आप विराट पर जिम्बाब्वे के खिलाफ खेलने का दबाव नहीं डाल सकते : सबा करीम

भारत के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज सैयद सबा करीम ने कहा है कि अपने खराब फॉर्म के बावजूद पूर्व कप्तान विराट कोहली भारत की टीम का अहम हिस्सा हैं।
आप विराट पर जिम्बाब्वे के खिलाफ खेलने का दबाव नहीं डाल सकते : करीम
आप विराट पर जिम्बाब्वे के खिलाफ खेलने का दबाव नहीं डाल सकते : करीमSocial Media

नई दिल्ली। भारत के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज, चयनकर्ता और बीसीसी के प्रबंधन अधिकारी रह चुके सैयद सबा करीम ने कहा है कि अपने खराब फॉर्म के बावजूद पूर्व कप्तान विराट कोहली भारत की टीम का अहम हिस्सा हैं और टीम प्रबंधन को उन्हें टी20 विश्व कप से पहले फॉर्म में लौटने के लिए योजनाबद्ध तरीके से संभालने की जरूरत है। ऐसा माना जा रहा है कि कोहली को 18 अगस्त से जिम्बाब्वे के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए टीम इंडिया में शामिल किया जाएगा, जिससे वह अपनी खोई फॉर्म हासिल कर सकें, लेकिन इस बात को लेकर लगातार बहस हो रही है कि क्या कोहली को जिम्बाब्वे के खिलाफ सीरीज खेलनी चाहिए। स्पोर्ट्स 18 के शो 'स्पोर्ट्स ओवर द टॉप' पर सबा ने कहा, पहले टीम प्रबंधन और चयनकर्ताओं को यह तय करना होगा कि टी20 विश्व कप की तैयारियों के लिए कोहली जरूरी हैं या नहीं, जब टीम प्रबंधन यह तय कर ले कि विराट टी20 विश्व कप तैयारियों का अहम हिस्सा हैं, तो मैं उनकी फॉर्म में वापसी का चार्ट तैयार कर सकता हूं।

कोहली ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में पिछला शतक प्राय: तीन साल पहले भारत में हुए बांग्लादेश के खिलाफ डेनाइट टेस्ट में लगाया था। मार्च 2020 से कोहली ने टी20 अंतर्राष्ट्रीय में 17 पारियों में 514 रन बनाए हैं, जहां उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 85 रन है। वहीं वनडे में उन्होंने 14 पारियों में 34.07 के औसत से मात्र 477 रन बनाए हैं, जिसमें 89 उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर है। बात अगर टेस्ट क्रिकेट की करें आंकड़े और भी खराब हो जाते हैं। 16 मैचों में 29.78 के औसत से मात्र 834 रन, जिसमें 79 उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर रहा।

सबा ने आगे कहा, मुझे लगता है तब सही समय होगा कि चयनकर्ता, कप्तान या प्रमुख कोच राहुल द्रविड़ इस मामले में कोहली से बात करें और इसे आगे बढ़ाएं। मैं कोहली पर किसी तरह का दबाव नहीं डालना चाहता। कोहली से हम यह नहीं कह सकते कि 'सुनो, तुमको जिम्बाब्वे के खिलाफ सीरीज खेलनी होगी, नहीं तो हम तुम्हें टी20 विश्व कप के लिए टीम में शामिल नहीं करेंगे।' उसके बाद ही इस बात का फैसला हो सकता है कि कोहली को जिम्बाब्वे के खिलाफ वनडे सीरीज खेलनी चाहिए या फिर उनका ब्रेक और बढ़ाया जाए, जिससे वह एशिया कप के लिए टीम इंडिया में वापसी करें।

सबा से जब पूछा कि अगर जिम्बाब्वे के खिलाफ सीरीज में वह अच्छा नहीं करते हैं तो क्या उन्हें इस प्रारूप से निकाला जाना चाहिए, तो उन्होंने कहा, अगर ऐसा होता है तो यह भारत के नजरिये से बहुत गलत होगा। ऐसा कभी मत करना। मुझे लगता है कि कोहली भारतीय लाइन अप का अहम अंग हैं। जिस तरह मैं देखता हूं और जिस तरह से रोहित शर्मा और द्रविड़ उनका समर्थन करते हैं तो यह मायने भी रखता है, क्योंकि वे जानते हैं कि कोहली फॉर्म में लौटेंगे और यह टीम की टी20 विश्व कप में सफलता के लिए बहुत अच्छा होगा। तो मुझे लगता है कोहली से बात करनी होगी, 'कुछ सामान्य चीज देखो और आगे बढ़ो।' उन्हें ऐसा जताओ कि वह भारतीय टीम का अहम हिस्सा हैं। टी20 विश्व कप के बाद कोई फैसला लेंं और दोबारा तब उनसे बात करें, क्योंकि पिछले कुछ सालों से कोहली ने सही समय पर ब्रेक लिया है। वहीं वह भारत के लिए तीनों प्रारूप खेले हैं। लेकिन टीम प्रबंंधन को उनके कार्य प्रबंधन को समझना होगा और सही समय पर उन्हें आराम देना होगा।

वहीं न्यूजीलैंड के पूर्व ऑलराउंडर स्कॉट स्टायरिस ने भी कोहली पर अपने विचार रखते हुए कहा, पहले तो मैं चयनकर्ताओं की सुनना चाहूंगा कि वे एक सामान्य टीम चुनते हैं या सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के साथ जाते हैं। यह देखना जरूरी है कि कैसे वह टीम को एक साथ रखते हैं। मैं कह सकता हूं कि बहुत समय है। काश मैं अपने चयनकर्ताओं से न्यूजीलैंड टीम को लेकर चर्चा कर पाता। तो मैं ये सुनना पसंद करूंगा लेकिन मैं आपके साथ सौ प्रतिशत हूं। मुझे लगता है कि कोहली को पूरा आराम दिया जाना चाहिए और तब वह वापसी करें। मुझे अभी भी लगता है कि वह टीम का अहम हिस्सा हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co