IPL से नितिन मेनन बाहर, ऑस्ट्रेलियाई अंपायर रिफेल की कोशिश फेल, वजह कोरोना!
अंपायरों ने पारिवारिक कारणों से घर वापसी की जताई इच्छा।Neelesh Singh Thakur – RE

IPL से नितिन मेनन बाहर, ऑस्ट्रेलियाई अंपायर रिफेल की कोशिश फेल, वजह कोरोना!

भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले नितिन मेनन अंतर राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) से मान्य अंपायरों की एलीट पैनल में शामिल एकमात्र भारतीय हैं।

हाइलाइट्स –

  • ICC के एलीट पैनल के अंपायर हैं

  • मेनन और रिफेल की घर वापसी

  • कोरोना वायरस बताई गई वजह!

राज एक्सप्रेस। इंडियन प्रीमियर लीग-14 में अंपायरिंग कर रहे अंपायर नितिन मेनन को बीच सत्र हटना पड़ा है। मेनन की मां और पत्नी कोरोना संक्रमित हो जाने के कारण वह इंदौर स्थित अपने घर लौट गए। ऑस्ट्रेलिया के एक अन्य विदेशी अंपायर पॉल रिफेल की घर वापसी की कोशिश हवाई यात्रा प्रतिबंधों के कारण असफल रही है।

अधिकृत सूत्र आधारित रिपोर्ट के अनुसार अंपायर मेनन के बच्चे की उम्र कम होने के साथ ही मां और पत्नी के कोरोना वायरस की चपेट में आने के कारण उनको घर जाना पड़ा है। बताया गया है कि रिफेल की ऑस्ट्रेलिया वतन वापसी इसलिए संभव नहीं हो पाई है क्योंकि ऑस्ट्रेलिया ने भारत से जुड़े यात्रा संपर्कों पर प्रतिबंध लगाया हुआ है।

बैकअप मौजूद -

आईपीएल के सूत्र के मुताबिक टूर्नामेंट के लिए कई घरेलू अंपायर बतौर बैक-अप उपलब्ध हैं। बताया गया है कि जिन मैचों में नितिन मेनन अनुपलब्ध रहेंगे उन मैचों की अंपायरिंग रिज़र्व अंपायर्स करेंगे।

गौरतलब है कि इसके पहले बीसीसीआई को ऑस्ट्रेलियाई अंपायर रॉड टकर भी निराश कर चुके हैं। उम्मीद थी कि वे आईपीएल के 14वें सत्र के लिए जुड़ेंगे लेकिन निजी कारणों का हवाला देकर उन्होंने खुद को टूर्नामेंट से अलग कर लिया।

एकमात्र भारतीय अंपायर –

भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले नितिन मेनन अंतर राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) से मान्य अंपायरों की एलीट पैनल में शामिल एकमात्र भारतीय हैं। भारत और इंग्लैंड के बीच हाल ही में संपन्न हुई सीरीज में अच्छी अंपायरिंग के कारण मेनन को काफी प्रशंसा मिली थी।

रिफेल का दर्द -

ICC की एलीट पैनल के ही एक अन्य अंपायर भूतपूर्व तेज गेंदबाज पॉल रिफेल ने समाचार पत्रों 'हेरल्ड' और 'द एज' को जानकारी दी है कि उन्होंने ऑस्ट्रेलिया लौटने की कोशिश की थी लेकिन वह सफल नहीं हो पाई।

ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि, रिफेल की घर वापसी अब संभवतः 30 मई को टूर्नामेंट समाप्त होने के बाद ही संभव हो पाए। आशा है तब तक ऑस्ट्रेलिया की सरकार उड़ान प्रतिबंध समाप्त कर चुकी होगी।

कई खिलाड़ियों पर असमंजस -

ऑस्ट्रेलिया के एडम जाम्पा, केन रिचर्डसन और एंड्रयू टाय स्वदेश लौटने की इच्छा पहले ही जता चुके हैं। इंग्लैंड के लियाम लिविंग्स्टोन भी बायो बबल की थकान का हवाला देकर टूर्नामेंट से हटने की बात कह चुके हैं। ऐसे में आईपीएल की लोकप्रियता में कमी आने की आशंका है। हालांकि गांगुली ने खेल पूरा होकर रहने की बात कही है।

उड़ानों पर प्रतिबंध -

ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने 15 मई तक के लिए भारत से ताल्लुक रखने वाली उड़ानों पर प्रतिबंध लगाया है। इसके बाद मंगलवार को बीसीसीआई के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर हेमांग अमीन ने खिलाड़ियों, अधिकारियों, कमेंटेटर्स और सपोर्ट स्टाफ को भेजे ईमेल में सभी को टूर्नामेंट समाप्ति के बाद सकुशल घर पहुंचाने का भरोसा प्रदान किया है।

मुंबई इंडियंस के बल्लेबाज क्रिस लिन ने भी अपने देश के बोर्ड क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) से खिलाड़ियों की स्वदेश वापसी के लिए चार्टर प्लेन देने की विनती की थी, लेकिन ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने यह स्पष्ट कर दिया है कि, खिलाड़ी देश के नहीं बल्कि निजी दौरे पर स्वयं की मर्जी से भारत गए हैं ऐसे में उन्हें स्वयं के प्रबंध पर नियमानुसार देश लौटना होगा।

डिस्क्लेमर – आर्टिकल प्रचलित मीडिया रिपोर्ट्स पर आधारित है। इसमें शीर्षक-उप शीर्षक और संबंधित अतिरिक्त प्रचलित जानकारी जोड़ी गई हैं। इस आर्टिकल में प्रकाशित तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co