IPL 2020 : पंजाब की हार व चेन्नई की जीत के साथ विदाई

IPL 2020 : आईपीएल के अपने आखिरी लीग मैच में चेन्नई सुपर किंग्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को 9 विकेट से हरा दिया। चेन्नई ने मैच जीतते हुए पंजाब का प्लेऑफ में पहुंचने का सपना भी तोड़ दिया।
IPL 2020 : पंजाब की हार व चेन्नई की जीत के साथ विदाई
IPL 2020 : पंजाब की हार व चेन्नई की जीत के साथ विदाईSocial Media

IPL 2020 । आईपीएल के अपने आखिरी लीग मैच में चेन्नई सुपर किंग्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को 9 विकेट से हरा दिया। मैच में किंग्स इलेवन पंजाब ने 6 विकेट पर 153 रन बनाए थे। जवाब में चेन्नई ने 18.5 ओवरों में एक विकेट खोकर 154 रन बनाते हुए मैच जीत लिया और पंजाब का प्लेऑफ में पहुंचने का सपना भी तोड़ दिया। इस हार के बाद ही पंजाब का सफर टूर्नामेंट खत्म हो गया। उसके 14 मैचों में 12 अंक हैं और वह पॉइंट्स टेबल में 5वें नंबर पर है। उसका इससे ऊपर जाना संभव नहीं है, क्योंकि चौथे नंबर की टीम हैदराबाद के भी 12 अंक हैं, लेकिन उसका रनरेट पंजाब से कहीं बेहतर है। दूसरी ओर, धोनी की आईपीएल टूर्नामेंट से पहले ही बाहर हो चकी थी। उसने अपना सफर टेबल में 7वें नंबर रहते हुए समाप्त किया। चेन्नई के लिए ओपनर रितुराज गायकवाड़ ने 49 गेंदों में 6 चौके और एक छक्का की मदद से नाबाद 62 रनों की पारी खेली, जबकि अंबाती रायुडू ने 30 गेंदों में 2 चौके लगाते हुए नाबाद 30 रन बनाए। एकमात्र विकेट फाफ डु प्लेसिस (48) के रूप में गिरा।

दीपक हुड्डा ने पंजाब को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया :

दीपक हुड्डा की नाबाद 62 रन की आक्रामक पारी के दम पर किंग्स इलेवन पंजाब ने चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट पर 153 का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया। हुड्डा ने 30 गेंद की नाबाद पारी में तीन चौके और चार छक्के लगाए। चेन्नई की ओर से लुंगी एंगिडी ने चार ओवर में 39 रन देकर तीन विकेट लिए जबकि इमरान ताहिर ने चार ओवर में 24 रन और रविंद्र जडेजा ने तीन ओवर में सिर्फ 17 रन देकर एक-एक विकेट लिया। शार्दुल ठाकुर ने चार ओवर में 27 रन देकर एक विकेट लिया। मयंक अग्रवाल और कप्तान लोकेश राहुल ने टॉस गंवाने के बाद पहले बल्लेबाजी के लिए उतरे पंजाब को शानदार शुरुआत दिलायी। मयंक ने दीपक चाहर के खिलाफ दो चौके लगाकर टीम में वापसी का जश्न मनाया। कप्तान राहुल ने इसी गेंदबाज के खिलाफ तीसरे ओवर में पॉइंट्स के ऊपर से आकर्षक छक्का लगाया। राहुल ने इसके बाद शार्दुल ठाकुर का स्वागत पांचवें ओवर लगतार दो चौके से किया, लेकिन एंगिडी ने अगले ओवर में मयंक को बोल्ड चेन्नई को पहली सफलता दिलायी। मयंक ने 15 गेंद में पांच चौके की मदद से 25 रन बनाने के साथ पहले विकेट के लिए 48 रन की साझेदारी भी की। पावरप्ले में पंजाब का स्कोर एक विकेट पर 53 रन था, लेकिन इसके बाद गेंदबाजों ने रन प्रवाह पर अंकुश लगा दिया ओर पंजाब ने इस बीच राहुल, निकोलस पूरन और क्रिस गेल के विकेट भी गंवा दिए। एंगिडी ने 9वें ओवर में राहुल को बोल्ड कर 27 गेंद में उनकी 29 रन की पारी को खत्म किया तो वही शार्दुल ने 11वें ओवर में पूरन (छह गेंद में दो रन) को विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी के हाथों कैच कराया। शानदार लय में चल रहे क्रिस गेल (19 गेंद में 12 रन) भी बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे। अनुभवी इमरान ताहिर की फिरकी पर पगबाधा होने के बाद उन्होंने रिव्यू भी गंवा दिया।

