5 गेंदबाजों को खिलाने से हमेशा भारत को विदेश में सीरीज जीतने में मदद मिली : भरत अरुण
5 गेंदबाजों को खिलाने से हमेशा भारत को विदेश में सीरीज जीतने में मदद मिली : भरत अरुणSyed Dabeer Hussain - RE

5 गेंदबाजों को खिलाने से हमेशा भारत को विदेश में सीरीज जीतने में मदद मिली : भरत अरुण

भरत अरुण ने कहा कि रवि शास्त्री और विराट कोहली के सभी परिस्थितियों में 5 गेंदबाजों को खिलाने के फैसले से भारत को ऑस्ट्रेलिया सहित विदेश में कई सीरीज जीतने में मदद मिली है।

दुबई। भारतीय क्रिकेट टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने रविवार को कहा कि मुख्य कोच रवि शास्त्री और कप्तान विराट कोहली के सभी परिस्थितियों में पांच गेंदबाजों को खिलाने के फैसले से भारत को ऑस्ट्रेलिया सहित विदेश में कई सीरीज जीतने में मदद मिली है। भरत ने कहा, ''टीम प्रबंधन और कप्तान ने हर बार हमेशा पांच गेंदबाजों के साथ खेलने का साहसिक कदम उठाया। मुझे लगता है कि यह सबसे सकारात्मक कदम था और इससे हमें विदेश में तीन प्रमुख श्रृंखलाएं जीतने में मदद मिली, जिसमें से दो लगातार ऑस्ट्रेलिया में थी।"

गेंदबाजी कोच ने कहा, ''हम एक ऐसी श्रृंखला जीतने के बहुत करीब आ गए हैं जो सिर्फ एक टेस्ट मैच के लिए अधर में लटकी हुई है, इसलिए मुझे लगता है कि यह सभी का एक संयुक्त प्रयास है जिसे हमने सच में बल बनाया है। मेरे हिसाब से यह जारी है और रहेगा। रवि और विराट एक संतुलित टीम बनाना चाहते हैं, जिसमें स्पिनर और तेज गेंदबाज हों, जो सभी परिस्थितियों में जीत सके और ऐसा होने के लिए हम अनुशासन के प्रति प्रेरित करने पर जोर दे रहे हैं, ताकि खिलाड़ी हर समय तरोताजा रहें।"

उन्होंने कहा, ''दरअसल इस तरह की गेंदबाजी इकाई बनाने में हमें थोड़ा समय लगा, लेकिन हमें एक ऐसा कार्यभार सुनिश्चित करना था जो तेज गेंदबाजों को किसी भी समय फिट रख सके, ताकि हम उन्हें रोटेट भी कर सकें।"

अरुण ने अपने करियर के अंत में जसप्रीत बुमराह को छोड़कर तेज गेंदबाजों के साथ तेज गेंदबाजी इकाई के परिवर्तन के संबंध में एक सवाल के जवाब में कहा, '' भारत में बहुत तेज गेंदबाजी प्रतिभा है, जिसमें मोहम्मद सिराज और प्रसिद्ध कृष्णा जैसे खिलाड़ी शामिल हैं और सिराज तथा प्रसिद्ध जैसे खिलाड़ियों के आने से भारत का तेज गेंदबाजी अटैक काफी बेहतर हो गया है। देश में कई अन्य रोमांचक तेज गेंदबाजी संभावनाएं भी हैं। मुझे लगता है कि आने वाले दिनों में वे एक ताकत बनेंगे।"

गेंदबाजी कोच ने एक सवाल के जवाब में स्वीकार किया कि टीम मौजूदा टी-20 विश्व कप 2021 के अपने पहले मैच में थोड़ी खराब दिख रही थी, लेकिन दुबई में टॉस एक बड़ी भूमिका निभाता है। उन्होंने कहा, '' मैं कोई बहाना नहीं दे रहा हूं, लेकिन इस विश्व कप में यह चलन रहा है कि टॉस जीतने वाली टीम को बड़ा फायदा होता है, खासकर जब आप दुबई में खेल रहे हों। जब आप दूसरी पारी में गेंदबाजी करते हैं तो विकेट आसान हो जाता है। यह कोई बहाना नहीं है, हमें बेहतर करना चाहिए था। पहले मैच में हमारे पास अपने स्कोर को डिफेंड करने का मौका था, लेकिन हमने इसे थोड़ा कम स्कोर आंका।"

अरुण ने गेंदबाजी कोच के रूप में अपने कार्यकाल के बारे में कहा, ''यह उनके लिए एक शानदार और उत्कृष्ट यात्रा रही है। उतार-चढ़ाव आए हैं, लेकिन उन्होंने जारी रखा। टीम उस समय की तुलना में काफी बेहतर स्थिति में है जब उन्होंने शुरुआत की थी। इसको लेकर बहुत खुश हूं कि हमारे पास इस तरह की गेंदबाजी है। हमने एक टीम के रूप में विदेश में सफलता हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत की और हम इसे हासिल करने के लिए आगे बढ़े।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co