IND vs SA Test : यानसन, ओलिवियर और रबादा ने भारत को 202 रन पर समेटा
IND vs SA Test : यानसन,ओलिवियर और रबादा ने भारत को 202 रन पर समेटाSyed Dabeer Hussain - RE

IND vs SA Test : यानसन, ओलिवियर और रबादा ने भारत को 202 रन पर समेटा

दक्षिण अफ्रीका ने भारत को दूसरे टेस्ट मैच के पहले दिन सोमवार को चायकाल के बाद पहली पारी में 202 रन पर समेट दिया।

जोहानसबर्ग। तेज गेंदबाजों मार्को यानसन (31 रन पर चार विकेट), डुएन ओलिवियर (64 रन पर तीन विकेट) और कैगिसो रबादा (64 रन पर तीन विकेट) की घातक गेंदबाजी से दक्षिण अफ्रीका ने भारत को दूसरे टेस्ट मैच के पहले दिन सोमवार को चायकाल के बाद पहली पारी में 202 रन पर समेट दिया। भारत की तरफ से कप्तानी संभाल रहे लोकेश राहुल ने 50 और ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने 46 रन बनाए। दक्षिण अफ्रीका ने इसके जवाब में स्टंप्स तक 18 ओवर में एक विकेट खोकर 35 रन बना लिए हैं। मेजबान टीम का जो एकमात्र विकेट गिरा वो एडन मारक्रम का था जिन्हें मोहम्मद शमी ने पगबाधा कर पवेलियन भेजा। मारक्रम ने सात रन बनाए। स्टंप्स के समय कप्तान डीन एल्गर 57 गेंदों में 11 रन और कीगन पीटरसन 39 गेंदों में 14 रन बनाकर क्रीज थे।

इससे पहले चोटिल विराट कोहली की जगह टीम की कप्तानी सभांल रहे लोकेश राहुल ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और जिम्मेदारी के साथ खेलते हुए लंच तक 74 गेंदों पर चार चौकों की मदद से नाबाद 17 रन बनाए, जबकि हनुमा विहारी 12 गेंदों पर चार रन पर खेल रहे थे। दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाजों की कसी हुई गेंदबाजी की बदौलत भारतीय टीम में दबाव में दिखी और परिणामस्वरूप शीर्ष के तीन बल्लेबाजों मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्या रहाणे के विकेट गंवा दिए।

राहुल और मयंक ने शुरुआत में अच्छे शॉट दिखाए। 14 ओवर में 36 रन पर भारत का एक भी विकेट नहीं गिरा, लेकिन युवा तेज गेंदबाज मार्काे यानसन ने 15वें ओवर की पहली गेंद पर ही मयंक को अपना शिकार बनाया और अहम साझेदारी को तोड़ दिया। इसके बाद ओलिवियर ने पुजारा और रहाणे को आउट करके भारत को लगातार दो झटके दिए। मयंक पांच चौकों की मदद से 37 गेंदों पर 26, पुजारा 33 गेंदों पर तीन और रहाणे बिना खाता खोले आउट हुए।

दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों ने भारतीय खिलाड़ियों को नियंत्रण में रखने के लिए पिच से मिल रही उछाल का इस्तेमाल किया। पिछले मैच के हीरो लुंगी एनगिदी ने उन्हें हनुमा विहारी को आउट करने का मौका भी बनाया, लेकिन नौ रन के स्कोर पर प्वाइंट के क्षेत्र में तेम्बा बावुमा से उनका कैच छूट गया। इसके बाद कैगिसो रबादा ने उछाल का फायदा उठाते हुए हनुमा विहारी को शिकार बनाया जो तीन चौकों की मदद से 53 गेंदों पर 20 रन बना कर आउट हुए। उन्होंने लंच के बाद अपने खाते में 11 रन और जोड़े।

इस बीच कप्तान लोकेश राहुल ने 128 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया, हालांकि अपने 13वें टेस्ट अर्धशतक के तुरंत बाद उन्होंने मार्को यानसन के तीखे बाउंसर पर अपना विकेट गंवा दिया। राहुल पुल शॉट खेलने के लिए गए, लेकिन गेंद फाइन लेग की ओर चली गई और रबादा ने आसान कैच पकड़ राहुल को चलता किया। भारत का 116 के स्कोर पर यह पांचवां विकेट था। कप्तान नौ चौकों की मदद से 133 गेंदों पर 50 रन बना कर आउट हुए। इसके बाद क्रीज पर आए ऋषभ पंत और रविचंद्रन अश्विन ने पारी को संभाला और यह सुनिश्चित किया कि भारत चायकाल तक कोई और विकेट न खोएं। पंत चायकाल तक 13 और अश्विन 24 रन बनाकर नाबाद थे।

चायकाल के बाद यानसन ने पंत को विकेटकीपर के हाथों कैच करा दिया। पंत ने 43 गेंदों में 17 रन बनाए। शार्दुल ठाकुर खाता खोले बिना ओलिवियर का शिकार बने। मोहम्मद शमी नौ रन बनाकर रबादा को वापस कैच दे बैठे। अश्विन को यानसन ने कीगन पीटरसन के हाथों कैच कराया। अश्विन ने 50 गेंदों पर 46 रन में छह चौके लगाए। जसप्रीत बुमराह ने 11 गेंदों पर दो चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 14 रन बनाकर भारत को 200 के पार पहुंचाया। रबादा ने मोहम्मद सिराज को विकेटकीपर के हाथों कैच कराकर भारत को 63.1 ओवर में 202 रनों पर रोक दिया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.