COVID-19 की स्थिति में मैच रद्द होने पर IPL पक्षों को मुआवजा नहीं मिलेगा।
COVID-19 की स्थिति में मैच रद्द होने पर IPL पक्षों को मुआवजा नहीं मिलेगा। |Neelesh Singh Thakur – RE
खेल

IPL 2020 में COVID-19 के लिये इंश्योरेंस कवर नहीं!

"यूएई के आईपीएल में तमाम सावधानियां बरती तो जा रही हैं, लेकिन कोरोना वायरस बीमारी संबंधी किसी आशंका के लिए बीमा कवर नहीं होना चिंताजनक है!"

Neelesh Singh Thakur

हाइलाइट्स –

  • COVID-19 में IPL 2020

  • महामारी का बीमा कवर नहीं!

  • रद्द मैच में टीमों को मुआवजा नहीं!

राज एक्सप्रेस। IPL 2020 में COVID-19 का बीमा कवर नहीं होगा। इसका मतलब यह कि; कोरोना वायरस महामारी उन्नीस (COVID-19) के किसी किसी ताजा-तरीन मामले की पॉजिटिव रिपोर्ट की स्थिति से मैच को रद्द करने की स्थिति बनती है तो टीमों को बीमा समझौतों का मुआवजा नहीं मिलेगा।

सूची से ही बाहर-

व्याप्त महामारी के बीच, दुनिया भर के खेल आयोजनों से संबद्ध बीमाकर्ताओं ने संचारी रोगों को अपनी सूची से बाहर कर दिया है। इसके मुताबिक ऐसी किसी आपदा की स्थिति में इंडियन प्रीमियर लीग 2020 कोई अपवाद नहीं होगा।

प्राकृतिक आपदा-

हालांकि प्राकृतिक आपदाओं की स्थिति में सभी मैचों को इंश्योरेंस से कवर किया गया है। आईपीएल की सभी फ्रेंचाइजी की अपनी अलग बीमा एजेंसियां हैं। इनका प्रीमियम 3 से 5 करोड़ रुपया की सीमा अंतर्गत है।

भारत में नियम-

भारत में सामान्य परिस्थितियों के अंतर्गत अंतरराष्ट्रीय और आईपीएल मैच अप्रत्याशित कारणों से आकस्मिक रद्द करने की स्थिति में बीमा से कवर किए जाते हैं।

मीडिया से जारी रिपोर्ट्स में नाम-पहचान की गोपनीयता की शर्त पर एक अधिकारी ने बताया कि; "चूंकि कोविड-19 अप्रत्याशित घटना नहीं है, यहां तक ​​कि बीमाकर्ताओं ने सभी संचारी रोगों के लिए मुआवजे की पेशकश को रोक दिया है।"

विदेशों में बीमा-

यूरोप में फुटबॉल और इंग्लैंड में क्रिकेट को समान नियम का पालन करना पड़ता है। यह हाल ही में संपन्न यूएस ओपन में भी प्रभावी था।

ओलंपिक और विंबलडन को क्षतिपूर्ति मिली क्योंकि उनके पास पहले से मौजूद बीमा सौदे थे, जो महामारी के लिए कवर की पेशकश करते थे।

IPL के लिए नहीं बढ़ा बीमा प्रीमियम-

पिछले विजेता मुंबई इंडियंस (एमआई-MI) और चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके-CSK) की भिड़ंत के साथ 19 सितंबर को आईपीएल का आगाज होगा। इंश्योरेंस कंपनियां केवल उन रद्द हुए मैचों पर विचार करती हैं जिनमें एक भी गेंद नहीं फेंकी गई हो।

ऐसी स्थिति में, घरेलू टीम को गेट प्राप्तियों के साथ मुआवजा दिया जाता है, जबकि दोनों पक्षों को उस विशेष मैच से प्रसारण सौदे के अपने हिस्से के बराबर प्राप्त होता है।

दर्शकों को मैदान में जाने की अनुमति नहीं होने की स्थिति में बीमा कवर में आम तौर पर अन्य सभी नुकसानों का ध्यान रखा जाता है।

यह समझा जाता है कि किसी विदेशी देश में टूर्नामेंट होने के बावजूद प्रत्येक आईपीएल पक्ष का बीमा प्रीमियम नहीं बढ़ा है। हालांकि, इसमें यह बात भी खास है कि; आईपीएल 2020 को संयुक्त अरब अमीरात स्थानांतरित करने के बीसीसीआई के निर्णय लेने के बाद बीमा सौदों पर हस्ताक्षर किए गए थे।

उद्योग बन चुके फटाफट क्रिकेट के विशेषज्ञों का मानना है कि; यूएई में राजनीतिक रैलियों या विरोध प्रदर्शन जैसी अप्रत्याशित रुकावटों की संभावना जरा कम है।

तीन स्थानों पर मैच-

गौरतलब है टूर्नामेंट के मैच आठ के बजाय सिर्फ तीन स्थानों में खेले जाएंगे। यूएई के आईपीएल में तमाम सावधानियां बरती तो जा रही हैं, लेकिन कोरोना वायरस बीमारी संबंधी किसी आशंका के लिए कोई कवर नहीं होना चिंताजनक है!

डिस्क्लेमर – आर्टिकल प्रचलित रिपोर्ट्स पर आधारित है। इसमें शीर्षक-उप शीर्षक और संबंधित अतिरिक्त प्रचलित जानकारी जोड़ी गई हैं। इस आर्टिकल में प्रकाशित तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co