ISL : नॉर्थईस्ट यूनाइटेड को हार की हैट्रिक से बचाएगी ईस्ट बंगाल पर जीत
ISL : नॉर्थईस्ट यूनाइटेड को हार की हैट्रिक से बचाएगी ईस्ट बंगाल पर जीतSocial Media

ISL : नॉर्थईस्ट यूनाइटेड को हार की हैट्रिक से बचाएगी ईस्ट बंगाल पर जीत

आज शाम को दो फिसड्डी टीमों नॉर्थईस्ट यूनाइटेड एफसी और एससी ईस्ट बंगाल के बीच आईएसएल 2021-22 का लीग मुकाबला खेला जाएगा।

फातोरदा। आज शाम को दो फिसड्डी टीमों नॉर्थईस्ट यूनाइटेड एफसी और एससी ईस्ट बंगाल के बीच हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) 2021-22 का लीग मुकाबला पंडित जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में खेला जाएगा। पिछले दो मैचों में लगातार हार का मुंह देखने वाले नॉर्थईस्ट यूनाइटेड का लक्ष्य अब तक एक भी जीत दर्ज नहीं करने वाले ईस्ट बंगाल के खिलाफ जीत की राह पर लौटना होगा। वहीं, ईस्ट बंगाल भी जीत का स्वाद चखना चाहेगा।

एकमात्र भारतीय हेड कोच खालिद जमील की टीम नॉर्थईस्ट यूनाइटेड अपने पिछले मैच में हैदराबाद एफसी से करारी शिकस्त खा चुकी है। लेकिन अब उसका सामना ईस्ट बंगाल के रूप में ऐसे प्रतिद्वंद्वी से होगा, जिसका एक टीम के तौर पर आत्मविश्वास बहुत गिरा हुआ है और वो बिना जीत हासिल किए तालिका में सबसे निचले स्थान पर है। नॉर्थईस्ट यूनाइटेड ने हीरो आईएसएल 21-22 सीजन के दौरान ओपन प्ले में 11 गोल खाए हैं, जो कि अन्य टीमों से कहीं ज्यादा है, जो कि उसके रक्षात्मक संकट की ओर संकेत करता है।

ईस्ट बंगाल की तरह ही हाईलैंडर्स भी खिलाड़ियों की चोट की समस्या से जूझ रहे हैं। लेकिन उनके पास वीपी सुहैर के रूप में एक ऐसा खिलाड़ी है, जिसके प्रदर्शन में निरंतरता रही है। सुहैर इस सीजन में अब तक 478 मिनट तक खेल चुके हैं और उनके नाम एक गोल और एक असिस्ट है।

जमील ने खुलासा किया, हमारी शुरुआत अच्छी नहीं रही है। चोट के कारण हमें कई खिलाड़ियों की सेवाएं नहीं मिली है। मैं कोई बहाना नहीं बना रहा हूं लेकिन मुझे किसी भी मैच के लिए सभी छह विदेशी खिलाड़ी फिट नहीं मिले। डेशॉर्न ब्राउन की चोटिल हैम्स्ट्रिंग का इलाज चल रहा है। खास्सा कमारा और हर्नान सैन्टाना का भी खेलना संदिग्ध है।

उन्होंने कहा, मैं इस बात से सहमत नहीं हूं कि टीम का मनोबल गिरा हुआ है। फुटबॉल में, कभी-कभी आपको वह नहीं मिलता है जो आप चाहते हैं, इसके लिए आपको कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि हम अच्छा खेले या फिर बुरा। केवल तीन अंक मायने रखते हैं।

रेड एंड गोल्ड ब्रिगेड की शुरुआत इस सत्र में पिछले सीजन की तरह रही है। वो अब तक खेले छह मैचों में एक भी जीत हासिल नहीं कर सकी है। अरिन्दम भट्टाचार्य, जैकीचंद सिंह और डैरेन सिदोएल के चोटिल होने से टीम की मुश्किलें बढ़ी हैं। ईस्ट बंगाल एक अव्यवस्थित इकाई की तरह दिखती हैं और अब तक खेले मैचों में गुणवत्ता की कमी है। कोलकाता की टीम ने पिछले मैच में केरला ब्लास्टर्स के खिलाफ 1-1 से ड्रा खेला था उसे नॉर्थईस्ट यूनाइटेड के खिलाफ एक पायदान ऊपर जाने की उम्मीद होगी।

ईस्ट बंगाल के स्पेनिश कोच जोस मैनुएल डिआज ने कहा, हम कुछ मैचों में जीत के करीब पहुंच गए थे। लेकिन हम मौकों का फायदा उठाने में नाकाम रहे। हम नॉर्थईस्ट के खिलाफ गलतियां करने का जोखिम नहीं उठा सकते। वे पिछली बार सेमीफाइनल में खेले थे, हम उन्हें हल्के में नहीं ले सकते।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.