स्वर्ण पदक के लिए उतरेंगे पंघल और मैरीकॉम सहित सात भारतीय मुक्केबाज
स्वर्ण पदक के लिए उतरेंगे पंघल और मैरीकॉम सहित सात भारतीय मुक्केबाजSocial Media

स्वर्ण पदक के लिए उतरेंगे पंघल और मैरीकॉम सहित सात भारतीय मुक्केबाज

अमित पंघल और एमसी मैरीकॉम सहित सात भारतीय मुक्केबाज 2021 एएसबीसी के अपने-अपने भार वर्ग के फाइनल में स्वर्ण पदक जीतने के इरादे से रविवार और सोमवार को उतरेंगे।

राज एक्सप्रेस। एशियाई चैम्पियशिप के मौजूदा विजेता भारत के अमित पंघल और छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकॉम सहित सात भारतीय मुक्केबाज 2021 एएसबीसी एशियाई महिला एवं पुरुष मुक्केबाजी चैंपियनशिप के अपने-अपने भार वर्ग के फाइनल में स्वर्ण पदक जीतने के इरादे से रविवार और सोमवार को उतरेंगे। प्रतियोगिता में शनिवार को विश्राम का दिन है। महिला फाइनल रविवार को और पुरुष फाइनल सोमवार को खेले जाएंगे।

भारत अब तक इस चैम्पियनशिप में 15 पदक सुरक्षित कर चुका है, जिसमें कम से कम सात रजत पदक शामिल हैं। यह इस चैम्पियनशिप में भारतीय दल का अब तक का सबसे अच्छा प्रदर्शन है। बैंकॉक में 2019 में आयोजित संस्करण से भारत ने कुल 13 पदक हासिल किए थे, जिनमें दो स्वर्ण, चार रजत और सात कांस्य पदक थे। भारत तीसरे स्थान पर रहा था।

मौजूदा एशियाई खेल चैम्पियन और टाप सीड पंघल का फाइनल में सामना मौजूदा ओलंपिक और विश्व चैंपियन उज्बेकिस्तान के शाखोबिदिन जोइरोव से सोमवार को होगा। साल 2019 के फाइनल में भी दोनों के बीच खिताबी भिड़ंत हुई थी। 64 किग्रा वर्ग के सेमीफाइनल में एशियाई चैम्पियनशिप में पांचवें पदक पर कब्जा जमा चुके शिवा थापा का सामना टाप सीड ताजिकिस्तान के बखोदुर उस्मोनोव से हुआ। थापा ने टाप सीड को चौंकाते हुए यह मुकाबला 4-0 से अपने नाम किया और अपने लिए कम से कम रजत पदक सुरक्षित कर लिया। 2013 में अम्मान में स्वर्ण और 2017 में ताशकंद में रजत जीत चुके थापा तीसरी बार फाइनल में पहुंचे हैं, जहां उनका दूसरी सीड और 2018 के एशियाई खेलों में रजत पदक जीतने वाले मंगोलिया के बारतासुख चिनजोरिग से मुकाबला होगा।

इस बीच दूसरी सीड संजीत (91) का फाइनल में पांच बार के एशियाई चैंपियनशिप पदक विजेता और रियो ओलम्पिक के रजत विजेता वैसिली लेविट से मुकाबला होगा। दूसरी सीड संजीत ने सेमीफाइनल में उज्बेकिस्तान के तुरसुनोव संजार को 5-0 से पराजित किया।

महिला वर्ग में , छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरी कॉम (51 किग्रा) तथा तीन और भारतीय महिला मुक्केबाजों पूजा रानी (75 किग्रा), अनुपमा (+81 किग्रा) और लालबुतसाही (64 किग्रा) ने फाइनल में जगह बना ली है। मैरीकॉम का फाइनल में मुकाबला कजाखस्तान की नाज़िम कीजैबे से होगा जबकि लालबुतसाही का सामना कजाखस्तान की मिलाना सफ्रानोवा से , पूजा का सामना उज्बेकिस्तान की मवलूदा मोवलोनोवा से और अनुपमा का सामना कजाखस्तान की लज्जत कुंजीबायेवा से होगा।

इंटरनेशनल बॉक्सिंग एसोसिएशन ( एआईबीए) ने एशिया के इस प्रतिष्ठित आयोजन के लिए 4,00,000 अमेरीकी डालर की पुरस्कार राशि आवंटित की है। पुरुषों और महिलाओं की श्रेणियों के स्वर्ण पदक विजेताओं को 10,000 अमेरीकी डालर से सम्मानित किया जाएगा, जबकि रजत और कांस्य पदक विजेताओं को क्रमश: 5,000 अमेरीकी डालर और 2,500 अमेरीकी डालर का पुरस्कार दिया जाएगा।

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co