पाकिस्तान में मैच फिक्सिंग को अपराध बनाने के प्रस्ताव को हरी झंडी

मैच फिक्सिंग को अपराध घोषित करने के लिए प्रस्ताव पारित किया गया था, जिसे लेकर अब इमरान खान से मंजूरी मिल गई है।
पाकिस्तान में मैच फिक्सिंग को अपराध बनाने के प्रस्ताव को हरी झंडी
पाकिस्तान में मैच फिक्सिंग को अपराध बनाने के प्रस्ताव को हरी झंडीSocial Media

राज एक्सप्रेस। पाकिस्तान में मैच फिक्सिंग को अपराध घोषित करने के लिए प्रस्ताव पारित किया गया था, जिसे लेकर अब मंजूरी मिल गई है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की भ्रष्टाचार निरोधक संहिता में संशोधन और फिक्सिंग को अपराध बनाने के प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी है। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पीसीबी के अध्यक्ष एहसान मनी की सप्ताह की शुरुआत में इमरान से चर्चा हुई थी। इस चर्चा के दौरान इस बात की मंजूरी मिली। इमरान खान ने कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के बीच टीम को इंग्लैंड दौरे पर जाने की अनुमति भी दे दी है।

पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान ने दी मंजूरी

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक इमरान ने नए कानून और प्रस्तावों को स्वीकार किया और समर्थन भी किया। साथ ही पीसीबी के डायरेक्टर एहसान मनी को इसे कानून तथा संबंधित मंत्रालय से मंजूरी दिलाने के लिए भी कहा है, ताकि इसे संसद में रखा जा सके।

अब मैच फिक्सिंग हुई तो इन नए नियमों के अनुसार होगा अपराध

नए नियमों के मुताबिक बोर्ड मैच फिक्सिंग और स्पॉट फिक्सिंग को अपराध का दर्जा देगा और इसके लिए कड़े दंड का भी प्रावधान रखा जाएगा। जिसमें खिलाड़ी को या किसी कर्मचारी को जेल भी जाना पड़ सकता है। आपको बता दें कि अब तक पीसीबी अंतर्रष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) के ही भ्रष्टाचार निरोधक आचार संहिता का पालन करता आया है।

फिलहाल पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा पीसीबी के अध्यक्ष से चर्चा कर इस प्रावधान को मंजूरी तो मिली है, लेकिन अब देखना यह है कि कितनी जल्दी इसको आगे लागू कर अमल में लाया जाता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co