Raj Express
www.rajexpress.co
Ravindra Jadeja टेस्ट मैच
Ravindra Jadeja टेस्ट मैच|Social Media
खेल

Test Series 2019: रविंद्र जडेजा ने रचा इतिहास, दक्षिण अफ्रीकी पारी 431 पर सिमटी

भारत दक्षिण अफ्रीका के बीच चल रहे पहले टेस्ट मैच में रविंद्र जडेजा ने एक शानदार इतिहास रच दिया है उन्होंने बेहतरीन बालिंग का प्रदर्शन करते हुए 2 विकेट लिये हैं।

Ankit Dubey

राज एक्सप्रेस। भारत दक्षिण अफ्रीका के बीच चल रहे पहले टेस्ट मैच में रविंद्र जडेजा ने एक शानदार इतिहास रचा, उन्होंने बेहतरीन बालिंग का प्रदर्शन करते हुए 2 विकेट लिये, जिसके बाद वो सबसे तेज़ 200 विकेट लेने वाले एक मात्र बाएं हाथ के गेंदबाज़ बन गए हैं। उन्होंने श्रीलंका के गेंदबाज़ रंगना हेराथ को पीछे छोड़ते हुए ये कारनामा किया है। जडेजा ने कुल 44 मैच खेलते हुए ये उपलब्धि हासिल की, वहीं श्रीलंका के गेंदबाज ने इसके लिए 47 मैच लिए थे। इन दोनों गेंदबाजों के बाद ऐसा करने वाले 2 ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज शामिल हैं, जिनमें तीसरा नाम पूर्व ऑस्ट्रेलियाई पेसर मिचेल जॉनसन (49) ,चौथे नंबर पर मिचेल स्टॉर्क (50) और पाचवें स्थान पर पूर्व भारतीय स्पिनर बिशन सिंह बेदी हैं जिन्होंने ये काम (51) मैच खेलते हुए किया था।

भारत की ओर से 200 विकेट लेने वालों में दूसरे स्थान पर

भारत की ओर से सबसे तेज़ 200 विकेट लेने वालों की बात करें तो इसमें अश्विन का नाम पहले आता है, जिन्होंने ये इतिहास 37 मैच में ही पूरा कर लिया था। उनके बाद भारत के शानदार स्पिनर और पूर्व कप्तान अनिल कुंबले जिन्होंने भारत के लिए टेस्ट में सबसे ज्यादा विकेट अर्जित किये हैं, उन्होंने इस के लिए कुल 47 मैच लिए थे।

दक्षिण अफ्रीका की पारी 431 पर सिमटी

मैच के बारे में बात करें तो दक्षिण अफ्रीका ने सुबह चौथे दिन के शुरू में जल्दी विकेट गवां दिए और उनकी पारी 431 रन पर सिमट गयी। दक्षिण अफ्रीका की और से उनके बल्लेबाजों ने अच्छा जज़्बा दिखाया और टीम को एक अच्छे सम्मानजनक टोटल तक लेकर गयी टीम में सलामी बल्लेबाज डीन एल्गर और क्विंटन डी कॉक ने शतक लगाए और टीम को फॉलो ऑन खलने से बचाया।

फ़िलहाल भारत की पारी जारी है

अगर भारत की बात करें तो अब भारत अच्छे खासे रनों की बढ़त लेते हुए दक्षिण अफ्रीका को लक्ष्य देने के इरादे से खेल रहा है , भारत के लिए भी बल्लेबाजी आसान नहीं होगी क्योंकि टेस्ट मैच के आखरी दिनों में बल्लेबाजी करना किसी में टीम के लिए आसान नहीं होता है। पिच गेंदबाजों के लिहाज से मादगार साबित होती नज़र आ रही है, खासकर स्पिन गेंदबाजों के लिए भारत में हमेशा ही अवसर रहते हैं, इसको देखते हुए भारत को संभल कर बल्लेबाजी करनी होगी और मैच जीतना है तो अच्छा लक्ष्य देना होगा और दक्षिण अफ्रीका को समय रहते आउट भी करना होगा आज चौथा दिन है कल तक का ही समय बचा है अगर इस मैच का कोई निर्णय निकालना है, तो भारत को आक्रामक क्रिकेट दिखाना होगा। साथ ही दक्षिण अफ्रीका की बात करें तो अगर उनको ये मैच अपने काबू में करना है तो उनको जल्द ही भारतीय बल्लेबाजों को चलता करना होगा और अगर वो ऐसा नहीं कर सके तो मैच उनके हाथ से फिसल सकता है, क्योंकि वैसे ही दक्षिण अफ्रीका मेहमान टीम होने के नाते खासे दबाव में होगी।

Ravichandran Ashwin
Ravichandran Ashwin
Social Media

रविचंद्रन अश्विन ने कहा क्रिकेट से दूर रहना आसान नहीं

रविचंद्रन अश्विन के लिए बेहद लम्बा समय है जब उन्होंने भारत के लिए मैच खेला और उन्होंने इसको लेकर अपनी राय भी पेश की उन्होंने कहा क्रिकेट से दूर रहना बेहद कठिन है और मैंने अपनी वापसी की हर संभव कोशिश भी की थी, मैंने अपने आप में काफी बदलाव भी किये और उनका असर भी हुआ, मैने नाटिंघमशर में काउंटी क्रिकेट खेला और टीएनपीएल मैच भी खेले। यहाँ खेलना भी अलग अनुभव था। अश्विन ने बताया की हर खिलाड़ी की ज़िंदगी में ऐसा दौर आता है कि वो टीम से बाहर हो जाता है पर डटकर वापसी करना बड़ी बात है वही मैंने भी किया। फ़िलहाल अश्विन ने बढ़िया गेंदबाजी करते हुए मैच में 7 विकेट भी लिए हैं और उन्होने कहा टीम के लिए 5 या उससे अधिक विकट लेना जबरदस्त अनुभव देता है इसकी ख़ुशी ही अलग होती है।