मैनचेस्टर टेस्ट स्थगित नहीं रद्द हुआ है : गांगुली
मैनचेस्टर टेस्ट स्थगित नहीं रद्द हुआ है : गांगुलीSocial Media

मैनचेस्टर टेस्ट स्थगित नहीं रद्द हुआ है : गांगुली

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा है कि मैनचेस्टर टेस्ट स्थगित नहीं रद्द हुआ है।

कोलकाता। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा है कि मैनचेस्टर टेस्ट स्थगित नहीं; रद्द हुआ है, इसलिए जब भी कभी भारत और इंग्लैंड के बीच एकमात्र टेस्ट खेला जाएगा, तो वह 2021 के टेस्ट सीरीज में नहीं जोड़ा जाएगा। हालांकि उन्होंने रवि शास्त्री सहित भारतीय दल के कुछ सदस्यों को रवि शास्त्री के बुक-लॉन्च कार्यक्रम में जाने पर कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया, जिसे कि भारतीय दल में कोविड फैलने का एक संभावित कारण माना जा रहा है। उन्होंने कहा कि ऐसी परिस्थिति के लिए किसी को जिम्मेदार ठहराए जाना उचित नहीं है।

कोलकाता के अखबार द टेलीग्राफ़ से बात करते हुए गांगुली ने कहा, ओल्ड ट्राफ्फोर्ड टेस्ट रद्द हुआ है। इससे इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) को बहुत नुक़सान हुआ है और इसकी भरपाई कर पाना आसान नहीं होगा। थोड़ा समय दिजिए, हम लोग बैठ कर आपस में निर्णय लेंगे। लेकिन अगले साल अगर एकमात्र टेस्ट होता है, तो वह इस सीरीज का हिस्सा नहीं बल्कि नया टेस्ट और सीरीज माना जाएगा।

गांगुली इस साल के अंत में व्यक्तिगत यात्रा पर लंदन जाएंगे। हालांकि यह साफ़ नहीं है कि वह ईसीबी अधिकारियों से मुलाक़ात भी करेंगे। उन्होंने कहा, चूंकि यह सब अभी तुरंत खत्म हुआ है, इसलिए हमने उन्हें समय दिया है। शास्त्री का बुक लॉन्च कार्यक्रम ओवल टेस्ट से एक दिन पहले एक सितंबर को हुआ था और वह 5 सितंबर को कोविड पॉजिटिव पाए गए थे। उनके अलावा गेंदबाजी कोच भरत अरूण और फील्डिंग कोच आर. श्रीधर भी कोविड पॉजिटिव पाए गए, जबकि कुछ दिन बाद 9 सितंबर को भारत के सहायक फ़िजियो योगेश परमार का भी कोविड टेस्ट पॉजिटिव आया। वहीं मुख्य फ़िजियो नितिन पटेल पहले से ही एहतियातन आइसोलेट थे।

चूंकि चौथे टेस्ट के दौरान योगेश परमार खिलाड़ियों के काफी कऱीब थे, इसलिए माना जा रहा है कि उनके कोविड पॉजिटिव आने के बाद कुछ खिलाड़ियों ने पांचवें और आखरी टेस्ट में हिस्सा लेने से इनकार कर दिया। वहीं रविवार को इंग्लिश डेली 'मिड-डे' से बात करते हुए कोच रवि शास्त्री ने कहा कि पूरा इंग्लैंड खुला हुआ है, इसलिए बुक लॉन्च कार्यक्रम को आप कैसे दोष दे सकते हैं। वहीं गांगुली ने कहा कि इस कार्यक्रम के लिए बीसीसीआई से कोई अनुमति नहीं ली गई थी। लेकिन इसके लिए कोच या किसी और को दोष देना सही नहीं है।

गांगुली ने कहा, आप अपने कमरे में कितने दिन तक पड़े रह सकते हैं। यह मानवीय रूप से संभव नहीं कि आप इतने लंबे दौरे पर सिर्फ होटल से मैदान पर जाएं और मैदान से वापस होटल में आएं। गांगुली ने इस बात से भी इनकार कर दिया कि आईपीएल के लिए खिलाड़ियों ने पांचवां टेस्ट खेलने से इनकार कर दिया, जो कि 19 सितंबर से यूएई में फिर से शुरू होने वाला है। उन्होंने कहा, आप हमेशा के लिए बबल में नहीं रह सकते। ये खिलाड़ी और सपोर्ट स्टाफ़ एक साल से अधिक समय से बबल में हैं और यह मजाक़ नहीं है। यह शारीरिक और मानसिक रूप से भी थकाऊ है। वे आदमी ही हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co