आईएसएल की सफलता कोरोना का डर कम करेगी : गांगुली

ISL 2020 : सौरभ गांगुली ने कहा कि इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) का सफल आयोजन लोगों के अंदर बड़ी खेल प्रतियोगिता नहीं करा पाने का डर खत्म करेगा।
आईएसएल की सफलता कोरोना का डर कम करेगी : गांगुली
आईएसएल की सफलता कोरोना का डर कम करेगी : गांगुलीSocial Media

ISL 2020 । भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष और फुटबॉल क्लब एटीके मोहन बागान के मालिक सौरभ गांगुली ने कहा कि इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) का सफल आयोजन लोगों के अंदर बड़ी खेल प्रतियोगिता नहीं करा पाने का डर खत्म करेगा।

गांगुली ने आईएसएल के अधिकारिक हैंडल के लिए इंस्टाग्राम लाइव सत्र में कहा, ''यह बड़ा मौका होने जा रहा है क्योंकि लॉकडाउन के बाद भारत में इस तरह का पहला बड़ा खेल आयोजन होने जा रहा है। यह ढेर सारी अच्छी चीजों की शुरुआत करेगा क्योंकि सामान्य जन-जीवन को वापस पटरी पर लौटने की आवश्यक्ता है। हमें अपनी जीवन से भय को अलग करने की जरूरत है।" गौरतलब है कि आईएसएल का पहला मुकाबला 20 नवंबर से एटीके मोहन बागान और केरला ब्लास्टर्स फुटबॉल क्लब के बीच खेला जाएगा।

उन्होंने कहा, ''लोगों को संक्रमित मरीजों से अधिक महामारी का डर प्रभावित कर रहा है। उदहारण के तौर पर लोग कहीं आने जाने से बच रहे हैं और हर चीज को असुरक्षा की भावना से देख रहे हैं। मेरे हिसाब से आईएसएल का सफल आयोजन इन सब भय से मुक्ति दिलाने में मदद करेगा।"

बीसीसीआई अध्यक्ष गांगुली ने बीते 10 नवंबर को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में 'बायो-बबल' में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के सफल आयोजन की निगरानी की थी और उन्होंने घोषणा की है कि बोर्ड एक जनवरी से घरेलू सत्र आयोजन कराने पर विचार कर रहा है।

उन्होंने कहा, ''आईएसएल की सफलता और बाकी खेलों खासकर क्रिकेट के घरेलू सत्र के आयोजन को प्रेरित करेगा। हम नए वर्ष में इसकी शुरुआत करने पर विचार कर रहे हैं। घरेलू सत्र में 38 टीमें हैं लेकिन अगर आईएसएल बिना किसी रुकावट के संपन्न हो गया तो इससे हमारे अंदर एक सुरक्षा की भावना पैदा होगी।"

कोलकाता से ताल्लुक रखने वाले गांगुली ने आईएसएल के भविष्य को लेकर कहा, ''हमें धीरे-धीरे आईएसएल को व्यापक बनाना होगा और आप इस खेल को 10 वर्ष दीजिए। आप आईएसएल को 10 वर्ष दीजिए और फिर परिणाम पर बात करिए। यहां जल्दबाजी में कुछ नहीं होता खासकर फुटबॉल में। हमें इसमें समय देना होगा। हमने पहले सत्र में आठ टीमों से शुरू किया था और अब टूर्नामेंट में 11 टीमें खेल रही हैं। आईएसएल भारतीय फुटबॉल को आगे ले जाएगा।"

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co