हारी बाजी ऐसे जीता RCB.
हारी बाजी ऐसे जीता RCB.|- Social Media
खेल

टाई मुकाबले के सुपर ओवर में ऐसे जीता RCB, इन ओवरों में बदला मैच का रुख

किशन और पोलार्ड ने MI की जीत तय कर ही दी थी लेकिन स्थितियां बदलीं और मैच टाई हो गया। श्वासरोधक मैच का नतीजा सुपर ओवर की आखिरी गेंद पर निकला।

Neelesh Singh Thakur

हाइलाइट्स –

  • हारी बाजी जीता RCB

  • RCB-201-3, MI- 201-5

  • फिर नहीं चले पांड्या/कोहली

  • ईशान-पोलार्ड की कोशिश नाकाम

राज एक्सप्रेस। यूएई के दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में हुए आईपीएल के 10वें मैच में मुंबई इंडियंस ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का विकल्प चुना। पहले बल्लेबाजी करने उतरे रॉयल चैलेंजर्स बैंगलौर के सलामी बल्लेबाजों देवदत्त पडिक्कल और आरोन फिंच ने टीम को सशक्त शुरुआत दी। दोनों बल्लेबाजों के बीच 75 रनों की साझेदारी हुई।

आरसीबी का पहला विकेट –

नौंवे ओवर की आखिरी गेंद पर आरोन फिंच के रूप में गिरा जो 35 गेंदों पर 52 रन बनाकर पवेलियन लौटे। फिंच को बोल्ट की गेंद पर पोलार्ड ने लॉन्ग ऑफ पर लपका। फिंच ने अपनी पारी में कुल 7 चौके और एक छक्का लगाया।

कोहली का खराब फॉर्म –

गावस्कर के कमेंट विवाद के साथ ही खराब फॉर्म से जूझ रहे कप्तान विराट कोहली के लिए आज का मैच भी पहली बार मिली बल्लेबाजी के मामले में अनलकी रहा। कप्तान कोहली 11 गेंद खेलने के बावजूद मात्र 3 रन ही जुटा पाए।

विराट कोहली को राहुल चाहर ने अपना शिकार बनाया। RCB के कप्तान विराट कोहली का कैच मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने लपका।

तीसरा विकेट –

इसके बाद खेलने उतरे एबी डीविलियर्स ने सलामी बल्लेबाज पडिक्कल के साथ रन की रफ्तार को बढ़ाया। RCB का आखिरी और तीसरा विकेट 18वें ओवर की पहली गेंद पर पडिक्कल के रूप में गिरा। पडिक्कल ने 5 चौकों और 2 सिक्सर की मदद से 40 गेंदों में 54 रनों की अर्धशतकीय पारी खेली।

RCB की तीसरी फिफ्टी –

पहले फिंच फिर पडिक्कल के बाद डीविलियर्स ने भी तेज बल्लेबाजी करते हुए 19वें ओवर में बुमराह की आखिरी गेंद पर छक्का मारकर मात्र 23 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा कर लिया।

साथी बल्लेबाज शिवम दुबे ने भी खुलकर शॉट लगाए। दुबे ने 3 छक्कों और 1 चौके की मदद से 10 गेंदों पर 27 रनों की उपयोगी पारी खेली। डीविलियर्स 24 गेंद पर 55 जबकि दुबे 10 गेंदों पर 27 रन बनाकर नाबाद लौटे।

कोहली की नाकामी -

मात्र कप्तान विराट कोहली की नाकाम पारी के अलावा इन सार्थक पारियों की मदद से रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने अपने खाते के पूरे 20 ओवरों में 3 विकेट खोकर 201 रन बनाए। क्रिकेट विश्लेषकों की राय है कि मौजूदा T20 क्रिकेटिंग ट्रैंड में यह छोटा स्कोर है, कोहली की टीम को इसमें 15 से 20 रन और जोड़ने चाहिए थे।

मुंबई को लगे शुरुआती झटके –

आरसीबी के 201 रन के टारगेट को पार करने कप्तान रोहित शर्मा की अगुवाई में उतरी MI को दूसरे ओवर की चौथी गेंद पर ही तगड़ा झटका लगा। कप्तान रोहित शर्मा एक सिक्सर के सहारे 8 गेंदों पर इतने ही रन बनाकर आउट हो गए।

