ईसीबी के फैसले पर बोले रमीज राजा, हम ठगा हुआ महसूस कर रहे हैं
ईसीबी के फैसले पर बोले रमीज राजा, हम ठगा हुआ महसूस कर रहे हैंSocial Media

ईसीबी के फैसले पर बोले रमीज राजा, हम ठगा हुआ महसूस कर रहे हैं

रमीज राजा ने ईसीबी के इंग्लैंड की पुरुष और महिला क्रिकेट टीम के पाकिस्तान दौरे को रद्द करने की फैसले की आलोचना करते हुए कहा कि बोर्ड ठगा हुआ महसूस कर रहा है।

इस्लामाबाद। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के अध्यक्ष रमीज राजा ने इंंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के अगले महीने इंग्लैंड की पुरुष और महिला क्रिकेट टीम के पाकिस्तान दौरे को रद्द करने की फैसले की आलोचना करते हुए कहा कि बोर्ड ठगा हुआ महसूस कर रहा है। उन्होंने कहा कि यह ईसीबी का बहाना है। रमीज ने कहा, अपने क्रिकेट बिरादरी के सदस्य की प्रतिबद्धता से पीछे हटने को लेकर इंग्लैंड से बहुत निराश हूं। इंशाअल्लाह हम बने रहेंगे। यह पाकिस्तान टीम के लिए दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीम बनने का एक संकेत है। ऐसा होने पर अन्य टीमें बिना किसी बहाने के पाकिस्तान के साथ खेलने के लिए लाइनों में खडी होंगी।

रमीज ने ईसीबी के फैसले की आलोचना करते हुए पिछले दो अंग्रेजी समर क्रिकेट सत्रों में पाकिस्तान द्वारा निभाई गई महत्वपूर्ण भूमिका पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान टीम ने पिछले सीजन कोरोना महामारी के शुरुआती चरण के दौरान सख्त बायो-बबल (जैव-सुरक्षित) परिस्थितियों में इंग्लैंड में तीन टेस्ट और तीन टी-20 खेले थे, जिससे ईसीबी को बड़े वित्तीय नुकसान से बचने में मदद मिली। रमीज ने कहा, कोरोना की स्थिति के दौरान इंग्लैंड की मदद के लिए हमने पिछले सीजन में जो भी बलिदान दिया, वह व्यर्थ गया, इसलिए हमने एक सबक सीखा है। यह बहुत ही निराशाजनक है। अब समय आ गया है कि इंग्लैंड हमारी मदद के लिए आगे आए, क्योंकि हमारी छोटी क्रिकेट बिरादरी भी यही करती है। ईसीबी के इस फैसले का दूरगामी प्रभाव हो सकता है और अन्य टीमें भी इसका अनुसरण कर सकती हैं।

उल्लेखनीय है कि ईसीबी ने अपने खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ के शारीरिक और मानसिक हित को प्राथमिकता का हवाला देते हुए इंग्लैंड पुरुष और महिला क्रिकेट टीम का अगले महीने निर्धारित पाकिस्तान का दौरा रद्द कर दिया था। रिपोर्टों में हालांकि यह भी कहा गया है कि ईसीबी को भी सप्ताहांत में वही सुरक्षा ब्रीफिंग दी गई थी जो पिछले हफ्ते न्यूजीलैंड क्रिकेट को दी गई थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.