पिंक बॉल टेस्ट में परिस्थितियों का लाभ उठाना हमारा लक्ष्य: रुट
पिंक बॉल टेस्ट में परिस्थितियों का लाभ उठाना हमारा लक्ष्य: रुटSocial Media

पिंक बॉल टेस्ट में परिस्थितियों का लाभ उठाना हमारा लक्ष्य: रुट

इंग्लैंड के कप्तान जो रुट ने भारत के साथ अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में शुरू होने वाले तीसरे पिंकबॉल टेस्ट को लेकर कहा है कि पिंक बॉल टेस्ट में परिस्थितियों का लाभ उठाना इंग्लैंड का उद्देश्य है।

राज एक्सप्रेस। इंग्लैंड के स्टार बल्लेबाज और टेस्ट टीम के कप्तान जो रुट ने भारत के साथ अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में बुधवार को शुरू होने वाले तीसरे पिंकबॉल टेस्ट को लेकर कहा है कि पिंक बॉल टेस्ट में परिस्थितियों का लाभ उठाना इंग्लैंड का उद्देश्य है।

इंग्लैंड के कप्तान ने कहा कि उनका मानना है कि पिंक बॉल टेस्ट में तेज गेंदबाजों के लिए मदद इंग्लैंड के लिए फायदेमंद साबित हो सकती है और श्रृंखला के निर्णायक मोड़ में उसे शानदार स्थिति में ला सकती है। रुट ने यह भी माना है कि अहमदाबाद की पिच पर कुछ स्थितियों में स्पिन गेंदबाजों को भी सहायता मिलेगी।

रुट ने तीसरे टेस्ट से पहले वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में कहा, ''हम श्रृंखला में अभी 1-1 की बराबरी पर हैं। हमारे दृष्टिकोण से यह एक अच्छी स्थिति है। यह टेस्ट सभी खिलाड़ियों के लिए रोमांचक रहने वाला है। उपमहाद्वीप में भारत के खिलाफ खेलते हुए आप गेंद के स्पिन होने की उम्मीद करते हैं और मुझे यकीन है कि कुछ स्थितियों में ऐसा होगा, लेकिन अगर परिस्थितियां तेज गेंदबाजी के लिए अनुकूल हैं तो यह इंग्लैंड की परिस्थितियों जैसा होगा जो हमारे पक्ष में होना चाहिए। सारी बात उन परिस्थितियों को संभालने के ऊपर है, जिनका हम गेंद के साथ लाभ उठाने की पूरी कोशिश करेंगे।''

रुट ने कहा,''अगर हम कुछ करना चाहेंगे तो वह एडिलेड में भारत के उस मैच जैसा होगा, जिसमें वह 36 रन पर ऑलआउट हो गई थी, लेकिन इसके लिए हमें उचित रणनीति से खेलना होगा, बीच-बीच में भारतीय बल्लेबाजों पर दबाव बनाना होगा, अच्छी लाइन पर गेंदबाजी करनी होगी और डिफेंस शॉट्स को चुनौती देनी होगी। भारतीय टीम का 36 रन पर ऑलआउट हमारा फोकस होगा, क्योंकि यह भारतीय टीम के लिए चिंता की बात होगी और उसके दिमाग में कहीं न कहीं यह बात चल रही होगी।''

रुट ने पहले दो टेस्ट में दोनों टीमों की जीत में टॉस को महत्वपूर्ण बताए जाने पर प्रतिक्रिया देने के साथ-साथ टॉस के बिना मेहमान टीम के कप्तान को क्रिकेट के किसी भी प्रारूप में बल्लेबाजी या गेंदबाजी करने का फैसला लेने की मंजूरी दिए जाने की बात को खारिज किया है। उन्होंने कहा,''सभी टीमें घरेलू मैदानों पर लाभ की हकदार हैं और मैं इस बात से सहमत हूं। आप दुनिया में जहां भी जाए यह मुश्किल होता है और मुझे यह काफी पसंद है। यह टेस्ट क्रिकेट की जटिलताओं में से एक है जो इसे इतना सुंदर खेल बनाती है। पिछले हफ्ते की बात करें तो मुझे नहीं लगता कि यह एक शानदार पिच थी, लेकिन साथ ही मैं मानता हूं कि हम जीत के हकदार नहीं थे और मुझे नहीं लगता कि इसमें टॉस की कोई भूमिका है।

अगर हम विश्व की नंबर एक टीम बनना चाहते हैं तो हमें बेहतर प्रबंधन करना होगा।'' इस बीच रुट ने यह पुष्टि की कि अब तक दौरे में मौजूद क्रिस वोक्स तीसरे टेस्ट के खत्म होने के बाद इंग्लैंड लौटेंगे। उन्होंने जोर देकर कहा कि यह चयन में प्रासंगिक नहीं होगा।

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co