कप्तान शर्मा को राइट आर्म ऑफ ब्रेक बॉलर वाशिंगटन सुंदर की गेंद पर सब्स्टीट्यूट यानी स्थानापन्न खिलाड़ी पवन नेगी ने लपका।

सुंदर की सुंदर चाल –इस सत्र में पहली बार ओपनिंग गेंदबाजी कर रहे सुंदर ने ओवर की पहली तीन गेंदों पर कोई रन नहीं दिया चौथी गेंद पर रोहित गलती कर बैठे और नेगी को कैच थमा दिया।

दूसरे विकेट से अंधेरा –

एमआई अभी कप्तान के सदमे से नहीं उबरी थी कि तीसरे ओवर की दूसरी ही गेंद पर टीम के कुल योग 16 रनों पर चमकता सितारा सूर्यकुमार यादव भी बगैर खाता खोले लौटा तो टीम की उम्मीदों पर अंधेरा छाने लगा। यादव का कैच डीविलियर्स ने इसुरु उदाना की गेंद पर पकड़ा।

नहीं चले डीकॉक –

क्विंटन डी कॉक से इस स्थिति में टीम को सहारे की जरूरत थी लेकिन वो भी टीम का स्कोर जब 6.4 ओवरों में 39 रन था तब तीसरे विकेट के तौर पर 1 चौके की मदद से 15 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। चहल की गेंद पर डी कॉक का भी कैच सब्स्टीट्यूट पवन नेगी ने पकड़ा।

पांड्या भी नाकाम –

इसके पहले वाले मैच में हिट विकेट होने वाले हार्दिक पांड्या इस मैच में भी कमाल नहीं दिखा पाए। ईशान किशन तो गेंदबाजों को तेवर दिखा रहे थे लेकिन पांड्या के खेल में लय का अभाव था।

पांड्या एक छक्के के सहारे 13 गेंदों पर मात्र 15 रन बना पाए उनको एडम ज़म्पा ने अपना शिकार बनाया। खास बात यह रही कि पांड्या का कैच भी सब्स्टीट्यूट नेगी ने ही पकड़ा।

मैच का रोमांच शुरू –

मुंबई का स्कोर 15 ओवर में 4 विकेट पर 112 रन था। जबकि 30 गेंदों पर कुल 90 रनों की जीतने के लिए जरूरत थी। किशन 61 और कीरोन पोलार्ड 10 रन बनाकर खेल रहे थे।

इसके बाद पोलार्ड ने वो कहर ढाया कि कोहली सेना को कुछ न भाया। पोलार्ड ने 16वें ओवर में जम्पा पर कहर बरपा दिया। पोलार्ड ने पहली गेंद पर चौका, फिर दूसरी-तीसरी-पांचवी गेंद पर छक्का मारकर ओवर में 27 रन लूट लिए।

चहल को सबक –

18वां ओवर करने उतरे चहल का स्वागत पोलार्ड ने छक्के के साथ किया फिर किशन ने चौथी गेंद पर शानदार सिक्सर मारा, तो छठवीं गेंद पर छक्का जड़कर पोलार्ड ने 20 गेंदों पर फिफ्टी पूरी कर ली। चहल के ओवर में 22 रन बने। अब एमआई को जीतने के लिए बारह गेंदों पर थी 31 रनों की दरकार।

19वें ओवर में फील्डर्स, बल्लेबाजों पर तनाव हावी हो रहा था। नवदीप सैनी ने अपने इस ओवर में एक वाइड और एक छक्का पड़ने के कारण 12 रन दिये।

छह गेंदों पर 19 रन -

आखिरी ओवर में जब टीम को मात्र 6 गेंदों पर 19 रनों की जरूरत थी तब किशन ने तीसरी और चौथी गेंदों पर छक्के जमाकर जीत की उम्मीदों को कायम रखा।

लेकिन इसुरु उदाना की अगली गेंद पर उनका कैच पडिक्कल ने लपक लिया। किशन मात्र एक रन से शतक चूक गए। ईशान किशन ने 58 गेंदों पर 99 रनों की पारी में 2 चौके और 9 छक्के जड़े।

आखिरी गेंद पर जीतने के लिए पांच रनों की जरूरत थी लेकिन पोलार्ड उस पर चार रन बनाकर मैच को टाई कराने में सफल रहे।

