विशिष्ट सलामी बल्लेबाजों की श्रेणी में पहुंचे लाथम

न्यूजीलैंड के सलामी बल्लेबाज टॉम लाथम ने बंगलादेश के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन सोमवार को 252 रन की शानदार पारी खेलकर अपना नाम कुछ विशिष्ट सलामी बल्लेबाजों की श्रेणी में दर्ज करा लिया है।
विशिष्ट सलामी बल्लेबाजों की श्रेणी में पहुंचे लाथम
विशिष्ट सलामी बल्लेबाजों की श्रेणी में पहुंचे लाथमSocial Media

क्राइस्टचर्च। न्यूजीलैंड के सलामी बल्लेबाज टॉम लाथम ने बंगलादेश के खिलाफ दूसरे क्रिकेट टेस्ट मैच के दूसरे दिन सोमवार को 252 रन की शानदार पारी खेलकर अपना नाम कुछ विशिष्ट सलामी बल्लेबाजों की श्रेणी में दर्ज करा लिया है। टेस्ट क्रिकेट में सलामी बल्लेबाज के तौर पर सिर्फ वीरेंद्र सहवाग के नाम 250+ की दो से अधिक कुल चार पारियां हैं। सनत जयसूर्या , ग्रीम स्मिथ, क्रिस गेल, एलेस्टेयर कुक और डेविड वॉर्नर के नाम सलामी बल्लेबाज के तौर पर 250+ की दो पारियां हैं। अब लाथम ने भी इस सूची में अपना नाम लिखवा लिया है।

लेथम का 252 बंगलादेश के खिलाफ टेस्ट मैचों में चौथा सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर है। कुमार संगकारा, बंगलादेश के खिलाफ एकमात्र तिहरे शतक लगाने वाले खिलाड़ी हैं। उन्होंने 2014 के चट्टोग्राम टेस्ट में 319 रन बनाए थे। वहीं रामनरेश सरवन के नाम किंग्सटन, 2004 में नाबाद 261 रन बनाने का रिकॉर्ड दर्ज है, जबकि मार्लोन सैमुअल्स ने खुलना, 2012 में बंगलादेश के खिलाफ 260 रन की पारी खेली थी।

यह किसी भी कीवी कप्तान का ओपनिंग करते हुए सर्वाधिक स्कोर भी है। उन्होंने 1968 में भारत के खिलाफ बनाए गए ग्राहम डॉउलिंग के 239 रनों का रिकॉर्ड तोड़ा। यह न्यूजीलैंड के किसी भी कप्तान का पांचवां सर्वाधिक टेस्ट स्कोर भी है। इसके अलावा वह दुनिया के सिर्फ छह कप्तानों में भी शामिल हो गए हैं, जिनके नाम सलामी बल्लेबाज के तौर पर 250+ का स्कोर दर्ज है।

लाथम ने अपने सभी 12 टेस्ट शतक सलामी बल्लेबाज के तौर पर ही बनाए हैं। वह जॉन राइट के बाद 12 शतक लगाने वाले न्यूजीलैंड के सिर्फ दूसरे सलामी बल्लेबाज हैं। यह न्यूजीलैंड के लिए संयुक्त रूप से चौथा सर्वाधिक भी है। डेवोन कॉन्वे ने अब तक सिर्फ पांच टेस्ट मैच खेले हैं और उनके नाम इन सभी टेस्ट की पहली पारी में 50 से अधिक रन बनाने का रिकॉर्ड दर्ज है। दुनिया के छह बल्लेबाज पहले भी ऐसा कर चुके हैं और न्यूजीलैंड के बर्ट सटक्लिफ़ का भी नाम इसमें दर्ज है। कॉन्वे के नाम पांच टेस्ट में 623 रन दर्ज है। सुनील गावस्कर (831) और जॉर्ज हेडली (714) ही पांच टेस्ट के बाद उनसे आगे हैं। हालांकि कॉन्वे के पास अभी एक पारी बची है।

बंगलादेश के शीर्ष पांच बल्लेबाजों ने पारी में सिर्फ 19 रन बनाए, जो कि संयुक्त रूप से सबसे कम है। 2001 में जिम्बाब्वे के खिलाफ ढाका टेस्ट में भी बंगलादेश के शीर्ष पांच बल्लेबाजों ने सिर्फ 19 रन बनाए थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co