भारतीय बैडमिंटन टीम के खिलाड़ियों ने निगेटिव आने के बाद शुरू की ट्रेनिंग
भारतीय बैडमिंटन टीम के खिलाड़ियों ने निगेटिव आने के बाद शुरू की ट्रेनिंगSocial Media

भारतीय बैडमिंटन टीम के खिलाड़ियों ने निगेटिव आने के बाद शुरू की ट्रेनिंग

भारतीय बैडमिंटन टीम के खिलाड़ियों ने कोविड-19 टेस्ट में निगेटिव आने के बाद थाईलैंड में अपनी ट्रेनिंग शुरू कर दी। थाईलैंड में भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों को लगातार तीन टूर्नामेंट में भाग लेना है।

राज एक्सप्रेस। भारतीय बैडमिंटन टीम के खिलाड़ियों ने कोविड-19 टेस्ट में निगेटिव आने के बाद थाईलैंड में बुधवार को अपनी ट्रेनिंग शुरू कर दी। थाईलैंड में भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों को लगातार तीन टूर्नामेंट में भाग लेना है। इससे पहले, विश्व बैडमिंटन महासंघ (बीडब्ल्यूएफ) ने कहा कि ग्रीन जोन में शामिल सभी 824 प्रतिभागी कोविड-19 टेस्ट में निगेटिव पाए गए हैं। ग्रीन जोन में भारतीय टीम के अलावा सभी खिलाड़ियों और हितधारकों, जैसे अंपायर, लाइन जज, बीडब्ल्यूएफ के स्टाफ, थाईलैंड बैडबिंटन संघ, मेडिकल स्टाफ और टीवी प्रोडक्शन स्टाफ शामिल है। इस बीच, भारतीय बैडमिंटन संघ (बीएआई) ने ट्विटर पर कहा है कि भारतीय टीम के लिए जिम का समय दोपहर दो से तीन बजे तक के लिए आवंटित किया गया है और ट्रेनिंग का समय शाम के सात बजे से रात आठ बजे तक का है। बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर सुपर 1000 टूर्नामेंट और बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स में हिस्सा लेने के लिए भारतीय बैडमिंटन टीम पिछले सप्ताह थाईलैंड पहुंची थी।

भारतीय टीम में ओलंपिक के पदक की दावेदार सायना नेहवाल, किदांबी श्रीकांत और बी. साई प्रणीत शामिल हैं जबकि विश्व चैम्पियन पीवी सिंधु इंग्लैंड से सीधे थाईलैंड पहुंची थीं। सिंधु अक्टूबर से ही इंग्लैंड में ट्रेनिंग कर रही थीं। पहला थाईलैंड ओपन 12 से 17 जनवरी तक जबकि दूसरा थाईलैंड ओपन 19 से 24 जनवरी तक खेला जाना है। इसके बाद 27 जनवरी से वर्ल्ड टूर फाइनल्स की शुरूआत होगी, जो 31 जनवरी तक चलेगी। कोरोना वायरस महामारी के बाद से भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों का यह पहला टूर्नामेंट होगा। हालांकि श्रीकांत अक्टूबर में डेनमार्क ओपन में खेले थे। टीम में स्टार पुरुष युगल जोड़ी सात्विकसाइराज रैंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी तथा युगल खिलाड़ी अश्विनी पोनप्पा और एन सिक्की रेड्डी भी हैं। उनके अलावा एच एस प्रणॉय, पारुपल्ली कश्यप, समीर वर्मा, ध्रुव कपिला और मनु अत्री भी टीम के साथ गए हैं। इससे पहले, ओलंपिक पदक विजेता भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी सायना नेहवाल ने थाईलैंड में होने वाले आगामी टूर्नामेंटों से पहले कई तरह के नियमों को लेकर मंगलवार को बीडब्ल्यूएफ की आलोचना की थी। सायना का पिछले साल मार्च में आल इंग्लैंड के बाद से पहला बैडमिंटन टूर्नामेंट होगा। सायना ने ट्वीट में लिखा था, टेस्ट में सभी के निगेटिव आने के बाद भी फिजियो और प्रशिक्षक हम से नहीं मिल सकते? हम चार सप्ताह तक खुद को फिट कैसे रखेंगे। हम बेहतर स्थिति में टूर्नामेंट खेलना चहते हैं। कृपया इसका हल निकालें। सायना के इस सवाल पर बीडब्ल्यूएफ ने कहा है कि यह व्यवस्था केवल पहले तीन दिन तक के लिए ही था कि खिलाड़ी ट्रेनिंग शुरू करने से पहले अपने स्पोर्ट स्टाफ से नहीं मिल सकते हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co