ISL 2020-21 : एटीके मोहन बागान के सामने गोल स्कोरिंग बेहतर करने की चुनौती
ISL 2020-21 : एटीके मोहन बागान के सामने गोल स्कोरिंग बेहतर करने की चुनौतीSocial Media

ISL 2020-21 : एटीके मोहन बागान के सामने गोल स्कोरिंग बेहतर करने की चुनौती

ISL 2020-21 : एटीके मोहन बागान ने हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन में टॉप पर रहते हुए साल का समापन किया है।

ISL 2020-21। एटीके मोहन बागान ने हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन में टॉप पर रहते हुए साल का समापन किया है। लेकिन अब टीम के ऊपर टॉप पर खुद को बनाए रखने की चुनौती है और इसी चुनौती का सामना करने के लिए रविवार को उसे यहां जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में नॉर्थईस्ट युनाइटेड से भिड़ना है।

एटीके मोहन बागान के बाद मुम्बई सिटी दूसरे नंबर है और उसके एटीके से एक ही अंक कम है। कोच एंटोनियो लोपेज हबास की टीम का डिफेंस मजबूत है, लेकिन ज्यादा से ज्यादा गोल करने के लिए उसे अपने स्ट्राइकरों को आगे रखना होगा। टीम ने पिछले चार मैचों में केवल तीन ही गोल किए हैं।

एटीके मोहन बागान को अपने पिछले मैच में चेन्नइयन एफसी से गोलरहित ड्रॉ खेलना पड़ा था। इसके बावजूद हबास इसे लेकर चिंतित नहीं हैं।

मुझे जब चिंता होगी अगर हमारे पास गोल करने के मौके नहीं होंगे। फुटबॉल में, आप एक पल में गोल कर सकते हैं। इससे पहले तीन मैचों में संभव नहीं था। 90 मिनट तक परिस्थितियां अलग-अलग होती हैं।
हबास

एटीकेएमबी के स्ट्राइकर्स रॉय कृष्णा का जादू इस सीजन में अब तक सिर चढ़कर बोल रहा है। कृष्णा ने एटीकेएमबी की पांच जीत में से चार में गोल किए हैं। हालांकि हबास का कहना है कि गोल स्कोरिंग करने की जिम्मेदारी किसी एक पर नहीं बल्कि सामूहिक जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि न केवल रॉय कृष्णा की बल्कि मुझे पूरी टीम के प्रदर्शन की समीक्षा करना है। और पूरी टीम का प्रदर्शन शत प्रतिशत है।

दूसरी तरफ, नॉर्थईस्ट की टीम सीजन की शानदार शुरुआत करने के बाद पटरी से उतर गई है और टीम को पिछले चार मैचों में एक भी जीत नहीं मिली है। कोच गेरार्ड नुस इस बात से अगवत हैं कि एटीकेएमबी की चुनौती का सामना करना मुश्किल है।

वे सबसे कठिन टीमों में से एक हैं और इसके बारे में कोई सवाल नहीं है। हम देख रहे हैं। हमें पता था कि वे शीर्ष पर होंगे क्योंकि उनके पास वास्तव में अद्भुत खिलाड़ी हैं। वे वर्षों से लगातार अच्छा कर रहे हैं। उन्होंने कई खिलाड़ियों को बनाए रखा, जिससे इस तरह से एक छोटे टूर्नामेंट में मदद मिलती है।
कोच गेरार्ड नुस

नॉर्थईस्ट के लिए घाना के स्ट्राइकर केस अपियाह का इस मैच में खेलना तय नहीं लग रहा है।

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co