श्रीकांत और सिंधू दूसरे दौर में, विश्व चैंपियन लोह की संघर्षपूर्ण जीत
श्रीकांत और सिंधू दूसरे दौर में, विश्व चैंपियन लोह की संघर्षपूर्ण जीतSocial Media

श्रीकांत और सिंधू दूसरे दौर में, विश्व चैंपियन लोह की संघर्षपूर्ण जीत

किदाम्बी श्रीकांत और पीवी सिंधू ने इंडिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट में अपने अभियान की विजयी शुरुआत करते हुए मंगलवार को दूसरे दौर में जगह बना ली।

नई दिल्ली। शीर्ष वरीयता प्राप्त किदाम्बी श्रीकांत और पीवी सिंधू ने इंडिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट में अपने अभियान की विजयी शुरुआत करते हुए मंगलवार को दूसरे दौर में जगह बना ली जबकि विश्व चैंपियन सिंगापुर के लोह कीन यू को पहले दौर में जीत हासिल करने के लिए तीन गेमों तक जूझना पड़ा।

यहां इंदिरा गांधी स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स के केडी जाधव इंडोर हाल में खेले जा रहे सत्र के इस पहले टूर्नामेंट में विश्व चैंपियनशिप के रजत विजेता श्रीकांत ने हमवतन सिरिल वर्मा को 34 मिनट में 21-17 21-10 से हराकर दूसरे दौर में स्थान बना लिया जहां उनका मुकाबला डेनमार्क के किम ब्रुन से होगा। पुरुष वर्ग में विश्व चैंपियन लोह ने कनाडा के जियायोडोंग शेंग को 50 मिनट में 16-21, 21-4, 21-13 से पराजित किया। लोह का अगला मुकाबला मलेशिया के सूंग जू वेन से होगा। एक अन्य मुकाबले में समीर वर्मा ने सौरभ वर्मा को 21-7, 21-7 से पराजित कर दिया।

महिला वर्ग में टॉप सीड और ओलम्पिक की कांस्य विजेता सिंधू ने हमवतन श्रीकृष्ण प्रिया कुदरावल्ली को मात्र 27 मिनट में 21-17 21-10 से शिकस्त दी। सिंधू दूसरे दौर में हमवतन इरा शर्मा से भिड़ेंगीं। इस बीच भारत की अश्मिता चालिहा ने पहला बड़ा उलटफेर करते हुए शुरुआती दौर में पांचवीं वरीयता प्राप्त रूसी खिलाड़ी एवगेनिया कोसेतस्काया को 24-22, 21-16 से हरा दिया। चालिहा ने शुरुआत से ही पकड़ बना ली। उन्होंने लाइन स्मैश का इस्तेमाल कर शुरुआती गेम में 11-5 की बढ़त हासिल की और रूसी खिलाड़ी के खिलाफ सहज दिखीं। ब्रेक के बाद हालांकि, उन्होंने बहुत सारी गलतियां की और कोसेतस्काया को वापसी करने का मौका दिया। कोसेतस्काया ने गेम में वापसी करते हुए स्कोर को 14-14 पहुंचा दिया। लेकिन गुवाहाटी की रहने वाली चालिहा अंत में गेम जीतने में सफल रहीं।

चालिहा, जो 2019 में खेले गए अपने पहले के मुकाबले में रूसी खिलाड़ी से हार गईं थीं। उन्होंने इस बार रूसी खिलाड़ी को गलतियां करने पर मजबूर किया और फिर दो गेम प्वाइंट बचाकर गेम अपने नाम किया। दूसरा गेम भी पहले की तरह ही रहा, जहां चालिहा ने 11-4 की बढ़त बनाकर केवल रूसी खिलाड़ी को वापसी का मौका दिया। भारतीय खिलाड़ी हालांकि, इस बार अधिक नियंत्रण में थी और उन्होंने 31 मिनट में मैच को खत्म कर दिया। मैच के बाद उन्होंने कहा, मैंने पिछले कुछ वर्षों में ज्यादा मैच नहीं खेले हैं। इसलिए मैं नर्वस थी, जिससे मैं शुरुआती गेम के बीच प्रभावित हुई, लेकिन एक बार जब मैंने पहला गेम जीत लिया, तो मैं आश्वस्त थी। इसलिए मैं दूसरे मैच में सहज थी। अब उनका सामना फ्रांस की येले होयॉक्स से होगा, जिन्होंने भारत की रिया मुखर्जी को 31 मिनट में 21-14 21-13 से हराया।

एक अन्य मुकाबले में के साई प्रतीक और गायत्री गोपीचंद ने ईशान भटनागर और तनीषा कास्त्रो को 21-16, 16-21, 21-17 से हराया, जबकि पुरुष युगल में शीर्ष वरीयता प्राप्त मोहम्मद एहसान और हेंड्रा सेतियावान ने भी अपने अभियान की शुरुआत जीत के साथ की। उन्होंने भारत के प्रेम सिंह चौहान और राजेश वर्मा को 21-18, 21-10 से हराया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co