खिलाड़ियों की चोटों के लिए आईपीएल को जस्टिन लैंगर ने ठहराया जिम्मेदार
खिलाड़ियों की चोटों के लिए आईपीएल को जस्टिन लैंगर ने ठहराया जिम्मेदारसोशल मीडिया

खिलाड़ियों की चोटों के लिए आईपीएल को जस्टिन लैंगर ने ठहराया जिम्मेदार

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के कोच जस्टिन लैंगर ने आईपीएल के पिछले संस्करण के आयोजन के समय पर सवाल उठाते हुए आईपीएल को काफी हद तक कई खिलाड़ियों के चोटिल होने का जिम्मेदार ठहराया है।

सिडनी : ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के कोच जस्टिन लैंगर ने आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) के पिछले संस्करण के आयोजन के समय पर सवाल उठाते हुए आईपीएल को काफी हद तक मौजूदा भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया टेस्ट श्रृंखला में कई खिलाड़ियों के चोटिल होने का जिम्मेदार ठहराया है।

लैंगर ने आईपीएल 2020 के आयोजन के समय पर सवाल उठाते हुए कहा कि इस बार आईपीएल गलत समय पर आयोजित हुआ जो अब खिलाड़ियों के चोटिल होने का कारण बन रहा है। लैंगर ने यहां बुधवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा, "इस गर्मी खिलाड़ियों में फिट रहने का संघर्ष होने वाला है। इस गर्मी में काफी खिलाड़ियों को चोटें आई हैं जो दिलचस्प है। हमने एकदिवसीय और टी-20 मुकाबलों के साथ-साथ टेस्ट श्रृंखला में इसका सामना किया है। मैं इसमें कोई मदद तो नहीं कर सकता, लेकिन मुझे लगता है कि इस साल आईपीएल का आयोजन उचित समय नहीं था। निश्चित रूप से इस तरह की इतनी बड़ी श्रृंखला के लिए तो नहीं।"

लैंगर ने कहा, "आईपीएल के दौरान चोटिल होने के कारण भारतीय टीम रोहित शर्मा और इशांत शर्मा के बगैर ऑस्ट्रेलिया पहुंची। दौरे की शुरुआत से अब तक मोहम्मद शमी, रवींद्र जडेजा, उमेश यादव, लोकेश राहुल चोटिल हुए हैं। अब रविचंद्रन अश्विन, हनुमा विहारी और मयंक अग्रवाल भी चोट से जूझ रहे हैं। ऑस्ट्रेलियाई खेमे की बात करें तो हमारे पास डेविड वार्नर और मार्कस स्टॉयनिस नहीं थे। दोनों ने आईपीएल में अपनी-अपनी टीमों के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। वार्नर भारत के खिलाफ पहले दो टेस्ट मैच से बाहर रहे, जबकि तीसरे मैच में पूरी तरह से फिट न होने के बावजूद वापस आए।"

लैंगर ने कहा, "मुझे आईपीएल बहुत पसंद है, मैं अब आईपीएल को इस नजरिए से देखता हूं कि कैसे युवा खिलाड़ी काउंटी क्रिकेट खेलते हैं जो उनके खेल में सुधार करने में बहुत मदद करता है। मुझे लगता है कि अब आईपीएल के जरिये हमारे खिलाड़ियों के साथ भी ऐसा ही है, यह उन्हें सफेद गेंद क्रिकेट में सुधार लाने में मदद करता है, लेकिन कोरोना महामारी के कारण इसके आयोजन का समय उचित नहीं था।"

लैंगर ने कहा कि हमें कुछ बेहतर लोग और डॉक्टर मिले हैं। हम वनडे सीरीज के बाद खिलाड़ियों के चोटिल होने की समीक्षा करेंगे। अगर जरूरत से ज्यादा खिलाड़ी चोटिल हो रहे हैं तो निश्चित रूप से इसकी समीक्षा की जानी चाहिए। भारतीय और ऑस्ट्रेलियाई खेमे में काफी अधिक चोटें आई हैं। किसी का हाथ टूटा है तो किसी अंगूठे पर चोट आई है।

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। सिर्फ शीर्षक में बदलाव किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co