Raj Express
www.rajexpress.co
कोरिया ओपन 2019 में कश्यप का सफर थमा
कोरिया ओपन 2019 में कश्यप का सफर थमा|Social Media
खेल

बैडमिंटन : कोरिया ओपन 2019 में बाहर हुए 'कश्यप'

कोरिया ओपन 2019 में कश्यप का सफर थमा, कश्यप को जापान के वर्ल्ड नंबर 1 खिलाड़ी केंटो मोमोता ने शिकस्त देते हुए फाइनल में जगह बना ली है।

Ankit Dubey

राज एक्सप्रेस। भारत की ओर से शानदार खेल दिखाते हुए सेमीफाइनल में जगह बनाने वाले खिलाड़ी पारुपल्ली कश्यप का सफर कोरिया 2019 में थम गया है। पारुपल्ली कश्यप को जापान के वर्ल्ड नंबर 1 खिलाड़ी केंटो मोमोता ने शिकस्त देते हुए फाइनल में जगह बना ली है। वैसे तो ये गेम शुरू में ऐसा लग रहा था की किसी भी ओर जा सकता है पर अंत तक नतीजा कुछ और ही सामने आया और एक बेहद अहम मुकाबले में कश्यप को हार का सामना करना पड़ा।

क्यों करना पड़ा हार का सामना

दरअसल पारुपल्ली कश्यप अच्छा खेल दिखा रहे थे, वर्ल्ड के नंबर-6, कश्यप, जो अकेले भारतीय इस टूर्नामेंट में बचे थे उनका मुकाबला 40 मिनट चला जिसमे वे 13-21 15-21 से दो बार के विश्व विजेता मोमोता के सामने न चल ना सके, वर्ल्ड नंबर-1 खिलाड़ी केंटो मोमोता के आगे उनका खेल फीका नज़र आया और केंटो ने कश्यप को आसानी से इस मुकाबले में हरा दिया। कश्यप इस हार से बेहद निराश दिखे।

भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी पारुपल्ली कश्यप वर्ष 2014 के राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता, क्वालिफाइंग राउंड से पदोन्नत किया गया था, वे आखिरी बार मोमोता को इंडोनेशिया ओपन में चार साल पहले खेले थे , शनिवार को हुए इस मुकाबले से पहले जापानी के खिलाफ कश्यप का 0-2 का रिकॉर्ड भी रह चुका है।

किस तरह रहा सेमीफाइनल का सफर

पारूपल्ली कश्यप शानदार खेलते हुए शुरू से ही बढ़त बनाते हुए खेल रहे थे, उन्होंने अहम मुकाबले में डेनमार्क के जेन औ जोर्गेनसेन को हराया था जिसके बाद वो सेमी में जगह हासिल कर सके। पहला गेम 24-22 से जीतने के लिए कश्यप ने कड़ी मेहनत की जिसके बाद दूसरे गेम में भारतीय शटलर ने जोर्गेनसेन को कोई मौका नहीं दिया। कश्यप के प्रतिद्वंद्वी, केंटो मोमोता ने मलेशिया के ली जी जिया को क्वार्टर फाइनल में हराया था।