हार्दिक पर गेंदबाजी का बहुत दबाव डालना उनकी बल्लेबाजी को प्रभावित कर सकता है : जयवर्धने
हार्दिक पर गेंदबाजी का बहुत दबाव डालना उनकी बल्लेबाजी को प्रभावित कर सकता है : जयवर्धनेSocial Media

हार्दिक पर गेंदबाजी का बहुत दबाव डालना उनकी बल्लेबाजी को प्रभावित कर सकता है : जयवर्धने

मुंबई इंडियंस के मुख्या कोच महेला जयवर्धने का मानना है कि आलराउंडर हार्दिक पांड्या को मौजूदा आईपीएल में गेंदबाजी करने के लिए बहुत ज्यादा दबाव डालना उनकी बल्लेबाजी पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है।

दुबई। मुंबई इंडियंस के मुख्या कोच महेला जयवर्धने का मानना है कि आलराउंडर हार्दिक पांड्या को मौजूदा आईपीएल में गेंदबाजी करने के लिए बहुत ज्यादा दबाव डालना उनकी बल्लेबाजी पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है। जयवर्धने ने शुक्रवार को कहा था कि हार्दिक की फिटनेस और गेंदबाजी की तैयारी को लेकर फ़्रेंचाइजी भारतीय टीम प्रबंधन के संपर्क में है। उन्होंने कहा कि हार्दिक की फिटनेस का दैनिक आधार पर मूल्यांकन किया जा रहा था, लेकिन जब तक ये ऑलराउंडर पूरी तरह से तैयार नहीं हो जाता, तब तक मुंबई उन्हें गेंदबाजी करने के लिए नहीं कहेगी।

जयवर्धने ने कहा, क्योंकि हार्दिक ने श्रीलंका दौरे के बाद से लंबे समय तक गेंदबाजी नहीं की है। इससे पहले कि उन्हें एक और परेशानी हो हम उस प्रक्रिया में क़ामयाब होने का प्रयास कर रहे हैं, जिससे वह गुजर रहे हैं। यह हार्दिक के लिए सबसे अच्छा है। वह शनिवार को दिल्ली कैपिटल्स के साथ मुंबई के मैच से पहले पत्रकार वार्ता में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा और हां, मैं समझता हूं विश्व कप भी है। हम भारतीय प्रबंधन टीम से बात कर रहे हैं और सुनिश्चित करते हैं कि जितनी जल्दी वह सहज महसूस करे, हम उसे गेंदबाजी कार्यक्रम में ले जाएं और उसे तैयार करें।

अक्टूबर 2019 में पीठ की सर्जरी से वापसी के बाद से हार्दिक ने 41 मैचों में सिर्फ 46 ओवर ही फेंके हैं। इस अवधि में, उन्होंने सिर्फ सफ़ेद गेंद वाली क्रिकेट खेली है, हालांकि वह इस साल की शुरुआत में इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज के लिए टीम में थे। हार्दिक ने पिछली बार 25 जुलाई को श्रीलंका में टी-20 सीरीज के दौरान गेंदबाजी की थी, तब उन्होंने दो ओवर किए थे। हार्दिक ने 2020 के आईपीएल के बाद से मुंबई के लिए गेंदबाजी नहीं की है और विशुद्ध बल्लेबाज के रूप में खेले हैं। हालांकि इससे मुंबई की गेंदबाजी रणनीति प्रभावित हुई है, जयवर्धने ने कहा कि आईपीएल के तुरंत बाद शुरू होने वाले टी-20 विश्व कप के लिए हार्दिक भारतीय टीम का हिस्सा हैं। ऐसे में फ़्रेंचाइजी धैर्य रखना जारी रखेगी।

न केवल मुंबई, बल्कि भारतीय टीम प्रबंधन, साथ ही राष्ट्रीय चयनकर्ता भी हार्दिक की गेंदबाजी फिटनेस की निगरानी करेंगे, क्योंकि भारत ने 15 की प्रारंभिक टीम में केवल तीन विशेषज्ञ तेज गेंदबाजों को चुना है। टीम की घोषणा करते समय, मुख्य चयनकर्ता चेतन शर्मा ने कहा था कि हार्दिक फिट थे और विश्व कप के दौरान अपने ओवरों का पूरा कोटा डालेंगे। जयवर्धने ने कहा कि हार्दिक अब भी एक बल्लेबाज के तौर पर 'खास' हैं।

जयवर्धने ने कहा, वह आईपीएल में गेंदबाजी कर सकता है या नहीं, यह कुछ ऐसा है जिसे हमें रोजाना देखना होगा और मूल्यांकन करना होगा और फिर देखना होगा कि वह कैसे आगे बढ़ता है। मैं सभी की चिंताओं को समझता हूं, लेकिन हमें वह करने की जरूरत है जो हार्दिक और उसके लिए सबसे अच्छा हो। और हां, वह एक गेंदबाज के रूप में भी एक खास होगा। इस समय अगर हम बहुत ज्यादा धक्का देते हैं, तो यह एक ऐसा मुद्दा हो सकता है जहां वह संघर्ष भी कर सकता है और एक बल्लेबाज के रूप में उस पर प्रभाव पड़े।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.