मणिपुर की नायाब "मणि" वो बॉलर, जिसे है 10 विकेट लेने की आदत!

“मणिपुरी मणि” ने पहले तो पहली पारी की गेंदबाजी में 8 विकेट लेकर मिज़ो टीम को घंटे भर के भीतर मात्र 65 रन के स्कोर पर समेटने में अहम भूमिका निभाई इसके बाद बल्लेबाजी में भी भरोसेमंद पारी खेली।"
मणिपुर की नायाब "मणि" वो बॉलर, जिसे है 10 विकेट लेने की आदत!
Unsurpassed Bowler from ManipurSocial Media

हाइलाइट्स :

  • कभी ताइक्वांडो खिलाड़ी बनने की थी ललक

  • क्रिकेट के मैदान में दिखा रहा गेंदबाजी की धार

  • लेफ्ट आर्म मीडियम फास्ट गेंदबाजी के सभी कायल

  • कूच बिहार ट्रॉफी की एक इनिंग में लिए थे 10 विकेट

  • रणजी ट्रॉफी की एक पारी में मिजोरम के झटके 8 विकेट

राज एक्सप्रेस। कूच बिहार के पिछले साल के सत्र में एक पारी में 10 विकेट लेकर चमकने वाला मणिपुर राज्य का प्रतिभावान क्रिकेटर इस साल रणजी ट्रॉफी में भी अपनी चमक बिखेर रहा है। मिज़ोरम की पहली पारी को महज घंटे भर में समेटने में भी इस “मणिपुरी मणि” की बांये हाथ की धारदार गेंदबाजी का प्रमुख योगदान रहा। गेंदबाज ऑलराउंडर ने फर्स्ट इनिंग में 10 में से 8 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई।

ताइक्वांडो से क्रिकेट :

कभी ताइक्वांडो में भविष्य बनाने का सपना देखने वाले इम्फाल में 30 अगस्त वर्ष 2000 को जन्मे मणिपुर राज्य के आर. आर. सिंह यानी राजकुमार रेक्स सिंह को क्रिकेट ऐसा भाया कि उन्होंने क्रिकेटर बनने की ही ठान ली। आज आलम ये है कि 19 साल के इस लेफ्ट आर्म मीडियम फास्ट स्विंग बॉलर की गेंदबाजी बल्लेबाजों की समझ से परे है।

दस का दम :

पिछले साल कूच बिहार ट्रॉफी में रेक्स सिंह ने एक पारी में पूरे दस विकेट हासिल कर इतिहास रच दिया था। रणजी ट्रॉफी के इस सीजन में भी रेक्स सिंह ने उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन किया और एक के बाद एक तड़ातड़ विकेट चटकाकर मिज़ोरम टीम की बखिया उधेड़ कर रख दीं।

“मणिपुरी मणि” ने पहले तो पहली पारी की गेंदबाजी में 8 विकेट लेकर मिज़ो टीम को घंटे भर के भीतर मात्र 65 रन के स्कोर पर समेटने में अहम भूमिका निभाई इसके बाद बल्लेबाजी में भी भरोसेमंद पारी खेली। पहले दिन का खेल समाप्त होने तक सिंह 66 गेंदों पर 58 रन बनाकर नाबाद रहे। इस भरोसेमंद पारी में भी उन्होंने कुल जमा 8 बार गेंद को बाउंड्री तक पहुंचाया। यानी कि, 7 चौके और 1 छक्का मारा।

8 में से 5 गए 0 पर :

रेक्स ने जो कुल 8 विकेट हासिल किए, उनमें से 5 बल्लेबाज तो खाता तक नहीं खोल पाए और आयाराम-गयाराम की तर्ज़ पर पवेलियन जा पहुंचे। दरअसल कोलकाता में खेले जा रहे मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करने उतरी मिजोरम टीम रेक्स सिंह की कहर बरपाती गेंदों के सामने घंटा भर में ढेर हो गई। पहली पारी में रेक्स सिंह ने आठ ओवर में 22 रन देकर आठ बल्लेबाजों को आउट किया। मिजोरम के कुल 7 बल्लेबाज खाता तक नहीं खोल पाए इनमें से 5 को तो रेक्स ने ही पवेलियन पहुंचाया।

ओवर में 3 विकेट :

“मणिपुरी मणि” रेक्स सिंह ने अपने 8 विकेट्स में से 3 विकेट तो एक ओवर में ही झटके। उन्होंने एक समय एक ओवर में तीन विकेट लेकर मिज़ोरम के बल्लेबाजों में अपना खौफ पैदा कर दिया था।