गायकवाड़ - प्लेसिस ने दी चेन्नई को अच्छी शुरुआत :

लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई सुपर किंग्स को ओपनर रितुराज गायकवाड़ और फाफ डु प्लेसिस ने आक्रामक शुरुआत दिलाई। इन दोनों ने जिमी नीशम से लेकर मोहम्मद शमी तक को जमकर निशाना बनाया। देखते ही देखते 5.2 ओवरों में रवि बिस्नोई पर लगाए गए फाफ डु प्लेसिस के छक्के के साथ चेन्नई ने हाफ सेंचुरी पूरी की। गायकवाड़ और फाफ डु प्लेसिस ने पहले विकेट के लिए 82 रन जोड़ डाले। मैच एकतरफा करते दिख रही इस खतरनाक पार्टनरशिप को क्रिस जॉर्डन ने तोड़ा। उन्होंने फाफ डु प्लेसिस को कप्तान केएल राहुल के हाथों कैच आउट कराते हुए चेन्नई को पहला झटका दे दिया। डु प्लेसिस ने 34 गेंदों में 4 चौके और दो छक्के जड़ते हुए शानदार 8 रन बनाए। उनका विकेट 10वें ओवर की 5वीं गेंद पर गिरा। इसके बाद धांसू फॉर्म में चल रहे रितुराज गायकवाड़ और अंबाती रायुडू ने पंजाब के गेंदबाजों को कोई मौका नहीं दिया और 72 रनों की साझेदारी करते हुए चेन्नई को सुपर जीत दिला दी।

अगला आईपीएल भी खेलेंगे धोनी :

आईपीएल -13 में निराशाजनक प्रदर्शन और प्लेऑफ की होड़ से बाहर हो जाने के बाद चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह के भविष्य को लेकर लगातार अटकलें चल रही थीं कि यह उनका आखिरी आईपीएल होगा लेकिन धोनी ने स्पष्ट किया है कि वह अगले वर्ष खेलने जा रहे हैं। धोनी ने रविवार को किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ टॉस जीता और टॉस के बाद जब उनसे पूछा गया कि चेन्नई के लिए क्या यह आखिरी मैच है, तो धोनी ने कहा, निश्चित रूप से नहीं। धोनी के इन शब्दों के बाद यह स्पष्ट हो गया है कि वह अगले सत्र में चेन्नई के लिए खेलने जा रहे हैं। चेन्नई ने धोनी की कप्तानी में तीन बार खिताब जीता है और वह पांच बार उपविजेता रही है। इस साल का आईपीएल पहला मौका है जब धोनी की कप्तानी में चेन्नई टीम प्लेऑफ में नहीं पहुंच पायी है। धोनी ने इस साल 15 अगस्त को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी थी और इस बार के आईपीएल में सभी की नजरें उनके प्रदर्शन पर लगी हुई थीं। चेन्नई टीम के 2016 और 2017 में स्पॉट फिक्सिंग के लिए निलंबित होने के बाद चेन्नई की टीम ने 2018 में धोनी की कप्तानी में वापसी की और तीसरी बार खिताब जीता। चेन्नई 2019 में फाइनल में पहुंचकर उपविजेता रही।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co