हमारे खिलाड़ियों ने अपनी भूमिकाओं और जिम्मेदारियों को समझा है : धोनी
हमारे खिलाड़ियों ने अपनी भूमिकाओं और जिम्मेदारियों को समझा है : धोनीSocial Media

हमारे खिलाड़ियों ने अपनी भूमिकाओं और जिम्मेदारियों को समझा है : धोनी

सीएसके के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने आरसीबी को छह विकेट से हराने के बाद कहा कि उनके खिलाड़ियों ने कड़ी मेहनत की है और अपनी भूमिकाओं और जिम्मेदारियों को समझा है।

शारजाह। तीन बार की आईपीएल विजेता टीम चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने यहां शुक्रवार को आईपीएल 14 के 35वें मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) को छह विकेट से हराने के बाद कहा कि उनके खिलाड़ियों ने कड़ी मेहनत की है और अपनी भूमिकाओं और जिम्मेदारियों को समझा है।

धोनी ने मैच के बाद कहा, '' हम ओस को लेकर चिंतित थे और हमने पिछले सीजन यहां यह देखा था। बेंगलुरु ने शानदार शुरुआत की, हालांकि आठवें या नौवें ओवर के बाद पिच थोड़ी धीमी हो गई। पडिकल जिस तरह से एक छोर से बल्लेबाजी कर रहे थे, उस स्थिति में जडेजा का स्पैल काफी अहम था। मैंने ड्रिंक्स के दौरान मोईन से कहा कि वह एक छोर से गेंदबाजी करेंगे, लेकिन फिर मैंने अपना मन बदल लिया। फिर मैंने तय किया कि ब्रावो को गेंदबाजी करनी चाहिए, क्योंकि आप जितनी ज्यादा देरी से उन्हें लाएंगे, उनके लिए परिस्थितियां उतनी ही मुश्किल होंगी और उन्हें इन कठिन परिस्थितियों में लगातार चार ओवर करने होंगे।"

हमारे खिलाड़ियों ने कड़ी मेहनत की है और अपनी भूमिकाओं और जिम्मेदारियों को समझा है। यहां तीनों मैदान अलग-अलग हैं। यह सबसे धीमे हैं। मुझे लगता है कि यहां बल्ले के साथ बाएं और दाएं हाथ का संयोजन महत्वपूर्ण था। हमारे पास बल्लेबाजी में काफी गहराई है, जिसमें बाएं हाथ के काफी बल्लेबाज हैं और ये सभी किसी भी पोजिशन पर बल्लेबाजी करने के लिए अच्छे हैं, यही वजह है कि हमने रैना और रायुडू को थोड़ा नीचे भेजा। ब्रावो फिट हैं और खुद को अच्छी तरह से क्रियान्वित कर रहे हैं। मैं उन्हें अपना भाई कहता हूं और हमारे बीच हमेशा इस बात को लेकर झगड़ा होता है कि क्या उन्हें धीमी गेंद फेंकनी चाहिए, लेकिन अब हर कोई जानता है कि उनके पास धीमी गेंद है, इसलिए मैंने उन्हें एक ओवर में छह अलग-अलग गेंद फेंकने को कहा।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.