सचिन ने खुद किया था कप्तानी से इनकार, पूर्व सेलेक्टर ने बताया सच
सचिन ने खुद किया था कप्तानी से इनकार, पूर्व सेलेक्टर ने बताया सच|Social Media
खेल

सचिन ने खुद किया था कप्तानी से इनकार, पूर्व चीफ सेलेक्टर ने बताया सच

पूर्व दिग्गज सचिन तेंदुलकर की कप्तानी को लेकर पूर्व चीफ सेलेक्टर चंदू बोर्डे ने बताया कि तेंदुलकर खुद कप्तानी से दूर होना चाहते थे।

Ankit Dubey

राज एक्सप्रेस। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व दिग्गज सचिन तेंदुलकर की कप्तानी को लेकर पूर्व चीफ सेलेक्टर ने बताया कि सचिन तेंदुलकर खुद कप्तानी से दूर होना चाहते थे। सचिन तेंदुलकर के नाम क्रिकेट जगत में कई बड़े रिकॉर्ड कायम हैं, लेकिन उनकी कप्तानी का रिकॉर्ड कुछ खास नहीं रहा। सचिन तेंदुलकर ने साल 1996 से लेकर 2000 तक भारतीय टीम की कप्तानी की लेकिन उनके प्रदर्शन में भारतीय टीम को कई हार का सामना करना पड़ा था। सचिन की कप्तानी में भारत ने 52 मुकाबलों में हार का सामना किया था। उन्होंने 98 अंतर्राष्ट्रीय मुकाबलों में कप्तानी के दौरान काफी बुरा दौर देखा।

खराब रहा है सचिन का कप्तानी रिकॉर्ड

सचिन तेंदुलकर ने भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी 73 वनडे और 25 टेस्ट मुकाबलों में की है। दोनों ही प्रारूपों में सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड खास नहीं रहा। 73 वनडे में केवल 23 जीत और 25 टेस्ट मैचों में केवल 4 जीत, यह उनकी कप्तानी का काफी बुरा दौर था।

भारतीय क्रिकेट टीम के चीफ सेलेक्टर चंदू बोर्डे ने सचिन की कप्तानी को लेकर खुलासा किया है। उन्होंने कहा कि सचिन तेंदुलकर खुद कप्तानी छोड़ना चाहते थे, उन्होंने बताया कि सचिन तेंदुलकर को कप्तानी करने में दिलचस्पी नहीं थी। वह अपनी बल्लेबाजी पर ध्यान केंद्रित करना चाहते थे।

चीफ सेलेक्टर चंदू बोर्डे ने किया यह खुलासा

चीफ सेलेक्टर चंदू बोर्डे स्पोर्ट्सकीड़ा से बात कर रहे थे, इस बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि सचिन ने खुद आकर कहा था कि उन्हें कप्तानी से हटा दिया जाए, हमने उन्हें कप्तानी के तौर पर ऑस्ट्रेलिया भेजा था, जब सचिन लौटकर आए, तो उन्होंने कप्तानी नहीं करने को कहा।

उन्होंने आगे बताया कि सचिन ने कहा था वह अपनी बल्लेबाजी पर फोकस करना चाहते हैं, मैंने उनसे कहा था कि आप कुछ समय के लिए कप्तानी करें, क्योंकि हमें नए कप्तान की खोज करनी होगी।

हम भविष्य की ओर देख रहे थे

चीफ सेलेक्टर चंदू बोर्डे ने सचिन को लेकर यह भी कहा कि वह उनको कप्तान के रूप में देखना चाहते थे और वह भविष्य की ओर देख रहे थे, लेकिन फिर सचिन के कई बार मना करने के बाद चयन समिति ने सौरव गांगुली को नया कप्तान चुन लिया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co