गेंदबाजी में सुधार करके सीरीज जीतना चाहेगा भारत
गेंदबाजी में सुधार करके सीरीज जीतना चाहेगा भारतSocial Media

गेंदबाजी में सुधार करके सीरीज जीतना चाहेगा भारत

भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ शनिवार को दूसरा वनडे जीतकर तीन मैचों की श्रृंखला में अजेय बढ़त हासिल करने के लिए गेंदबाजों और निचले क्रम के बल्लेबाजों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी।

रायपुर। भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ शनिवार को दूसरा वनडे जीतकर तीन मैचों की श्रृंखला में अजेय बढ़त हासिल करने के लिये गेंदबाजों और निचले क्रम के बल्लेबाजों से बेहतर प्रदर्शन करने की उम्मीद होगी। रोहित शर्मा की टीम ने पहले वनडे में जीत तो हासिल कर ली, लेकिन हैदराबाद में गेंदबाजों की कमियां खुलकर जाहिर हुईं है। माइकल ब्रेसवेल ने विस्फोटक शतक जमाकर न्यूजीलैंड को जीत के करीब पहुंचा दिया था, हालांकि वह आखिरी ओवर में आउट हो गये और काम को अंजाम नहीं दे सके।

मोहम्मद सिराज के अलावा बाकी भारतीय गेंदबाज ब्रेसवेल के आगे बेअसर नजर आये और न्यूजीलैंड 131 रन पर छह विकेट गंवाने के बाद आखिरी चार विकेटों के बदले 206 रन जोड़ने में सफल रहा। रायपुर के शहीद वीर नारायण सिंह स्टेडियम पर पहली बार एकदिवसीय मैच खेलते हुए रोहित के गेंदबाज इस स्थिति को बदलना चाहेंगे। इससे पूर्व, शुभमन गिल ने दोहरा शतक जड़कर भारत को बड़े स्कोर तक पहुंचाया, हालांकि निचला क्रम एक बार फिर नाकाम रहा। भारत और श्रीलंका के बीच खेले गये तीसरे वनडे में भी विराट कोहली के विशाल शतक ने ही भारत को 390 रन तक पहुंचाया था, जबकि निचले क्रम के बल्लेबाज महत्वपूर्ण योगदान दिये बिना पवेलियन लौट गये थे।

श्रेयस अय्यर की अनुपस्थिति में चौथे नंबर पर बल्लेबाजी कर रहे ईशान किशन बंगलादेश के खिलाफ दोहरा शतक जड़कर बतौर ओपनर अपना लोहा मनवा चुके हैं। अब उन्हें मध्यक्रम को भी अपना करना होगा। टीम प्रबंधन को टी20 के धुरंधर सूर्यकुमार यादव से भी वनडे में कमाल करने की उम्मीद होगी, जबकि हाल के दिनों में खराब फॉर्म से जूझ रहे हार्दिक पांड्या से पारी को विस्फोटक अंत देने की उम्मीद की जाएगी। दूसरी ओर, न्यूजीलैंड को पहले वनडे के उसके प्रदर्शन से काफी आत्मविश्वास मिलेगा। फिन ऐलन ने हैदराबाद में कुछ अच्छे शॉट खेलकर 40 रन बनाये और दूसरे वनडे में वह इस शुरुआत को बड़े स्कोर में बदलना चाहेंगे। साल की शुरुआत शतक के साथ करने वाले डेवन कॉनवे पहले वनडे में सिर्फ 10 रन बना सके। कॉनवे को केन विलियम्सन की गैरमौजूदगी में एंकर की भूमिका निभाने के लिये तैयार रहना होगा। यह संभव नहीं कि माइकल ब्रेसवेल और मिचेल सैंटनर क्रमशः सातवें और आठवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए हर बार संकटमोचक की भूमिका निभाएं।

भारतीय टीम :

रोहित शर्मा (कप्तान), शुभमन गिल, ईशान किशन (विकेटकीपर), विराट कोहली, श्रेयस अय्यर, सूर्यकुमार यादव, केएस भरत (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या (उप-कप्तान), वाशिंगटन सुंदर, शाहबाज अहमद, शार्दुल ठाकुर, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज, उमरान मलिक।

न्यूजीलैंड टीम :

टॉम लैथम (कप्तान), फिन ऐलन, डग ब्रेसवेल, माइकल ब्रेसवेल, मार्क चैपमैन, डेवन कॉनवे, जेकब डफी, लॉकी फर्ग्यूसन, डेरिल मिशेल, हेनरी निकोल्स, ग्लेन फिलिप्स, मिशेल सेंटनर, हेनरी शिपली, ईश सोढ़ी, ब्लेयर टिकनर।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co