किशन और पोलार्ड ने MI की जीत तय कर ही दी थी लेकिन स्थितियां बदलीं और मैच टाई हो गया। श्वासरोधक मैच का नतीजा सुपर ओवर की आखिरी गेंद पर निकला।

सुपर ओवर में चमकी विराट किस्मत –

पांड्या का औसत प्रदर्शन – सुपर ओवर में पोलार्ड ने पहली गेंद पर 1, फिर पांड्या ने दूसरी गेंद पर एक रन बनाया। पोलार्ड तीसरी गेंद पर रन नहीं बना पाए। चौथी गेंद पर पोलार्ड ने 4 रन हासिल किए। पांचवी गेंद पर सैनी ने उनको आउट कर दिया।

पोलार्ड ने 4 गेंदों पर 5 रन बनाए उनका कैच गुरकीरत ने पकड़ा। सुपर ओवर में पांड्या उम्मीद से परे 2 गेंदों पर 2 रन बनाकर नाबाद लौटे।

चैलेंजर्स ने स्वीकारा चैलेंज –

मुंबई इंडियंस से जीतने के लिए आरसीबी को छह गेंदों पर 8 रन बनाने थे। कप्तान कोहली और एबी डीविलियर्स ने इस चुनौती को स्वीकारा। मुंबई की ओर से जसप्रीत बुमराह ने गेंदबाजी की कमान संभाली। बुमराह की पहली गेंद पर डीविलियर्स ने 1, दूसरी गेंद पर कोहली ने 1 रन बनाया।

तीसरी गेंद पर डीविलियर्स के लिए डी कॉक और बुमराह ने कैच आउट की अपील की, ग्राउंड अंपायर पॉल रिफेल ने आउट दिया, मामला रिव्यू पैनल तक गया, अल्ट्रा एज में कोई सबूत नहीं मिले तो निर्णय पलटा, हालांकि इस गेंद पर कोई रन नहीं बना जिससे आरसीबी को अब दो गेंदों पर 6 रन बनाने थे।

डीविलियर्स ने इस बार कोई चूक नहीं की और बुमराह की बाउंसर पर चौका जमा दिया। अब दो गेंदों पर दो रनों की जरूरत आरसीबी को जीतने के लिए थी। पांचवी गेंद पर डीविलियर्स ने एक रन लिया जिससे स्कोर की बराबरी हो गई। छठवीं गेंद पर कप्तान कोहली ने चौका मारकर टीम की जीत पर मुहर लगा दी।

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर -

प्लेइंग इलेवन - देवदत्त पडिक्कल, आरोन फिंच, विराट कोहली (c), एबी डीविलियर्स (wk), गुरकीरत सिंह मान, शिवम दुबे, वाशिंगटन सुंदर, इसुरु उदाना, नवदीप सैनी, एडम ज़म्पा, युजवेंद्र चहल।

बेंच - पार्थिव पटेल, मोईन अली, पवन नेगी, क्रिस मॉरिस, पवन देशपांडे, मोहम्मद सिराज, शाहबाज अहमद, डेल स्टेन, जोश फिलिप, उमेश यादव।

मुंबई इंडियंस -

प्लेइंग इलेवन - क्विंटन डी कॉक (wk), रोहित शर्मा (c), सूर्यकुमार यादव, ईशान किशन, हार्दिक पांड्या, कीरोन पोलार्ड, क्रुणाल पांड्या, जेम्स पैटिनसन, राहुल चाहर, ट्रेंट बोल्ट, जसप्रीत बुमराह।

बेंच - क्रिस लिन, आदित्य तारे, धवल कुलकर्णी, मिशेल मैक्कलेनाघन, नाथन कूल्टर नाइल, जयंत यादव, अनमोलप्रीत सिंह, अनुकूल रॉय, मोहसिन खान, शेरफेन रदरफोर्ड, दिग्विजय देशमुख, प्रिंस बलवंत राय, सौरभ तिवारी।

डिस्क्लेमर – आर्टिकल ऑनलाइन स्कोरकार्ड पर आधारित है। इसमें शीर्षक-उप शीर्षक और संबंधित अतिरिक्त प्रचलित जानकारी जोड़ी गई हैं। इस आर्टिकल में प्रकाशित तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co