सचिन-विराट की तुलना पर शोएब अख्तर और गौतम गंभीर की सहमति
सचिन-विराट की तुलना पर शोएब अख्तर और गौतम गंभीर की सहमति|Ankit Dubey -RE
खेल

सचिन-विराट की तुलना पर शोएब अख्तर और गौतम गंभीर की सहमति

भारतीय क्रिकेट टीम के मौजूदा कप्तान विराट कोहली और सचिन तेंदुलकर की तुलना अक्सर की जाती है, जानें अख्तर और गंभीर किस बात से सहमत...

Ankit Dubey

राज एक्सप्रेस। भारतीय क्रिकेट टीम के मौजूदा कप्तान विराट कोहली और सचिन तेंदुलकर की तुलना अक्सर की जाती है। दोनों में से एक क्रिकेट जगत के महान खिलाड़ी हैं और एक रह चुके है। वह विश्व क्रिकेट में महान रिकार्डों को अपने नाम करने के लिए जाने जाते हैं। इसे लेकर गौतम गंभीर और शोएब अख्तर ने एक राय पेश की है। शोएब अख्तर का मानना है कि सचिन तेंदुलकर की तुलना विराट कोहली से नहीं होनी चाहिए।

सचिन तेंदुलकर ने मुश्किल दौर में बल्लेबाजी की है, अगर वह इस दौर में बल्लेबाजी कर रहे होते तो, लाखों रन बना देते। इसके अलावा पूर्व भारतीय बल्लेबाज गौतम गंभीर ने भी सचिन तेंदुलकर को विराट कोहली से बड़ा बल्लेबाज माना है।

शोएब अख्तर ने दिया यह बयान

शोएब अख्तर ने हेलो एप पर लाइव बातचीत के दौरान कहा कि सचिन ने दिग्गज टीमों और बड़े गेंदबाजों के खिलाफ अच्छा खेला है, इसलिए मेरी नजर में वह कोहली से आगे हैं। सचिन ने मुश्किल दौर में बल्लेबाजी की है, यदि उन्हें आज मौका मिलता तो वह 1 लाख 30 हजार रन बना लेते, इसलिए मेरा मानना है कि सचिन और विराट की तुलना नहीं होनी चाहिए।

शोएब अख्तर द्वारा इस बातचीत के दौरान एक पुराना किस्सा भी सुनाया गया, उन्होंने कहा कि साल 2003 वर्ल्ड कप में सचिन तेंदुलकर बल्लेबाजी कर रहे थे, जहां वह 98 का रन पर खेल रहे थे और वह आउट हो गए, इसे लेकर मैं काफी दुखी था, मैं चाहता था कि उनका शतक बन जाए, वह पारी सचिन के लिए खास थी।

गौतम गंभीर ने भी माना था सचिन को बेहतर

इसी मुद्दे को लेकर गौतम गंभीर भी सहमत नजर आए, स्टार स्पोर्ट्स के कार्यक्रम में बात कर रहे गंभीर ने कहा कि सचिन वनडे में सबसे सफल खिलाड़ी थे, क्योंकि पिछले समय में 30 गज के घेरे में 4 खिलाड़ी हुआ करते थे और सिर्फ 1 गेंद का इस्तेमाल किया जाता था। विराट ने भी शानदार प्रदर्शन किया है, लेकिन मेरा मानना है कि समय के साथ नियम में बदलाव के चलते बल्लेबाजों को इसका फायदा मिला है।

उन्होंने आगे कहा कि मौजूदा समय में वनडे की एक पारी में 2 गेंद मिलती हैं, 30 गज के घेरे में पांच खिलाड़ी रहते हैं, इसका फायदा काफी होता है।

पहले और अब का समय कुछ और था

गौतम गंभीर ने आगे कहा कि यदि हम समय और नतीजों को देखें तो सचिन बेस्ट हैं। सचिन ने पुराने नियमों के साथ खेला, उस दौरान 230 से 240 रन का स्कोर बड़ा होता था, जबकि आज 300 से ज्यादा का स्कोर भी सुरक्षित नहीं होता।

आपको बता दें कि सचिन और विराट कोहली के नाम कई बड़े रिकॉर्ड हैं, सचिन तेंदुलकर ने क्रिकेट जगत में 100 शतक जमाए हैं, जबकि विराट कोहली अब तक 70 शतक जमा चुके हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co