शाहिद अफरीदी ने उठाए इमरान सरकार पर सवाल, बोले एकता की कमी है
शाहिद अफरीदी ने उठाए इमरान सरकार पर सवाल, बोले एकता की कमी है|Social Media
खेल

शाहिद अफरीदी ने उठाए इमरान सरकार पर सवाल, बोले एकता की कमी है

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व गेंदबाज शाहिद अफरीदी ने इमरान खान की सरकार पर सवाल उठाए हैं। जानें क्या कुछ कहा...

Ankit Dubey

राज एक्सप्रेस। पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व गेंदबाज शाहिद अफरीदी ने इमरान खान की सरकार पर सवाल उठाए हैं। शाहिद अफरीदी का मानना है कि इमरान खान की सरकार में एकता की बेहद कमी है और यह पूरा मुल्क देख रहा है। शाहिद अफरीदी कुछ दिन पूर्व कोरोना संक्रमित हो गए थे, लेकिन फिलहाल वह ठीक महसूस कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि, मैं पिछड़े इलाकों में जाकर गरीबों की मदद करने की कोशिश कर रहा था। तब कुछ मंत्री और सांसद उसी इलाके में छुट्टी मानने में लगे थे। शाहिद अफरीदी अपने फाउंडेशन की मदद से अक्सर लोगों की मदद करते देखे जाते हैं। उनके इमरान खान से भी पहले अच्छे रिश्ते थे, लेकिन अब वह बात नजर नहीं आती।

कोरोना संक्रमण से ठीक हो गए हैं शाहिद अफरीदी

शाहिद अफरीदी कोरोना संक्रमित हो गए थे और उनका टेस्ट 13 जून को करवाया गया था। जिसमें वह पॉजिटिव पाए गए थे। उन्होंने इसे लेकर कहा कि, मैं जानता था कि मैं इसका शिकार बन सकता हूं और वही हुआ, अब मैं बिल्कुल ठीक हूं। मैंने एकांतवास भी नहीं किया। 3 दिन बाद कमरे से बाहर आ गया। अभ्यास शुरू किया, इस बीमारी में सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखना जरूरी है, लेकिन इस को हावी नहीं होने देना चाहिए।

इमरान सरकार पर साधा निशाना

शाहिद अफरीदी ने इमरान सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि, वैश्विक महामारी तो बड़ी छोटी चीज है, यह तो चली जाएगी, हमारे देश में सबसे बड़ी दिक्कत गरीबी और बेरोजगारी की है, इससे कैसे निपटा जाएगा।

उन्होंने इस बातचीत में यह भी स्वीकार किया कि सरकार अहसास प्रोग्राम चला रही है, लेकिन लोगों को राशन पानी नहीं मिला। मैं कई इलाकों में लोगों की मदद के लिए गया, राशन बांटा, लेकिन मैंने देखा कि हमारे यहां ऐसे भी मंत्री है, जो छुट्टियां मनाने में लगे थे।

अच्छी नीयत होना जरूरी...

शाहिद अफरीदी ने इमरान खान पर निशाना साधते हुए कहा कि हमारे नेताओं को ऊपर वाले ने कुर्सी की ताकत दी है। यह लोग गरीबों की मदद नहीं करते, मेरे पास तो कुर्सी नहीं है, बस अच्छी नीयत जरूरी होती है। अब ऐसा करने वालों को ऊपर वाले के सामने और यहां भी जवाब देना होगा।

आपको बता दें कि एक साक्षात्कार के दौरान शाहिद अफरीदी ने यह सारी बातें कही हैं, उन्होंने इस दौरान यह भी कहा कि मुझे कुर्सी नहीं चाहिए, मैं फिलहाल सियासत में नहीं आना चाहता। इमरान खान की सरकार में एकता की कमी है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co