चोट से उबरे मोर्गन केकेआर के लिए 11 अप्रैल को ओपनिंग मुकाबला खेलने को तैयार
चोट से उबरे मोर्गन केकेआर के लिए 11 अप्रैल को ओपनिंग मुकाबला खेलने को तैयारSocial Media

चोट से उबरे मोर्गन केकेआर के लिए 11 अप्रैल को ओपनिंग मुकाबला खेलने को तैयार

हाथ में चोट लगने के बाद भारत के खिलाफ आखिरी दो वनडे मुकाबलों से बाहर रहे इंग्लैंड और कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के कप्तान इयोन मोर्गन ने कहा है कि वह चोट से अच्छी तरह ठीक हो गए हैं।

राज एक्सप्रेस। हाथ में चोट लगने के बाद भारत के खिलाफ आखिरी दो वनडे मुकाबलों से बाहर रहे इंग्लैंड और कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के कप्तान इयोन मोर्गन ने कहा है कि वह चोट से अच्छी तरह ठीक हो गए हैं और 11 अप्रैल को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ केकेआर के लिए सीजन ओपनिंग मैच खेलने के लिए तैयार हैं।

केकेआर के कप्तान ने इस सत्र में अपनी टीम के स्पिन आक्रमण को सर्वश्रेष्ठ में से एक करार देते हुए कहा कि यह मुकाबलों, विशेष रूप से चेन्नई के टर्निंग ट्रैक पर एक बड़ा अंतर पैदा कर सकता है, जहां टीम अपने पहले तीन मैच खेलेगी। पिछले सप्ताह पहले भारत के खिलाफ वनडे सीरीज के दौरान गेंद को रोकने के प्रयास में मोर्गन हाथ पर चोट लग गई थी। इसके बाद उनके अंगूठे और तर्जनी के बीच टांके लगाए गए थे।

मोर्गन ने बुधवार को वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा,''मैं एक हफ्ते पहले की तुलना में काफी बेहतर महसूस कर रहा हूं। टांके हट गए हैं और आगामी दिनों में अपने बल्लेबाजी प्रशिक्षण को जारी रखने और साथ ही क्षेत्ररक्षण का प्रशिक्षण करने की योजना है। इतने कम समय में खुद को उपलब्ध होते देख बहुत अच्छा लग रहा है।''

उन्होंने कहा,''मुझे लगता है कि हरभजन सिंह को हमारी टीम में शामिल करने से हमें बहुत मजबूती मिली है। जब आप हमारे स्पिन विभाग को देखेंगे तो पाएंगे कि यह टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ में से एक है। हमारे पास कठिन परिस्थितियों में खेलने के लिए भी काफी विकल्प हैं। विशेष रूप से चेन्नई जैसी पिच पर जहां गेंद काफी घूमती है। यहां स्पिनरों को मदद मिल सकती है। मुझे लगता है कि यह एक ऐसा क्षेत्र है जहां मुझे लगता है कि अगर हमारे स्पिनर अच्छा खेलेंगे तो हम अच्छा खेलेंगे। हमारी टीम बहुत अच्छी तरह संतुलित है और कुछ विभागों में यह बहुत मजबूत है।''

उन्होंने साथ ही कहा कि आईपीएल दुनिया का सबसे बड़ा टूर्नामेंट है जिसमें सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी हैं। टूर्नामेंट के बीच में खिलाड़ियों के चोट और बीमारी से जूझना चुनौतीपूर्ण हो सकता है। चाहे आप इसे पसंद करें या नहीं यह पूरे सीजन में होता है। सभी क्षेत्रों में अपनी टीम को मजबूत करने के लिए योजना बनाने की आवश्यकता है। मुझे लगता है कि हमने नीलामी में ऐसा किया है। इन सब में एक सकारात्मक चीज मध्यक्रम में बहुमुखी प्रतिभा और सुनील नारायण, खुद या दिनेश कार्तिक को प्रमोट करना है जिससे मध्यक्रम को मजबूती प्रदान होगी। मुझे लगता है कि बहुत सारी टीमों को हमारे खिलाफ खेलने में मजा नहीं आएगा।'

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co