Raj Express
www.rajexpress.co
5 Players Started Career From World Cup match
5 Players Started Career From World Cup match|Kavita Singh Rathore -RE
खेल

जब क्रिकेट की महाभारत में भारत के खिलाफ उतरे पांच पांडव

“टीम ने मनोज प्रभाकर, जवागल श्रीनाथ, वेंकटेश प्रसाद, अनिल कुंबले, एस राजू जैसे बॉलिंग अटैक के सामने न केवल पूरे पचास ओवर खेले बल्कि छह विकेट खोकर 199 रन बनाए।”

Neelesh Singh Thakur

हाइलाइट्स :

  • वर्ल्ड कप मैच से किया करियर का आगाज

  • टीम के फर्स्ट वनडे इंटरनेशनल मैच में की ऐसे एंट्री

  • बाद में और भी कई भाईयों ने टीम में बनाई अपनी जगह

राज एक्सप्रेस। आपको अचरज हो सकता है कि, कोई देश अपना पहला ही अंतरराष्ट्रीय लेवल का एक दिवसीय क्रिकेट मैच खेलने वाला हो वो भी क्रिकेट विश्वकप जैसे बड़े आयोजन पर, तब उसकी टीम से एक नहीं दो नहीं बल्कि पूरे पांच रिश्तेदार भाईयों ने भारत जैसी मजबूत और अनुभवी खिलाड़ियों की टीम के खिलाफ ODI क्रिकेट मैच डेब्यू किया।

एक और बात वो तो जगह कम थी वरना बाकी के भाई भी खेल सकते थे, जो बैंच पर बैठे रहे हालांकि बाद में जब मौका मिला तो वो भी टीम का जरूरी हिस्सा बनते गए। याद करने काफी होगा 18 फरवरी 1996 में भारत के कटक में खेला गया विल्स वर्ल्ड कप प्रतियोगिता का छठवां मैच जिसमें सचिन तेंदुलकर और अजय जडेजा ने भी रिकॉर्ड रचा था।

Wills World Cup 1996
Wills World Cup 1996
Kavita Singh Rathore -RE

जिस देश ने भारत जैसी टीम के खिलाफ अपने पहले ही मैच में पांच भाइयों को उतारा था वो टीम थी केन्या। पहली पारी में खेलते हुए केन्या ने मनोज प्रभाकर, जवागल श्रीनाथ, वेंकटेश प्रसाद, अनिल कुंबले, एस राजू जैसे बॉलिंग अटैक के सामने न केवल पूरे पचास ओवर खेले बल्कि छह विकेट खोकर 199 रन बनाए। टीम की ओर से दीपक चुडास्मा ने 29 जबकि स्टीव टिकोलो ने 83 गेंदों पर 65 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली।

जवाब में भारत ने 49 गेंद शेष रहते 41.5 ओवर्स में काफी आसानी से 3 विकेट के नुकसान पर 203 रन बना लिए। कटक के बाराबती स्टेडियम में खेलते हुए भारतीय कप्तान मोहम्मद अजहरउद्दीन ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग चुनी। इस मैच में प्लेयर ऑफ द मैच सचिन तेंदुलकर इसलिए रहे क्योंकि, उन्होंने न केवल 138 गेंदों पर ताबड़तोड़ अंदाज में 127 रन बनाए बल्कि अजय जडेजा (57) के साथ सलामी साझेदारी के रूप में रिकॉर्ड तोड़ 163 रनों की पार्टनर्शिप भी की।

भारत की ओर से अनिल कुंबले ने मैच में 10 ओवर में 28 रन खर्च कर 3 जबकि लेफ्ट आर्म स्पिनर वेंकटपति राजू ने 34 रन देकर 2 विकेट लिए। केन्या की ओर से आसिफ करीम ने किफायती गेंदबाजी की और 10 ओवर में मात्र 27 रन देकर 1 विकेट लिया। जबकि स्टीव टिकोलो को 3 ओवर में 26 रन देकर 1 विकेट हासिल हुआ।

अब वो पांच भाई कौन थे जो केन्या के फर्स्ट इंटरनेशनल वनडे मैच से दुनिया से मुखातिब हुए? तो इसका जवाब है ये.... टीम आप खुद ही गिनिए-

एक दिवसीय मैच पदार्पण-

  • दीपक चुडास्मा (Dipak Chudasama)

  • केनेडी ओटिनो (Kennedy Otieno)

  • स्टीव टिकोलो (Steve Tikolo)

  • मॉरिस ओडुंबे (Maurice Odumbe)

  • हितेश मोदी (Hitesh Modi)

  • थॉमस ओडोयो (Thomas Odoyo)

  • टिटो ओडुंबे (Tito Odumbe)

  • आसिफ करीम (Aasif Karim)

  • डेविड टिकोलो (David Tikolo)

  • मार्टिन सूजी (Martin Suji)

  • रजब अली (Rajab Ali)

तो पता तो चल ही गया होगा कि कौन-कौन भाई रहे होंगे? स्टीव टिकोलो, डेविड टिकोलो, मॉरिस ओडुंबे, टिटो ओडुंबे, मार्टिन सूजी। (टी-सूजी- ये अंतिम ग्यारह में शामिल नहीं हो पाए)। भाई लोगों की भरमार वाले केन्या टीम के इस मोस्ट अवेटेड मैच में अंपायर बतौर केटी फ्रांसिस, डेविड शेफर्ड जबकि क्लाइव लॉयड बतौर मैच रैफरी गवाह रहे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।