रेक्स का टैक्स :

रेक्स सिंह ने सबसे पहले लाल्हमंगैहा को टीम के पांचवे ओवर में एलबीडब्ल्यू किया। रेक्स को टीम के सातवें ओवर की तीसरी, पांचवीं और छठवीं बॉल पर विकेट मिले। उन्होंने सातवें ओवर की तीसरी गेंद पर दूसरे ओपनर लाल्हरुआएज़ेला को बोल्ड, पांचवीं गेंद पर कप्तान केबी पवन को कैच आउट जबकि छठवीं गेंद पर के. वैनलालरुअता को पगबाधा आउट कर ओवर का तीसरा विकेट लिया।

रेक्स ने नौवें ओवर की छठवीं गेंद पर परवेज़ अहमद को पगबाधा जबकि 11वें ओवर की तीसरी गेंद पर लाल्हरुआई राल्ते को एलबीडब्ल्यू किया। फिर 13वें ओवर की तीसरी गेंद पर विकेट कीपर सईदिंग्लिआना सायलो को पगबाधा जबकि छठवीं गेंद पर जी लालबिआक्वेला को बोल्ड आउट कर दिया। रेक्स के 8 विकेट के अलावा बाकी बचे दो विकेट कोंठोउजाम को मिले।

कूच बिहार से किया कूच :

रेक्स सिंह ने अंडर-19 कूच बिहार ट्रॉफी के पिछले साल के सत्र में अरुणाचल प्रदेश के अरमानों पर पानी फेरा था। उन्होंने अरुणाचल के बल्लेबाजों पर जरा भी करुणा नहीं दिखाई और अपनी कहर बरपाती स्विंग गेंदों के दम पर पूरी टीम को पूरे दस विकेट लेकर चलता कर दिया था। तब उनकी गेंदों के वीडियो सोशल मीडिया में जमकर शेयर किये गए थे। दिग्गज क्रिकेटर भी इस गेंदबाज की गेंदबाजी के तब मुरीद नज़र आए थे।

मैच में रेक्स ने अपने 8 ओवर में से 4 ओवर मैडन फैंके, 22 रन दिए और 2.75 की इकोनॉमी से गेंदबाजी की। सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए रेक्स सिंह ने लगभग 88 के स्कोरिंग रेट से 66 गेंदों पर 58 रन जोड़े और पहले दिन का खेल समाप्त होने तक नाबाद रहकर बतौर बल्लेबाज भी अपनी उपयोगिता साबित की।

करियर खास-खास :

रेक्स सिंह लेफ्ट आर्म मीडियम फास्ट स्विंग गेंदबाज हैं और बांये हाथ से ही बल्लेबाजी भी करते हैं। अब तक प्रथम श्रेणी के खेले गए 2 मैचों में सर्वाधिक 10 रनों के साथ रिकॉर्ड में भी 10 रन ही जमा हैं।

गेंदबाजी की बात करें तो फर्स्ट क्लास करियर के मात्र दो मैचों की 3 पारियों में उन्होंने अपनी 270 गेंदों पर 160 रन खर्च कर 3 विकेट हासिल किए हैं। फर्स्ट क्लास मैच में उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 97 रनों पर 3 विकेट है।

लिस्ट ए लेवल पर रेक्स सिंह ने 12 मैच खेलकर 18 विकेट हासिल किए हैं। इस लेवल के क्रिकेट में उनका पारी और मैच में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 17 रन पर 5 विकेट है। इस स्तर के क्रिकेट में रेक्स एक बार चार विकेट और एक बार पांच विकेट लेने का कारनामा कर चुके हैं।

टी20 :

रेक्स ने 4 टी20 मैच खेलकर 26 रन पर 3 विकेट का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है। इस लेवल पर उनके नाम कुल जमा 3 विकेट दर्ज हैं। सिंह ने फर्स्ट क्लास पदार्पण सिक्किम के खिलाफ पिछले साल नवंबर में किया था। लिस्ट ए डेब्यू पुडुचेरी के खिलाफ, जबकि टी20 डेब्यू राजस्थान के खिलाफ किया।

देखना ये है कि, कूच बिहार ट्रॉफी के बाद रणजी ट्रॉफी में चमक बिखेर रही “मणिपुरी मणि” रेक्स सिंह पर सिलेक्टर्स कब मेहरबान होते हैं और ‘रेक्स’ इंटरनेशनल लेवल क्रिकेट के लिए कब कूच कर पाते हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co