प्रणीत सीधे क्वालीफिकेशन में दावेदारी करने वाले भारत के अकेले खिलाड़ी
प्रणीत सीधे क्वालीफिकेशन में दावेदारी करने वाले भारत के अकेले खिलाड़ीSocial Media

प्रणीत सीधे क्वालीफिकेशन में दावेदारी करने वाले भारत के अकेले खिलाड़ी

बी साई प्रणीत टोक्यो ओलम्पिक में सीधे क्वालीफिकेशन में दावेदारी करने वाले भारत के अकेले बैडमिंटन खिलाड़ी हैं।टोक्यो की दौड़ में उनका दावा ओलंपिक क्वालीफिकेशन सूची में उनकी रैंकिंग(13) के माध्यम से है।

राज एक्सप्रेस। बी साई प्रणीत टोक्यो ओलम्पिक गेम्स में सीधे क्वालीफिकेशन में दावेदारी करने वाले भारत के अकेले बैडमिंटन खिलाड़ी हैं। टोक्यो की दौड़ में उनका दावा ओलंपिक क्वालीफिकेशन सूची में उनकी रैंकिंग (13) के माध्यम से है। बैंकॉक में साल की शुरुआत परेशानी भरी रही, इसके बाद उन्हें योनेक्स थाईलैंड ओपन में नीची रैंक वाले कांताफॉन वांगचारोएन ने राउंड-32 में बाहर कर दिया। वह कोविड-19 टेस्ट पॉजीटिव आने के बाद टोयोटा थाईलैंड ओपन में भाग नहीं ले सके।

प्रणीत ने ओलंपिक चैनल से कहा , मैंने बिना किसी गलती के अपना तीन सप्ताह का समय बर्बाद कर दिया। मानसिक रूप से यह बहुत भार डालने वाला है। हर टूर्नामेंट में आपको कई बार कोविड टेस्ट करवाना होता है। परिणाम कभी-कभी गलत भी होते हैं। भारत लौटने के बाद उन्होंने कड़ी मेहनत की और बाद की प्रतियोगिताओं जैसे स्विस ओपन और प्रतिष्ठित ऑल इंग्लैंड ओपन पर अपनी निगाहें टिका दीं।

उन्होंने बासेल में क्वार्टर फाइनल तक पहुंच कर अच्छा प्रदर्शन किया। लेकिन एक बार फिर ब्रिटेन में ऑल इंग्लैंड ओपन में कोविड की स्थिति के कारण चीजों ने एक खतरनाक मोड़ ले लिया। प्रणीत ने कहा हम नहीं जानते थे कि क्या वे हमें अंतिम क्षण तक खेलने की अनुमति देंगे। हम तीन दिनों तक कमरे में बंद रहे और वहां से सीधे मैच खेलने के लिए गए। लेकिन, प्रणीत में जंग खाने जैसे कोई लक्षण नहीं दिखे।

उन्होंने पहले दौर में अपने प्रतिद्वंद्वी को पीछे छोड़ दिया और स्विस खिलाड़ी विक्टर एक्सेलसन से ऊपर आ गए। प्रणीत ने कहा, ऑल इंग्लैंड टूर्नामेंट में मेरे लिए फिटनेस एक परेशानी का विषय था। यदि सब कुछ आसानी से चलता और मैं अच्छी शेप में होता, तो मैं बहुत बेहतर खेल सकता था। हार से सबक लेते हुए प्रणीत ने टोक्यो की यात्रा से पहले अपनी फिटनेस में सुधार करने पर ध्यान केंद्रित किया है क्योंकि, उन्हें लगता है कि तकनीकी रूप से उनके और दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के बीच ज्यादा अंतर नहीं है। भारतीय खिलाड़ी ने कहा, मुझे अपने खेल से ज्यादा समस्या नजर नहीं आती, लेकिन मुझे और फिट रहने की जरूरत है।

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co