कि वह इस प्रक्रिया के पूरा होने तक इस पर कोई टिप्पणी नहीं करेगा।

दो पन्नों के इस पत्र में निलंबित सीईओ ने पीडब्ल्यूसी की रिपोर्ट के मुद्दे उठाए थे, जिसमें उन्हें दोषी ठहराया गया था और सवाल किया था कि इसे गुप्त क्यों रखा गया है। उन्होंने कहा था, '' पीडब्ल्यूसी की रिपोर्ट बोर्ड द्वारा आईसीसी को भारी कीमत पर सौंपी गई थी। यह अनुरोध करना बोर्ड का दायित्व है कि सभी निदेशकों को तुरंत रिपोर्ट की पूरी प्रति प्रदान की जाए और बोर्ड को रिपोर्ट की पूरी प्रति उपलब्ध कराने में चार महीने की देरी के लिए स्पष्टीकरण दिया जाए।"

उल्लेखनीय है कि साहनी को बीते नौ मार्च को चार विशिष्ट आरोपों के आधार पर निलंबित किया गया था। उन पर कुछ कर्मचारियों को लक्षित रूप से धमकाने, शारीरिक रूप से प्रभाव दिखाने, अपने व्यवहार के जरिए कर्मचारियों के स्वास्थ्य एवं कल्याण प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से प्रभावित करने और आईसीसी को रिपोर्ट करने में विफल रहने और उचित परामर्श के बिना निर्णयों को लागू करने के आरोप हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co